Saturday, July 20, 2024
Homeराजनीति'सभी 75 जिलों में होगी FREE डायलिसिस की सुविधा': 76वें स्वतंत्रता दिवस पर CM...

‘सभी 75 जिलों में होगी FREE डायलिसिस की सुविधा’: 76वें स्वतंत्रता दिवस पर CM योगी का ऐलान, कुम्भ-काशी-अयोध्या पर भी बोले

"आज उत्तर प्रदेश सर्वाधिक टेस्ट, सर्वाधिक टीकाकरण व सर्वाधिक लोगों को निःशुल्क खाद्यान्न उपलब्ध कराने वाला राज्य है। सबसे बड़ी आबादी का राज्य होने के बावजूद हर जनपद में कोरोना टेस्ट की सुविधा को उपलब्ध कराने वाला राज्य भी है।"

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 76वें स्वतंत्रता दिवस पर विधान भवन पर ध्वजारोहण करने के बाद राज्य को सम्बोधित करते हुए न सिर्फ अपनी सरकार की सफलताओं को गिनाया, बल्कि अगले कई वर्षों का खाका भी जनता के समक्ष पेश किया। उन्होंने कहा कि आज का अवसर हम सभी के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण है, क्योंकि पूरा देश आजादी के 75 वर्ष की यात्रा का साक्षी बन रहा है। उन्होंने कहा कि आजादी के इन 75 वर्षों के आत्मावलोकन करने का सौभाग्य हम सभी को प्राप्त हो रहा है।

सीएम योगी ने कहा कई इन 75 वर्षों में इस देश ने एक लंबी यात्रा तय की है। उन्होंने महात्मा गाँधी को देश की आजादी की अगुवाई करने वाला और राष्ट्रपिता बताते हुए उन्हें शत-शत नमन किया। सीएम योगी ने वीर सैनिकों का स्मरण करते हुए अपनी बात शुरू की। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ‘आजादी के अमृत महोत्सव’ कार्यक्रम को आमजन से जोड़कर एक राष्ट्रीय उत्सव बनाया है और विगत 5 दिनों में इस राष्ट्रीय दिवस से जुड़ने का अवसर हम सभी को प्राप्त हुआ है।

बकौल सीएम योगी, जब सामूहिक रूप से हम टीम भावना के साथ कार्य करते हैं तो उसके बेहतर परिणाम भी देखने को मिलते हैं। कोरोना प्रबंधन में उत्तर प्रदेश के मॉडल को उन्होंने इसका सशक्त प्रमाण करार दिया। मुख्यमंत्री ने कहा कि आज उत्तर प्रदेश सर्वाधिक टेस्ट, सर्वाधिक टीकाकरण व सर्वाधिक लोगों को निःशुल्क खाद्यान्न उपलब्ध कराने वाला राज्य है। सबसे बड़ी आबादी का राज्य होने के बावजूद हर जनपद में कोरोना टेस्ट की सुविधा को उपलब्ध कराने वाला राज्य भी है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा, “प्रधानमंत्री ने ‘सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास और सबके प्रयास’ का मंत्र दिया। इसको अंगीकार करते हुए हमने प्रदेश में सर्वसमावेशी, सर्वस्पर्शी और समग्र विकास के लिए जिस कार्ययोजना को मजबूती के साथ आगे बढ़ाया है आज उसके परिणाम भी हमारे सामने हैं। आज उत्तर प्रदेश, देश व दुनिया में निवेश के ड्रीम डेस्टिनेशन के रूप में उभरा है। ‘ईज ऑफ डूइंग बिजनेस’ रैंकिंग में प्रदेश अग्रणी राज्यों में है। 2015-16 में यह 14वें स्थान पर था आज दूसरे स्थान पर है।”

सीएम योगी ने कहा कि प्रदेश की अर्थव्यवस्था का मुख्य आधार कृषि है, इसीलिए विगत 5 वर्ष में अन्नदाता किसानों के हितों के लिए अनेक कार्यक्रम चलाए गए। उन्होंने जानकारी दी कि साढ़े तीन लाख करोड़ रुपये डीबीटी के माध्यम से अन्नदाता किसानों के खातों में भेजे गए। उत्तर प्रदेश सरकार ने विभिन्न देशों के दूतावासों के साथ-साथ कई पेट्रोल पंपों के पास भी ODOP (वन डिस्ट्रिक्ट, वन प्रोडक्ट) सेंटर खोलने का निर्णय लिया है, ताकि राज्य के हस्तशिल्प कारीगरों को एक बड़ा बाजार मिले।

सीएम योगी ने कहा, “दिव्य और भव्य कुम्भ 2019 दुनिया के लिए आकर्षण का केंद्र बना था। काशी विश्वनाथ धाम की दिव्यता और भव्यता हम सभी के सामने हैं। इसी क्रम में अयोध्या में मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्रीराम के पावन धाम को विकसित करने की वृहद कार्ययोजना को आगे बढ़ाया गया है। ‘एक जनपद एक मेडिकल कॉलेज’ की दिशा में हम तेजी के साथ आगे बढ़े हैं। आने वाले समय में प्रदेश के सभी 75 जनपदों में निःशुल्क डायलिसिस सुविधा केंद्र यूपी सरकार प्रदान करने जा रही है। राज्य कर्मचारियों और उनके आश्रितों को कैशलेस चिकित्सा की सुविधा प्रदान की गई है।”

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

दिल्ली हाईकोर्ट ने शिव मंदिर के ध्वस्तीकरण को ठहराया जायज, बॉम्बे HC ने विशालगढ़ में बुलडोजर पर लगाया ब्रेक: मंदिर की याचिका रद्द, मुस्लिमों...

बॉम्बे हाईकोर्ट ने मकबूल अहमद मुजवर व अन्य की याचिका पर इंस्पेक्टर तक को तलब कर लिया। कहा - एक भी संरचना नहीं गिराई जाए। याचिका में 'शिवभक्तों' पर आरोप।

आरक्षण पर बांग्लादेश में हो रही हत्याएँ, सीख भारत के लिए: परिवार और जाति-विशेष से बाहर निकले रिजर्वेशन का जिन्न

बांग्लादेश में आरक्षण के खिलाफ छात्र सड़कों पर उतर आए हैं। वहाँ सेना को तैनात किया गया है। इससे भारत को सीख लेने की जरूरत है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -