Friday, July 19, 2024
Homeराजनीति'पिछली सरकारें आतंकियों के मुकदमे लेती थीं वापस, हम उन्हें उनके लोक पहुँचाते हैं':...

‘पिछली सरकारें आतंकियों के मुकदमे लेती थीं वापस, हम उन्हें उनके लोक पहुँचाते हैं’: CM योगी की सपा के गढ़ में ललकार

''पिछली सरकारें आतंकवादियों का मुकदमा वापस लेती थीं, दंगाइयों को मुख्यमंत्री आवास पर बुलाकर सम्मानित किया जाता था, लेकिन हमारी सरकार में आतंकवादियों को उनके लोक में पहुँचाने का कार्य होता है।''

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार (9 नवंबर 2021) को बदायूँ जिले में 1328 करोड़ की 359 परियोजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण किया। यहाँ उन्होंने समाजवादी पार्टी का गढ़ रही बदायूँ की सहसवान सीट के क्षेत्र में रैली को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने आयुष्मान कार्ड, PM आवास योजना में चाबी एवं विभिन्न योजनाओं के लाभार्थियों को चेक/स्वीकृति-पत्र वितरित किए। इस मौके पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पिछली सरकारों को आड़े हाथों लेते हुए उन पर जमकर हमले किए।

गौरतलब है कि CM योगी उत्‍तर प्रदेश की उन सभी सीटों पर जनसभा कर रहे हैं, जहाँ बीजेपी थोड़ी कमजोर है। बदायूँ की 6 विधान सभा सीटों में से 5 इस समय बीजेपी के खाते में है, लेकिन सहसवान पर सपा का कब्‍जा रहा। यही वजह है कि सीएम योगी उन सभी जगह अपनी रैलियाँ अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले करके उनके लिए अलग से विकास योजनाओं की घोषणा कर रहे हैं।

सीएम योगी ने कहा, ”पिछली सरकारें आतंकवादियों का मुकदमा वापस लेती थीं, दंगाइयों को मुख्यमंत्री आवास पर बुलाकर सम्मानित किया जाता था, लेकिन हमारी सरकार में आतंकवादियों को उनके लोक में पहुँचाने का कार्य होता है।”

बता दें कि विधानसभा चुनाव को लेकर मुख्यमंत्री इन दिनों पश्चिम उत्तर प्रदेश के सभी जिलों में दौरा कर रहे हैं। उसी कड़ी में आज उन्होंने बदायूं का दौरा किया। उन्होंने आगे कहा, “पहले नौकरी निकलती थी, तभी एक परिवार वसूली के लिए निकल जाता था। नियुक्ति के नाम पर पैसा वसूला जाता था, लेकिन नियुक्ति नहीं होती थी क्योंकि धाँधली के बाद कोर्ट स्टे लगा देता था। साढ़े चार साल में 4.5 लाख लोगों को नौकरी मिली है जिन पर कोई प्रश्न नहीं उठा सकता है।”

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री ने मुफ़्त राशन योजना को लेकर भी बोला। उन्होंने कहा, “प्रधानमंत्री ने कोरोना के समय मुफ़्त राशन दिया था। राज्य सरकार ने तय किया है कि इसे होली तक दिया जाए। इसके तहत अंत्योदय परिवार कार्ड धारकों को 35 किलो गेहूँ या चावल दिया जाएगा साथ ही 1-1 किलो दाल, खाद्य तेल, चीनी और नमक हर परिवार को उपलब्ध कराया जाएगा।”

बता दें कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सोमवार (8 नवंबर 2021) को पश्चिमी उत्तर प्रदेश के कैराना पहुँचे थे। इस दौरान उन्होंने ‘गुंडों’ को चेताया और कहा, ”जो हमारी बहन-बेटियों की इज्जत के साथ खिलवाड़ करेगा, उसकी पीढ़ियाँ भूल जाएँगी कैसे दंगा होता है।” उन्होंने बिना नाम लिए अखिलेश यादव और समाजवादी पार्टी पर हमले किए और मुजफ्फरनगर दंगे की याद दिलाते हुए कहा कि मुख्यमंत्री आवास में दंगाइयों को सम्मानित किया जाता था।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जहाँ सब हैं भोले के भक्त, बोल बम की सेवा जहाँ सबका धर्म… वहाँ अस्पृश्यता की राजनीति मत ठूँसिए नकवी साब!

मुख्तार अब्बास नकवी ने लिखा कि आस्था का सम्मान होना ही चाहिए,पर अस्पृश्यता का संरक्षण नहीं होना चाहिए।

अजमेर दरगाह के सामने ‘सर तन से जुदा’ मामले की जाँच में लापरवाही! कई खामियाँ आईं सामने: कॉन्ग्रेस सरकार ने कराई थी जाँच, खादिम...

सर तन से जुदा नारे लगाने के मामले में अजमेर दरगाह के खादिम गौहर चिश्ती की जाँच में लापरवाही को लेकर कोर्ट ने इंगित किया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -