Sunday, July 25, 2021
Homeराजनीतिकॉन्ग्रेस की पंखुड़ी पाठक से ब्याह रचाने को मुझसे लिया जबरन तलाक: SP नेता...

कॉन्ग्रेस की पंखुड़ी पाठक से ब्याह रचाने को मुझसे लिया जबरन तलाक: SP नेता अनिल यादव की पत्नी रही ज्योति

ज्योति यादव के अनुसार तलाक की प्रक्रिया पूरी होने तक उन्हें बंधक बनाकर रखा गया। देवर ने बेटे की हत्या की धमकी देकर कई बार उनके साथ शारीरिक संबंध बनाए। अनिल यादव ने इन आरोपों को बेबुनियाद बताया है।

कॉन्ग्रेस की मीडिया पैनलिस्ट पंखुड़ी पाठक समाजवादी पार्टी के पूर्व प्रवक्ता अनिल यादव से शादी रचाने जा रही हैं। दोनों की शादी एक दिसंबर को होने वाली है। पंखुड़ी भी पहले सपा में ही थीं।

इस बीच, अनिल यादव पर उनकी पूर्व पत्नी ज्योति यादव ने गंभीर आरोप लगाए हैं। ज्योति का कहना है कि उनसे अनिल यादव ने जबरन तलाक लिया। उनके बेटे को जान से मारने की धमकी देकर उनसे कागजों पर हस्ताक्षर कराए। ज्योति के मुताबिक अनिल के छोटे भाई ने उनके बेटे की हत्या की धमकी देने उनसे कई बार शारीरिक संबंध भी बनाए।

साथ ही ज्योति यादव ने देवर कपिल यादव और ससुर सुरेश यादव पर एक साल तक कमरे में बंद रखने का भी आरोप लगाया है। ज्योति यादव ने कहा कि 2018 में जबरन कड़कड़डूमा कोर्ट में आपसी समझौते से तलाक के कागजात पर साइन कराए गए और तलाक होने की पूरी प्रक्रिया के दौरान उन्हें बंधक बनाकर रखा गया। इसके बाद मायके भेज दिया गया।

अनिल यादव की पूर्व पत्नी ने आरोप लगाया है कि पंखुड़ी पाठक शादी के लिए अनिल यादव की ब्लैकमेल कर रही थीं। ज्योति ने कहा कि अनिल यादव ने उन्हें बताया था कि वह पंखुड़ी पाठक के साथ विदेश घूमने गए थे। इस यात्रा के दौरान पंखुड़ी पाठक ने उनके साथ एक वीडियो बना ली है। इसकी वजह से वे फँस गए हैं और अब उन्हें उनसे (ज्योति यादव) छुटकारा चाहिए ताकि वे पंखुरी से शादी कर सके।

सपा नेता अनिल यादव ने पत्नी के आरोपों काे बुनियाद बताते हुए कहा कि यह सिर्फ प्रॉपर्टी हथियाने के लिए किया जा रहा है। उनका कहना है कि आपसी सहमति से दोनों का तलाक हुआ था। तीन वर्ष से वह पत्नी से अलग रह रहे हैं। अनिल यादव का कहना है कि उन्हें बदनाम करने की कोशिश की जा रही है। इसके लिए वो कानूनी कार्रवाई करेंगे। उनका आरोप है कि उनकी पूर्व पत्नी उनके राजनीतिक विरोधियों के बहकावे में आकर उनकी छवि धूमिल करने की उद्देश्य से उनके खिलाफ दुष्प्रचार कर रही हैं।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘गाँधी की हत्या के बाद कॉन्ग्रेस ने करवाया था ब्राह्मणों का नरसंहार, पुलिस ने दर्ज नहीं किया एक भी केस’: इतिहासकार का खुलासा

लेखक व इतिहासकार विक्रम सम्पत ने कहा है कि महात्मा गाँधी की हत्या के बाद ब्राह्मण-विरोधी नरसंहार कॉन्ग्रेस नेताओं ने करवाया था। एक भी केस दर्ज नहीं किया गया था।

Tokyo Olympics: पुरुष नौकायन टीम सेमीफाइनल में, बैडमिंटन में पीवी सिंधु, टेबल टेनिस में मनिका बत्रा और सुतीर्थ मुखर्जी की जीत

टोक्यो ओलंपिक के तीसरे दिन भारत को बैडमिंटन, नौकायन और टेबल टेनिस में मिली जीत। टेबल टेनिस में दो महिला खिलाड़ी पहुंचीं दूसरे दौर में।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,128FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe