Monday, July 22, 2024
Homeराजनीति26/11 बलिदानियों को श्रद्धांजलि, संविधान से लेकर शादी पर बात: PM मोदी ने 'वोकल...

26/11 बलिदानियों को श्रद्धांजलि, संविधान से लेकर शादी पर बात: PM मोदी ने ‘वोकल फॉर लोकल’ पर कहा- इस बार हुआ ₹4 लाख करोड़ का कारोबार

पीएम मोदी ने संविधान दिवस की बधाई देते हुए इससे जुड़े फैक्ट्स बताए और जानकारी दी कि कैसे संविधान को अंतिम रूप देने से पहले उसमें 2000 से ज्यादा संशोधन किए गए थे। इसके अलावा अब तक सभी सरकारों ने अपने हिसाब से 106 बार संशोधन किया है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज (26 नवंबर 2023) मन की बात के 107 वें एपिसोड को संबोधित किया। इस एपिसोड की शुरुआत में पहले उन्होंने 26/11 के बलिदानियों को श्रद्धांजलि दी। इसके बाद संविधान दिवस की देश को बधाई देते हुए इस बात पर खुशी जताई कि आजकल लोग स्वदेशी सामान खरीदने में उत्साह दिखा रहे हैं।

उन्होंने कहा, “आज 26 नवंबर की तारीख है, जिसे कभी भूला नहीं जा सकता है। आज के दिन ही हमारे देश पर सबसे जघन्य आतंकी हमला हुआ। आतंकियों ने मुंबई समेत पूरे देश को हिला दिया था। ये भारत का सामर्थ्य है कि हम उस हमले से उबरे और आज आतंक को कुचल रहे हैं।”

आगे पीएम मोदी ने संविधान दिवस की बधाई देते हुए इससे जुड़े फैक्ट्स बताए और जानकारी दी कि कैसे संविधान को अंतिम रूप देने से पहले उसमें 2000 से ज्यादा संशोधन किए गए थे। इसके अलावा अब तक सभी सरकारों ने अपने हिसाब से 106 बार संशोधन किया है।

उन्होंने कहा कि दुर्भाग्य की बात ये है कि संविधान का पहला संशोधन ‘बोलने की आजादी’ और ‘अभिव्यक्ति की आजादी’ में कटौती करने के लिए हुआ था। इसी तरह 44वें संशोधन के जरिए आपातकाल के समय हुई गलतियों को सुधारा गया था। वह बोले कि ये भी बड़ी प्रेरक बात है कि संविधान सभा के कुछ सदस्य मनोनीत किए गए थे, जिसमें से 15 महिलाएँ थीं।

पीएम ने इस बात पर खुशी जताई कि पिछले महीने जो उन्होंने मन की बात वोकल फॉर लोकल होने पर जोर दिया था उसका असर दीवाली पर देखने को मिला। नतीजतन बीते कुछ दिनों के भीतर ही दिवाली, भैया दूज और छठ पर देश में चार लाख करोड़ से ज्यादा का कारोबार हुआ है। और इस दौरान भारत में बने उत्पादों को खरीदने का जबरदस्त उत्साह लोगों में देखा गया। वह बोले कि आजकल घर के बच्चे भी दुकान पर खरीदते समय यह देखते हैं कि उसपर मेड इन इंडिया लिखा है या नहीं।

इसके बाद पीएम मोदी ने इस मन की बात में एक विषय जो उठाया वो विदेश जाकर शादी करने का है। उन्होंने कहा कि विदेशों में जाकर शादी करने का जो नया ट्रेंड बन रहा है क्या वो जरूरी है। भारत की मिट्टी, यहाँ के लोगों के बीच अगर शादियाँ होंगी तो देश का पैसा देश में रहेगा। देश के लोग ही सेवा करेंगे। छोटे-छोटे गरीब लोग भी अपने बच्चों को शादी की बातें बताएँगे।

पीएम ने देश में बढ़ रही डिजिटल पेमेंट की माँग को भी सराहा। इसके साथ उन्होंने देश के युवाओं के इंटेलिजेंस, आइडिया और इनोवेशन पर लोगों का ध्यान केंद्रित कराया और कहा कि 2022 में भारत के पेटेंट आवेदन में 31 फीसदी से ज्यादा बढ़ोतरी हुई है। पीएम ने मन की बात में ‘जल सुरक्षा’ पर चर्चा की और कहा जल संरक्षण करना जीवन को बचाने से कम नहीं है।

प्रधानमंत्री ने ‘मन की बात’ में झारखण्ड, ओडिशा और बंगाल के जन-जातीय इलाकों में एक बहुत प्रसिद्ध नृत्य छऊ का जिक्र किया। और फिर तमिलनाडु के कोयम्बटूर में रहने वाले लोगानाथन का जिक्र किया और बताया कि कैसे वो बचपन में गरीब बच्चों के फटे कपड़ों को देखकर वे अक्सर परेशान हो जाते थे। इसके बाद उन्होंने ऐसे बच्चों की मदद का प्रण लिया और अपनी कमाई का एक हिस्सा इन्हें दान देना शुरू कर दिया। जब पैसे की कमी पड़ी तो लोगानाथन जी ने Toilets तक साफ़ किए, ताकि जरूरतमंद बच्चों की मदद हो सके।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आम सैनिकों जैसी ड्यूटी, सेम वर्दी, भारतीय सेना में शामिल हो चुके हैं 1 लाख अग्निवीर: आरक्षण और नौकरी भी

भारतीय सेना में शामिल अग्निवीरों की संख्या 1 लाख के पार हो गई है, 50 हजार अग्निवीरों की भर्ती की जा रही है।

भारत के ओलंपिक खिलाड़ियों को मिला BCCI का साथ, जय शाह ने किया ₹8.50 करोड़ मदद का ऐलान: पेरिस में पदकों का रिकॉर्ड तोड़ने...

बीसीसीआई के सचिव जय शाह ने बताया कि ओलंपिक अभियान के लिए इंडियन ओलंपिक एसोसिएशन (IOA) को बीसीसीआई 8.5 करोड़ रुपए दे रही है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -