Monday, July 22, 2024
Homeराजनीतिसुबह इस्तीफा-शाम शपथ... मुख्यमंत्री पद छोड़ कर फिर से मुख्यमंत्री बने नीतीश कुमार: PM...

सुबह इस्तीफा-शाम शपथ… मुख्यमंत्री पद छोड़ कर फिर से मुख्यमंत्री बने नीतीश कुमार: PM मोदी बोले – लोगों की आकाँक्षाओं को पूरा करेगी NDA सरकार

मुख्यमंत्री और उप-मुख्यमंत्रियों के अलावा भाजपा की तरफ से डॉ प्रेम कुमार ने भी बिहार सरकार में मंत्री के तौर पर शपथ ली है। जदयू के कोटे से विजय चौधरी और श्रवण कुमार ने मंत्रिपद की शपथ ली है।

बिहार में तीन दिन से चल रही सियासी हलचल का रविवार (28 जनवरी, 2024) को अंत हो गया। जदयू सुप्रीमो नीतीश कुमार ने बिहार के मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ ले ली है। राजभवन में बिहार के राज्यपाल राजेन्द्र आर्लेकर ने उन्हें मुख्यमंत्री पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई।

नीतीश कुमार के साथ ही सरकार में शामिल हुई भाजपा के बिहार प्रदेश अध्यक्ष सम्राट चौधरी और विधायक विजय सिन्हा ने उप-मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली है। दोनों को भाजपा विधायक दल की तरफ से क्रमशः नेता एवं उपनेता चुना गया था। इनके अलावा कुछ मंत्रियों ने भी शपथ ली है। विजेंद्र यादव और सुमित सिंह राजपूत को भी मंत्री बनाया गया।

गठबंधन की सरकार में बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम माँझी की पार्टी ‘हिन्दुस्तानी आवाम मोर्चा’ (HAM) भी शामिल हुई है। मुख्यमंत्री और उप-मुख्यमंत्रियों के अलावा भाजपा की तरफ से डॉ प्रेम कुमार ने भी बिहार सरकार में मंत्री के तौर पर शपथ ली है। जदयू के कोटे से विजय चौधरी और श्रवण कुमार ने मंत्रिपद की शपथ ली है। जीतन राम माँझी के बेटे संतोष सुमन को भी मंत्री पद की शपथ दिलाई गई है। इसके अलावा निर्दलीय विधायक सुमित कुमार सिंह ने भी मंत्री पद की शपथ ली है।

नीतीश कुमार ने 9वीं बार मुख्यमंत्री पद की शपथ ली है। वह पहली बार वर्ष 2000 में बिहार के मुख्यमंत्री बने थे। लेकिन यह कार्यकाल मात्र 7 दिनों तक रहा था। इसके बाद वह वर्ष 2005 में सत्ता में आए थे। वह 2014 तक मुख्यमंत्री रहे थे। 2014 में लोकसभा चुनाव हारने के बाद उन्होंने इस्तीफ़ा दे दिया था। हालाँकि, 2015 में वह वापस से मुख्यमंत्री बन गए थे। तब से लगातार वह मुख्यमंत्री हैं। वह 2005 से अब तक भाजपा और राजद, दोनों के समर्थन से मुख्यमंत्री बन चुके हैं।

नीतीश कुमार के शपथ ग्रहण समारोह में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष JP नड्डा और लोजपा (रामविलास) के अध्यक्ष चिराग पासवान भी शामिल हुए। इसके अलावा बिहार के भी कई बड़े नेता भी इस शपथग्रहण समारोह में शामिल हुए। गौरतलब है कि नीतीश कुमार ने आज ही सुबह राजद की सरकार के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफ़ा दिया था। उन्होंने राज्यपाल को भंग करने की सिफारिश भी की थी। नीतीश कुमार ने इसके बाद भाजपा के समर्थन से सरकार बनाई है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी नई सरकार को बधाई देते हुए कहा, “बिहार में बनी NDA सरकार राज्य के विकास और यहाँ के लोगों की आकांक्षाओं को पूरा करने के लिए कोई कोर-कसर नहीं छोड़ेगी। नीतीश कुमार को मुख्यमंत्री और सम्राट चौधरी एवं विजय सिन्हा को उप-मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने पर मेरी बहुत-बहुत बधाई। मुझे विश्वास है कि यह टीम पूरे समर्पण भाव से राज्य के मेरे परिवारजनों की सेवा करेगी।”

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आम सैनिकों जैसी ड्यूटी, सेम वर्दी, भारतीय सेना में शामिल हो चुके हैं 1 लाख अग्निवीर: आरक्षण और नौकरी भी

भारतीय सेना में शामिल अग्निवीरों की संख्या 1 लाख के पार हो गई है, 50 हजार अग्निवीरों की भर्ती की जा रही है।

भारत के ओलंपिक खिलाड़ियों को मिला BCCI का साथ, जय शाह ने किया ₹8.50 करोड़ मदद का ऐलान: पेरिस में पदकों का रिकॉर्ड तोड़ने...

बीसीसीआई के सचिव जय शाह ने बताया कि ओलंपिक अभियान के लिए इंडियन ओलंपिक एसोसिएशन (IOA) को बीसीसीआई 8.5 करोड़ रुपए दे रही है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -