Monday, July 22, 2024
Homeराजनीति'बकरीद पर बचेंगे तो मुहर्रम पर नाचेंगे': राहुल गाँधी की PM उम्मीदवारी पर खड़गे...

‘बकरीद पर बचेंगे तो मुहर्रम पर नाचेंगे’: राहुल गाँधी की PM उम्मीदवारी पर खड़गे का गोलमोल जवाब, BJP ने बताया मुस्लिमों का अपमान

खड़गे के बकरीद-मुहर्रम वाले बयान को भाजपा ने मुस्लिमों का अपमान करार दिया है। भाजपा प्रवक्ता शहजाद पूनावाला ने कहा कि मुहर्रम कोई जश्न नहीं है, बल्कि मातम है।

राज्यसभा में कॉन्ग्रेस के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे अब पार्टी का अध्यक्ष बनने जा रहे हैं। उन्होंने अपना नामांकन दाखिल कर दिया है और उन्हें गाँधी परिवार का समर्थन भी हासिल है। 2024 लोकसभा चुनाव में राहुल गाँधी की प्रधानमंत्री उम्मीदवारी को लेकर जब उनसे सवाल पूछा गया, तब उन्होंने गोलमोल जवाब दिया। मल्लिकार्जुन खड़गे भोपाल में प्रदेश कॉन्ग्रेस कमिटी में प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित कर रहे थे, तब उनसे ये सवाल पूछा गया था।

उन्होंने इसका जवाब देते हुए कहा, “बकरीद में बचेंगे तो मुहर्रम में नाचेंगे।” इस कहावत को कहने के पीछे उनका अर्थ था कि पहले संगठन के चुनाव हो जाएँ, फिर इस पर सोचा जाएगा। ऐसे में सवाल उठ रहे हैं कि क्या अब 2024 के लोकसभा चुनाव में राहुल गाँधी की प्रधानमंत्री उम्मीदवारी पर संशय है? या फिर पार्टी इसके लिए भी अध्यक्ष पद की तरह किसी वफादार नेता को आगे करेगी? राज्यसभा में मल्लिकार्जुन खड़गे नेता प्रतिपक्ष थे, जिससे उन्हें इस्तीफा दे दिया है।

कॉन्ग्रेस अध्यक्ष पद के लिए उनका सामना केरल के नेता शशि थरूर से है। मध्य प्रदेश में मल्लिकार्जुन खड़गे ने कॉन्ग्रेस पार्टी के प्रतिनिधियों से मुलाकात की और उनसे उनके पक्ष में वोट डालने की अपील की। उन्होंने कहा कि वो सामूहिक नेतृत्व में भरोसा रखते हैं। उन्होंने दावा किया कि गाँधी परिवार में किसी के अध्यक्ष बनने के लिए तैयार न होने के बाद पार्टी कार्यकर्ताओं और वरिष्ठ नेताओं की सलाह पर उन्होंने ये जिम्मेदारी उठाई है।

मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि उनकी पार्टी लोगों के अधिकारों के लिए लड़ेगी। शशि थरूर के सम्बन्ध में उन्होंने कहा कि दोनों में कोई अंतर नहीं है और सब मिल कर भाजपा के विरुद्ध लड़ेंगे। खड़गे के बकरीद-मुहर्रम वाले बयान को भाजपा ने मुस्लिमों का अपमान करार दिया है। भाजपा प्रवक्ता शहजाद पूनावाला ने कहा कि मुहर्रम कोई जश्न नहीं है, बल्कि मातम है। सोमवार (17 अक्टूबर, 2022) को कॉन्ग्रेस अध्यक्ष पद का चुनाव है और 19 को परिणाम जारी किए जाएँगे।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आम सैनिकों जैसी ड्यूटी, सेम वर्दी, भारतीय सेना में शामिल हो चुके हैं 1 लाख अग्निवीर: आरक्षण और नौकरी भी

भारतीय सेना में शामिल अग्निवीरों की संख्या 1 लाख के पार हो गई है, 50 हजार अग्निवीरों की भर्ती की जा रही है।

भारत के ओलंपिक खिलाड़ियों को मिला BCCI का साथ, जय शाह ने किया ₹8.50 करोड़ मदद का ऐलान: पेरिस में पदकों का रिकॉर्ड तोड़ने...

बीसीसीआई के सचिव जय शाह ने बताया कि ओलंपिक अभियान के लिए इंडियन ओलंपिक एसोसिएशन (IOA) को बीसीसीआई 8.5 करोड़ रुपए दे रही है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -