Monday, July 15, 2024
Homeराजनीतिसंसद का विशेष सत्र शुरू, बोले PM मोदी- यह ऐतिहासिक निर्णयों का सत्र: चंद्रयान...

संसद का विशेष सत्र शुरू, बोले PM मोदी- यह ऐतिहासिक निर्णयों का सत्र: चंद्रयान और G20 की सफलता का भी किया जिक्र

प्रधानमंत्री ने G20 की सफलता को भी अभूतपूर्व बताया। उन्होंने इसके आयोजन को संघीय ढाँचे का उत्तम उदारहण और विविधता के जश्न के तौर पर बताया। उन्होंने G20 में सर्वसम्मति से घोषणा-पत्र तैयार होने को भारत के उज्ज्वल भविष्य का संकेत बताया।

संसद का विशेष सत्र आज (18 सितंबर 2023) से शुरू हो गया है। यह सत्र 22 सितंबर तक चलेगा। सत्र की शुरुआत से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मीडिया से बात की। इस दौरान उन्होंने यह कहकर बड़े संकेत दिए कि इस सत्र में ऐतिहासिक निर्णय होंगे।

संसद के विशेष सत्र पर बोलते हुए प्रधानमंत्री ने कहा, “संसद का यह सत्र छोटा है, लेकिन समय के हिसाब से यह बहुत बड़ा है, ऐतिहासिक निर्णयों का यह सत्र है। इस सत्र की एक विशेषता है अब तक कि 75 वर्षों की यात्रा एक नए मुकाम से आरम्भ हो रही है।”

इस दौरान उन्होंने चंद्रयान -3 की सफलता पर भी बात की। प्रधानमंत्री ने कहा कि जब ऐसे मिशन सफल होते हैं तो उससे अनेकों संभावनाएँ खुलती हैं। प्रधानमंत्री के साथ इस दौरान पीएमओ में मंत्री जितेन्द्र सिंह और संसदीय कार्य मंत्री प्रहलाद जोशी भी थे।

प्रधानमंत्री ने G20 की सफलता को भी अभूतपूर्व बताया। उन्होंने इसके आयोजन को संघीय ढाँचे का उत्तम उदारहण और विविधता के जश्न के तौर पर बताया। उन्होंने G20 में सर्वसम्मति से घोषणा-पत्र तैयार होने को भारत के उज्ज्वल भविष्य का संकेत बताया।

देश को 2047 तक विकसित बनाने का संकल्प भी प्रधानमंत्री ने दोहराया। उन्होंने कहा, “सभी सांसदों को अधिकाधिक समय मिले, उमंग और उत्साह के वातावरण में मिले। रोने-धोने के लिए बहुत समय होता है, करते रहिए। जीवन में कुछ पल ऐसे होते हैं जो उमंग और विश्वास भर देते हैं। मैं आशा करता हूँ कि पुरानी बुराइयों को छोड़ कर और उत्तम से उत्तम अच्छाइयों को साथ लेकर नए संसद भवन में प्रवेश करेंगे।”

प्रधानमंत्री ने गणेश चतुर्थी का संदर्भ देते हुए बताया कि गणेश जी विघ्नहर्ता माने जाते हैं इसलिए भारत की विकास यात्रा में कोई विघ्न नहीं रहेगा। गणेश चतुर्थी के दिन यह प्रस्थान नव भारत के सभी सपनों को चरितार्थ करने वाला बनेगा। उल्लेखनीय है कि नए संसद भवन में कामकाज गणेश चतुर्थी पर 19 सितंबर से शुरू होगा।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

कॉन्ग्रेस के चुनावी चोचले ने KSRTC का भट्टा बिठाया, ₹295 करोड़ का घाटा: पहले महिलाओं के लिए बस सेवा फ्री, अब 15-20% किराया बढ़ाने...

कर्नाटक में फ्री बस सेवा देने का वादा करना कॉन्ग्रेस के लिए आसान था लेकिन इसे लागू करना कठिन। यही वजह है कि KSRTC करोड़ों के नुकसान में है।

‘बैकफुट पर आने की जरूरत नहीं, 2027 भी जीतेंगे’: लोकसभा चुनावों के बाद हुई पार्टी की पहली बैठक में CM योगी ने भरा जोश,...

लोकसभा चुनावों के बाद पहली बार भाजपा प्रदेश कार्यसमिति की लखनऊ में आयोजित बैठक में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कार्यकर्ताओं में जोश भरा।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -