Wednesday, July 17, 2024
Homeसोशल ट्रेंड'अब तक खेल-कूद रहा था, मटन बना रहा था': लालू की बेटी ने कहा...

‘अब तक खेल-कूद रहा था, मटन बना रहा था’: लालू की बेटी ने कहा ‘पापा बिना सहारे के चल भी नहीं सकते’ तो लोगों ने दिखा दी तस्वीरें, पूछा – राजनीति करते समय कहाँ गई थी बीमारी?

"जैसे ही सत्ता गई , जेल जाने का समय आया है तो अभी लालू कमजोर और बीमार हो गया? अभी तक तो खूब खेल कूद रहा था, खूब राजनीति कर रहा था?"

लालू प्रसाद यादव से पटना में ED की टीम ने पूछताछ की। इस दौरान उन्हें जाँच एजेंसी के दफ्तर में जाना पड़ा। प्रवर्तन निदेशालय ने उनकी बेटी मीसा भारती को पूछताछ के दौरान अंदर आने की इजाजत नहीं दी थी। इस बात से रोहिणी आचार्य काफी खफा दिखीं। उन्होंने बाकायदा धमकी भी दी कि अगर उनके पापा को कुछ हुआ, तो वो किसी को भी नहीं छोड़ेंगी। रोहिणी आचार्य लालू प्रसाद यादव की बेटी हैं और सिंगापुर में रहती हैं। उन्होंने ही लालू प्रसाद यादव को अपनी किडनी दी थी।

सोमवार (29 जनवरी, 2024) को RJD सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव को पूछताछ के लिए ईडी ऑफिस बुलाया गया। इस दौरान मीसा भारती को अंदर एंट्री नहीं दी गई, वो लालू यादव के साथ रहना चाहती थी। इस बात पर रोहिणी आचार्य ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म एक्स पर खूब धमकी बाजी की। रोहिणी ने लिखा, “मेरे पापा को आज कुछ हुआ तो इसका ज़िम्मेदार गिरगिट के साथ साथ CBI, ED और इनके मालिक होंगे। सबको मालूम है पापा की क्या हालात है बिना मदद के चल नहीं सकते फिर भी कितना गिरोगे गीदड़ो, ये गुदड़ी का लाल लालू है। शेर अकेला है कमजोर नहीं। अगर मेरे पापा को खरोंच आई तो मेरे से बुरा कोई नहीं होगा – मेरे शब्दों को नोट कर लो।’

इसके अलावा उन्होंने एक पोस्ट और किया। इसमें उन्होंने लिखा, “सब को मालूम है पापा की क्या हालात है। बिना मदद के चल नहीं सकते, फिर भी कितना गिरोगे गीदड़ो, ये गुदड़ी का लाल लालू है शेर अकेला है कमजोर नहीं।”

उनके इस ट्वीट के बाद लोगों ने लालू यादव को लेकर रोहिणी और उनके पूरे परिवार को एक्सपोज करना शुरू कर दिया। मोनू कुमार लिखते हैं, “बैडमिंटन खेलने में तो कोई दिक्कत नहीं। यादाश्त चली गई है बोल सकती हो लेकिन, अकेले चल नहीं सकते वाला बहाना तो सीबीआई वाले नहीं मानेंगेl”

विक्रांत ने लिखा, “कुछ दिन पहले तो बैडमिंटन खेल रहे थे और खड़ा होकर चंपारण मटन बनाना सीखा रहे थे। आज बिना सहारे नही चल सकते।”

मनीष बघेल नाम के एक्स यूजर ने रोहिणी को जवाब दिया, “जैसे ही सत्ता गई, जेल जाने का समय आया है तो अभी लालू कमजोर और बीमार हो गया? अभी तक तो खूब खेल-कूद रहा था, खूब राजनीति कर रहा था? बड़ी-बड़ी बातें कर रहा था? अब कोर्ट के सामने बीमारी और किडनी का बहाना बनाओगे? खूब बड़े मक्कार और चालबाज़ हो सारा परिवार।”

अभिषेक श्रीवास्तव ने लिखा, “मोहतरमा, जिसको आप शेर कह रही हैं वो सज़ायाफ्ता मुजरिम हैं, चारा घोटाले में सुप्रीम कोर्ट से सजा पाए हुए हैं। आपके हीरो हो सकते हैं लेकिन पूरे बिहार के नहीं, जहाँ तक बात रही बीमार होने की, तो अभी पूरी दुनिया के सामने राहुल गाँधी को मटन बनाना सिखा रहे थे, बैडमिंटन खेल रहे थे।”

बता दें कि सीबीआई ने नौकरी के बदले जमीन घोटाले में बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद, राबड़ी देवी, उनकी बेटी मीसा भारती और 13 अन्य के खिलाफ पिछले साल अक्टूबर में आरोप पत्र दायर किया था। सीबीआई के अनुसार, लोगों को पहले रेलवे में ग्रुप डी पदों पर स्थानापन्न के रूप में भर्ती किया गया था और जब उनके परिवारों ने जमीन का सौदा किया तो उन्हें नियमित कर दिया गया। रेलवे में नौकरी के बदले रिश्वत लेकर जमीन लेने के आरोप की जाँच सीबीआई कर रही है। वहीं, ईडी मनी लॉन्ड्रिंग के मामले की जाँच कर रही है। इस मामले में सीबीआई ने आरोप पत्र भी दाखिल किया था। इसी मामले में ईडी लालू प्रसाद यादव से पूछताछ कर रही है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

साथियों ने हाथ-पाँव पकड़ा, काज़िम अंसारी ने ताबतोड़ घोंपा चाकू… धराया VIP अध्यक्ष मुकेश सहनी के पिता का हत्यारा, रात के डेढ़ बजे घर...

घटना की रात काज़िम अंसारी ने 10-11 बजे के बीच रेकी भी की थी जो CCTV में कैद है। रात के करीब डेढ़ बजे ये लोग पीछे के दरवाजे से घर में घुसे।

प्राइवेट नौकरियों में 75% आरक्षण वाले बिल पर कॉन्ग्रेस सरकार का U-टर्न, वापस लिया फैसला: IT कंपनियों ने दी थी कर्नाटक छोड़ने की धमकी

सिद्धारमैया के फैसले का भारी विरोध भी हो रहा था, जिसकी वजह से कॉन्ग्रेसी सरकार बुरी तरह से घिर गई थी। यही नहीं, इस फैसले की जानकारी देने वाले ट्वीट को भी मुख्यमंत्री को डिलीट करना पड़ा था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -