Tuesday, July 23, 2024
Homeराजनीतिप्रियंका गाँधी ने पकाया जला हुआ करिया-करिया डोसा, कॉन्ग्रेस ने वीडियो एडिट कर लिखा...

प्रियंका गाँधी ने पकाया जला हुआ करिया-करिया डोसा, कॉन्ग्रेस ने वीडियो एडिट कर लिखा – ‘कुशल हाथ, परफेक्ट डोसा’: पूरा वीडियो आया तो खुल गई पोल

समाचार एजेंसी 'Asianet Newsable' के ट्विटर हैंडल पर इसका पूरा वीडियो देखा जा सकता है। इसमें प्रियंका गाँधी पुलिसकर्मियों और अपने सरकारी सुरक्षाकर्मियों के साथ होटल में घुसती हैं।

कर्नाटक में विधानसभा चुनाव होने हैं, ऐसे में सभी पार्टियाँ चुनाव प्रचार में अपनी पूरी ताकत झोंक रही है। इसी बीच कॉन्ग्रेस पार्टी ने प्रियंका गाँधी का एक वीडियो शेयर किया है, जिसमें वो डोसा बनाती दिख रही हैं। पार्टी ने कैप्शन में लिखा, “परफेक्ट डोसा तो बस एक शुरुआत है। ऐसे कुशल हाथों से दुनिया में कितनी शक्ति लाई जा सकती है – इसकी कोई सीमा नहीं है।” हालाँकि, कॉन्ग्रेस ने जो वीडियो शेयर किया वो ट्रिम किया हुआ छोटा वीडियो था।

पूरे वीडियो में कुछ और ही किस्सा नजर आता है। कॉन्ग्रेस पार्टी ने वीडियो का साउंड म्यूट कर के बैकग्राउंड में म्यूजिक लगा कर इसे पोस्ट किया। इसमें प्रियंका गाँधी को तवा पर डोसा बनने के लिए घोल रखते हुए देखा जा सकता है। एक और कुक इसमें उनकी मदद करता हुआ दिखता है। इसके बाद प्रियंका गाँधी डोसा को मोड़ कर रख देती हैं, उसे पलट कर नहीं सेंकती हैं। ये वीडियो मैसूर के ‘Mylari होटल’ का है। उन्होंने वहीं पर नाश्ते में मसाला डोसा और इडली लिया।

समाचार एजेंसी ‘Asianet Newsable’ के ट्विटर हैंडल पर इसका पूरा वीडियो देखा जा सकता है। इसमें प्रियंका गाँधी पुलिसकर्मियों और अपने सरकारी सुरक्षाकर्मियों के साथ होटल में घुसती हैं। उनके साथ कर्नाटक कॉन्ग्रेस के अध्यक्ष डीके शिवकुमार और पार्टी प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला भी नाश्ता करते दिख रहे हैं। इस वीडियो में 3 मिनट के बाद देखा जा सकता है कि प्रियंका गाँधी ने पूरे डोसे को जला डाला। एक भी डोसा अच्छा नहीं लगा।

प्रियंका गाँधी द्वारा बनाए गए डोसों का रंग भी काला-काला सा नजर आ रहा है। उनके साथ जो कुक था, उसने डोसों को पलट-पलट कर उन्हें पकाना सिखाया। जबकि कॉन्ग्रेस ने इसका एडिटेड वीडियो शेयर कर के ‘कुशल हाथ’ वका कैप्शन लिख डाला। प्रियंका गाँधी इस वीडियो में कुक के साथ हँसी-मजाक करती हुई भी दिख रही हैं। बता दें कि डोसा को दोनों तरफ से अच्छे से पकाया जाता है, लेकिन इतना नहीं कि उनका रंग एकदम ही काला पड़ जाए।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘कोई भी कार्रवाई हो तो हमारे पास आइए’: हाईकोर्ट ने 6 संपत्तियों को लेकर वक्फ बोर्ड को दी राहत, सेन्ट्रल विस्टा के तहत इन्हें...

दिसंबर 2021 में सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने हाईकोर्ट को आश्वासन दिया था कि वक्फ बोर्ड की संपत्तियों को कोई नुकसान नहीं पहुँचाया जाएगा।

‘कागज़ पर नहीं, UCC को जमीन पर उतारिए’: हाईकोर्ट ने ‘तीन तलाक’ को बताया अंधविश्वास, कहा – ऐसी रूढ़िवादी प्रथाओं पर लगे लगाम

मध्य प्रदेश हाई कोर्ट ने कहा है कि समान नागरिक संहिता (UCC) को कागजों की जगह अब जमीन पर उतारने की जरूरत है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -