Thursday, July 25, 2024
Homeराजनीति'उन्हें लगता है मुफ्त की रेवड़ी बाँट कर जनता को खरीद लेंगे': बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे...

‘उन्हें लगता है मुफ्त की रेवड़ी बाँट कर जनता को खरीद लेंगे’: बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे का उद्घाटन कर बोले PM – ये मोदी है, ये योगी है…

"बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे को हरा-भरा बनाने हेतु इसके दोनों किनारों पर 7 लाख पौधे लगाए जाएँगे। UP के 7 जिलों से गुजरने वाला यह एक्सप्रेसवे आवागमन में सुधार करने के साथ ही पर्यावरण संरक्षण की दिशा में भी सहायक सिद्ध होगा।"

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज 16 जुलाई 2022 (शनिवार) को उत्तर प्रदेश के बुंदेलखंड के दौरे पर हैं। इस अवसर पर उन्होंने बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे का उद्घाटन किया। UP के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जालौन जिले में उनका स्वागत किया। इस दौरान मुख्यमंत्री योगी ने मंच पर प्रधानमंत्री को सूर्य मंदिर पर आधारित स्मृति चिन्ह दिया।

जालौन में हुई जनसभा के दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने बुंदेलखंड के इतिहास को याद दिलाया। उन्होंने लोगों को सम्बोधित करते हुए कहा, “जिस धरती ने अनगिनत शूरवीर पैदा किए। जहाँ के खून में भारतभक्ति बहती है। जहाँ के बेटे-बेटियों के पराक्रम और परिश्रम ने हमेशा देश का नाम रौशन किया है। उस बुंदेलखंड की धरती को आज एक्सप्रेसवे का ये उपहार देते हुए मुझे विशेष खुशी मिल रही है।”

पीएम मोदी ने कहा, “रेवड़ी कल्चर वाले कभी आपके लिए नए एक्सप्रेसवे नहीं बनाएँगे , नए एयरपोर्ट या डिफेंस कॉरिडोर नहीं बनाएँगे। रेवड़ी कल्चर वालों को लगता है कि जनता जनार्दन को मुफ्त की रेवड़ी बांटकर, उन्हें खरीद लेंगे। हमें मिलकर उनकी इस सोच को हराना है, रेवड़ी कल्चर को देश की राजनीति से हटाना है। एक समय था जब माना जाता था कि यातायात के आधुनिक साधनों पर पहला अधिकार सिर्फ बड़े-बड़े शहरों का ही है। लेकिन अब सरकार भी बदली है, मिजाज भी बदला है। ये मोदी है, ये योगी है। पुरानी सोच को पीछे छोड़कर, हम एक नए तरीके से आगे बढ़ रहे हैं।”

एक्सप्रेसवे बन जाने के बाद उन्होंने उस से हुए भौगोलिक परिवर्तन की भी जानकारी दी। उन्होंने कहा, “बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे से चित्रकूट से दिल्ली की दूरी तो 3-4 घंटे कम हुई ही है, लेकिन इसका लाभ इससे भी कहीं ज्यादा है। ये एक्सप्रेसवे यहां सिर्फ वाहनों को गति नहीं देगा, बल्कि ये पूरे बुंदेलखंड की औद्योगिक प्रगति को गति देगा।”

प्रधानमंत्री ने आगे कहा, “देश विकास की नई ऊँचाईयों को छू रहा है और 296 किलोमीटर लम्बा बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे उसी विकास का एक हिस्सा है।” प्रधानमंत्री मोदी ने उत्तर प्रदेश से अपना पुराना रिश्ता बताया।

वहीं UP के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस एक्सप्रेसवे को बुंदेलखंड के लिए कई मायनों में फायदेमंद बताया। उन्होंने लिखा, “इस एक्सप्रेस-वे से प्रदेश को आर्थिक मजबूती तो प्राप्त होगी ही, वीर भूमि बुंदेलखंड क्षेत्र की सांस्कृतिक विरासत भी समृद्ध होगी। वहां पर्यटन की अपार संभावनाओं को विस्तार मिलेगा।”

योगी ने आगे कहा, “बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे को हरा-भरा बनाने हेतु इसके दोनों किनारों पर 7 लाख पौधे लगाए जाएँगे। UP के 7 जिलों से गुजरने वाला यह एक्सप्रेसवे आवागमन में सुधार करने के साथ ही पर्यावरण संरक्षण की दिशा में भी सहायक सिद्ध होगा।”

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘तुमलोग वापस भारत भागो’: कनाडा में अब सांसद को ही धमकी दे रहा खालिस्तानी पन्नू, हिन्दू मंदिर पर हमले का विरोध करने पर भड़का

आर्य ने कहा है कि हमारे कनाडाई चार्टर ऑफ राइट्स में दी गई स्वतंत्रता का गलत इस्तेमाल करते हुए खालिस्तानी कनाडा की धरती में जहर बोते हुए इसे गंदा कर रहे हैं।

मुजफ्फरनगर में नेम-प्लेट लगाने वाले आदेश के समर्थन में काँवड़िए, सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद बोले – ‘हमारा तो धर्म भ्रष्ट हो गया...

एक कावँड़िए ने कहा कि अगर नेम-प्लेट होता तो कम से कम ये तो साफ हो जाता कि जो भोजन वो कर रहे हैं, वो शाका हारी है या माँसाहारी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -