Thursday, January 20, 2022
Homeराजनीतिदिल्ली: गरीबों को AAP विधायक ने टरकाया, चुनाव हारने वाले तजिंदर बग्गा ने राशन...

दिल्ली: गरीबों को AAP विधायक ने टरकाया, चुनाव हारने वाले तजिंदर बग्गा ने राशन का किया इंतजाम

भगवती जोशी और रेखा नामक महिलाओं को क्रमशः 19 और 21 अप्रैल, 2020 को दिन के 11 बजे से 2 बजे के बीच डीएमएस स्कूल में आकर राशन लेने के लिए ई-कूपन दिया गया था। लेकिन, जब दोनों वहाँ पहुँचीं तो राशन नहीं मिला। इसके बाद एक्टिविस्ट अंकित गुप्ता ने विधायक को मैसेज किया, जहाँ से उन्हें नकारात्मक जवाब मिला।

भगवती जोशी और रेखा दिल्ली के हरि नगर विधानसभा क्षेत्र में रहती है। दोनों पर पॉंच लोगों के परिवार की पेट भरने की जिम्मेदारी है। लेकिन ये गरीब श्रमिक लॉकडाउन में राशन का इंतजाम कहॉं से करें? सहारा सरकार का ही बचता है। सरकारी सिस्टम ने राशन के लिए दोनों को ई-कूपन दे दिया। भगवती से 19 तो रेखा से 21 अप्रैल को दिन के 11 से 2 बजे के बीच आकर डीएमएस कॉलोनी से राशन ले जाने को भी कहा। लेकिन राशन नहीं दिया।

हद तो तब हो गई जब इनका दर्द स्थानीय विधायक राजकुमारी ढिल्लों तक पहुॅंचा और उन्होंने टके सा जवाब दिया- राशन है ही नहीं तो कहॉं से दें। ढिल्लों सत्ताधारी आम आदमी पार्टी की विधायक हैं। ऐसे गाढ़े वक्त में भगवती और रेखा के परिवार के काम आए तजिंदर बग्गा। उन्होंने दोनों परिवार तक राशन पहुॅंचाया।

दिलचस्प यह है कि कुछ महीने पहले हुए दिल्ली विधानसभा चुनाव में बीजेपी नेता बग्गा को हराकर ही ढिल्लों विधायक बनी थीं। पूरा वाकया सोशल मीडिया पर सामाजिक कार्यकर्ता अंकित गुप्ता ने साझा किया है। इस घटना ने लॉकडाउन के दौरान लाखों गरीबों को भोजन और राशन देने के केजरीवाल सरकार के दावों पर भी सवाल खड़े कर दिए हैं।

अंकित गुप्ता ने विधायक से मदद के लिए गुहार लगाई। उन्हें बताया कि इन दो परिवारों को राशन नहीं दिया गया है। दोनों के डिटेल्स भी उन्होंने विधायक ढिल्लों के व्हाट्सप्प पर भेजा। मदद के आश्वासन की बजाए हरि नगर की जनप्रतिनिधि ने बताया कि अभी डीएमएस स्कूल में राशन ही नहीं आया है। उन्होंने साफ़ कह दिया कि जब राशन है ही नहीं तो कहाँ से दे दें?

विधायक ढिल्लों ने गरीबों की मदद करने से किया इनकार

अंकित गुप्ता ने इस बात को सोशल मीडिया पर उठाया और कहा कि ऐसे ही लोग वोट पाकर सत्ता का दुरुपयोग करते हैं। उन्होंने कहा कि एक जीती हुई उम्मीदवार अपने क्षेत्र के लोगों की मदद नहीं कर पा रही, जबकि हारे हुए उम्मीदवार ने देश भर में हजारों तक सहायता पहुँचाई है।

तजिंदर बग्गा ने उपलब्ध कराई मदद

दिल्ली भाजपा के प्रवक्ता तजिंदर बग्गा को जैसे ही उनलोगों की समस्याओं के बारे में पता चला, उन्होंने तुरंत उन ज़रूरतमंद परिवारों के लिए राशन का इंतजाम कराया। ट्विटर पर उन्होंने सूचना देते हुए बताया कि उक्त परिवारों को राशन मुहैया करा दिया गया है। इधर राजकुमारी ढिल्लों ट्विटर पर स्कूलों में निःशुल्क भोजन दिए जाने की बात कह रही हैं, लेकिन उनके द्वारा शेयर किए गए किसी भी फोटो में ग़रीब खाते हुए नहीं दिख रहे हैं। सिर्फ़ स्कूल में बोर्ड लगा हुआ है। नीचे तस्वीर में आप देख सकते हैं कि तजिंदर बग्गा ने उक्त परिवारों तक राशन डिलीवर कराया:

तजिंदर बग्गा ने ज़रूरतमंद को मुहैया कराया राशन
तजिंदर बग्गा ने अपनी तरफ से भिजवाया राशन, विधायक ने किया निराश

तजिंदर बग्गा ने अपनी ‘दीदी’ स्मृति ईरानी की राह पर चलते हुए हार कर भी अपने विधानसभा क्षेत्र के लिए की गई घोषणाओं को पूरा करने का निश्चय किया और आज जब कोरोना वायरस आपदा के बीच लॉकडाउन चल रहा है, वो लगातार सोशल मीडिया के माध्यम से गरीबों की समस्याओं को सुन कर उनकी मदद करने में लगे हुए हैं। न सिर्फ़ दिल्ली बल्कि वो देश के अन्य कोने में भी लोगों को सहायता पहुँचा रहे हैं।

इससे पहले शायर राहत इंदौरी ने कुछ पीड़ितों के बारे में बताया था कि उनका परिवार काफ़ी परेशान है। परिवार में बच्चे भी हैं और राशन उपलब्ध नहीं है। उन्होंने राशन उपलब्ध कराने की गुहार लगाई थी। तजिंदर बग्गा ने जैसे ही इस ट्वीट को देखा, वो हरकत में आ गए। उन्होंने इंदौर के विधायक रमेश मेंदोला को टैग करते हुए राहत इंदौरी की मदद करने का निवेदन किया। इसके बाद परिवारों तक मदद पहुँची थी। बग्गा इसी तरह लोगों की मदद कर रहे हैं।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

भगवान विष्णु की पौराणिक कहानी से प्रेरित है अल्लू अर्जुन की नई हिंदी डब फिल्म, रिलीज को तैयार ‘Ala Vaikunthapurramuloo’

मेकर्स ने अल्लू अर्जुन की नई हिंदी डब फिल्म के टाइटल का मतलब बताया है, ताकि 'अला वैकुंठपुरमुलु' से अधिक से अधिक दर्शकों का जुड़ाव हो सके।

‘एक्सप्रेस प्रदेश’ बन रहा है यूपी, ग्रामीण इलाकों में भी 15000 Km सड़कें: CM योगी कुछ यूँ बदल रहे रोड इंफ्रास्ट्रक्चर

योगी सरकार ने ग्रामीण इलाकों में 5 वर्षों में 15,246 किलोमीटर सड़कों का निर्माण कराया। उत्तर प्रदेश में जल्द ही अब 6 एक्सप्रेसवे हो जाएँगे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
152,276FollowersFollow
413,000SubscribersSubscribe