Monday, July 15, 2024
Homeराजनीतिभाषण अरविंद केजरीवाल का, नारे मोदी-मोदी के… दिल्ली CM को हाथ जोड़ करनी पड़...

भाषण अरविंद केजरीवाल का, नारे मोदी-मोदी के… दिल्ली CM को हाथ जोड़ करनी पड़ गई विनती, वीडियो भी हो गया वायरल

सीएम केजरीवाल ने कहा कि इस देश में जनतंत्र है और बोलने का अधिकार सबको है। मैं किसी को गाली-गलौच नहीं कर रहा हूँ। मैं अच्छी बातें कर रहा हूँ। पसंद आए तो ठीक है, ना पसंद आए तो ना सही।" इसके बाद केजरीवाल जिंदाबाद के नारे लगने लगे। इस पर उन्होंने भीड़ को चुप रहने का इशारा किया और अपनी बात को आगे बढ़ाई।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने गुरुवार (8 जून 2023) को गुरु गोविंद सिंह इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी (GGSIPU) के ईस्ट दिल्ली कैंपस का उद्घाटन किया। इस दौरान जब वे लोगों को संबोधित करने लगे तो भीड़ ‘मोदी… मोदी…’ के नारे लगाने लगी। इससे सीएम केजरीवाल असहज हो गए और लोगों से कहा कि ‘ये सब बाद में कर लेना’।

मंच पर सीएम केजरीवाल के साथ उपराज्यपाल विनय कुमार सक्सेना (VK Saxena) और भाजपा सांसद गौतम गंभीर भी बैठे थे। इस दौरान सीएम केजरीवाल ने शिक्षा के क्षेत्र में अपनी सरकार की उपलब्धियों की बात कर रहे थे, तभी कुछ लोगों ने ‘मोदी… मोदी…’ के नारे लगाए।

इस दौरान मंच से हंगामा करने वालों को शांत कराने की कोशिश की गई, लेकिन ‘मोदी-मोदी’ के नारे गूंँजने लगे। इसके बाद सीएम केजरीवाल ने कहा, “काश, इन नारों से शिक्षा व्यवस्था अच्छी हो सकती तो 70 साल में बहुत हो गया होता। मुझे हाथ जोड़कर दोनों पार्टी (भाजपा और AAP) वालों से निवेदन है कि मेरी पाँच मिनट बातें सुन लो। अगर ना पसंद आए तो बाद में नारे लगा लेना।”

इस पर सीएम केजरीवाल ने लोगों के सामने हाथ भी जोड़े। उनके हाथ जोड़ने के बावजूद हंगामा होता रहा और लोग नारे लगाते रहे। इस दौरान अरविंद केजरीवाल माइक पकड़ चुपचाप खड़े रहे। इस बीच उनके समर्थक ‘अरविंद केजरीवाल जिंदाबाद’ के नारे लगाने लगे। कुछ देर बाद सब शांति हुई तो वे अपनी बात को आगे बढ़ाने लगे। इस बीच लोगों ने हंगामा कर दिया।

इस पर उन्होंने कहा, “अगर ऐसे डिस्टर्ब करेंगे तो हम बात ही नहीं कर सकते। हो सकता है कि आप लोगों को मेरे कुछ आयडियाज पसंद ना आएँ, हो सकता है कि आप लोगों को लगे कि केजरीवाल जो बोल रहा है वो सच नहीं है। ऐसा हो सकता है। आपसे विनती है कि मुझे कंप्लीट कर लेने दीजिए। किसी वक्ता के बीच में इस तरह बार-बार टिप्पणी करना, मुझे लगता है अच्छी बात नहीं है।”

सीएम केजरीवाल ने कहा कि इस देश में जनतंत्र है और बोलने का अधिकार सबको है। मैं किसी को गाली-गलौच नहीं कर रहा हूँ। मैं अच्छी बातें कर रहा हूँ। पसंद आए तो ठीक है, ना पसंद आए तो ना सही।” इसके बाद केजरीवाल जिंदाबाद के नारे लगने लगे। इस पर उन्होंने भीड़ को चुप रहने का इशारा किया और अपनी बात को आगे बढ़ाई।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

मात्र 2 किलोग्राम ही घटा अरविंद केजरीवाल का वजन, AAP कह रही – कोमा में चले जाएँगे, ब्रेन स्ट्रोक हो जाएगा: जेल प्रशासन ने...

10 मई को जब उन्हें जमानत पर रिहा किया गया, तब उनका वजन 64 किलो था। यानी, 1 महीने 10 दिन में अरविंद केजरीवाल का वजन मात्र 1 किलोग्राम घटा।

शराब घोटाले में दिल्ली CM के खिलाफ जाँच पूरी, अब ₹1100 करोड़ की प्रॉपर्टी कुर्क करने की तैयारी: रिपोर्ट में ED अधिकारी के हवाले...

शराब घोटाला मामले में प्रवर्तन निदेशालय ने दावा किया है कि उनकी इस केस में पार्टी के साथ-साथ अरविंद केजरीवाल के खिलाफ जाँच पूरी हो गई है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -