Wednesday, September 22, 2021
Homeराजनीति'...तब अब्बा जान कहने वाले राशन हजम कर जाते थे': तुष्टिकरण पर CM योगी...

‘…तब अब्बा जान कहने वाले राशन हजम कर जाते थे’: तुष्टिकरण पर CM योगी का प्रहार, राणा अयूब को दिखी मुस्लिम घृणा

कुशीनगर में एक संबोधन में योगी आदित्यनाथ ने तुष्टिकरण की राजनीति करने वाले विपक्ष पर निशाना साधते हुए कहा कि पिछली सरकारों के दौरान 'अब्बा जान' कहने वाले राशन हजम कर जाते थे।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार (12 सितंबर 2021) को कुशीनगर में एक सभा के दौरान तुष्टिकरण की राजनीति पर कटाक्ष किया और ‘सबका साथ, सबका विकास’ की बात की। उन्होंने कहा कि विकास सभी का करेंगे, तुष्टिकरण किसी का नहीं किया जाएगा। लेकिन, विवादित वामपंथी पत्रकार राणा अयूब को इसमें मुस्लिमों के प्रति घृणा और साम्प्रदायिकता नजर आई। पत्रकार ने सबका साथ, सबका विकास वाले भाषण को मुस्लिम विरोधी करार दे दिया।

राणा अयूब ने एएनआई द्वारा अपलोड किए गए वीडियो क्लिप पर कमेंट करते हुए लिखा, “अगर यह साम्प्रदायिक नहीं है, अगर यह एक राज्य के मुखिया द्वारा की गई मुस्लिम विरोधी टिप्पणी नहीं है तो मैं नहीं जानती क्या है।”

रिपोर्ट के मुताबिक, उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक संबोधन में योगी आदित्यनाथ ने तुष्टिकरण की राजनीति करने वाले विपक्ष पर निशाना साधते हुए कहा कि पिछली सरकारों के दौरान ‘अब्बा जान’ कहने वाले राशन हजम कर जाते थे।

योगी आदित्यनाथ ने कहा कि पहले भारतीय राजनीति जातिवाद और वंशवाद के दलदल में फँसी थी, लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गरीबों और विकास पर ध्यान केंद्रित कर राजनीति की दिशा ही बदल दी है। उन्होंने कहा, “जब तुष्टिकरण की राजनीति प्रचलित थी, तब विकास नही था। दंगे थे, भ्रष्टाचार थे, अराजकता थी, आतंकवाद था, अत्याचार थे, अन्याय था। लेकिन आज सबका साथ है, सबका विकास है और उसके साथ सबका विश्वास है।”

जनता को संबोधित करते हुए सीएम ने पूछा कि क्या उन्हें 2017 से पहले राशन मिला था? जब भीड़ ने जवाब दिया कि नहीं, तो उन्होंने कहा, “क्योंकि तब, जो लोग ‘अब्बा जान’ कहते थे, वे राशन हजम कर जाते थे। तब कुशीनगर का राशन नेपाल, बांग्लादेश जाता था। लेकिन आज अगर कोई गरीबों का राशन हड़पने की कोशिश करेगा तो वह ऐसा नहीं कर पाएगा, लेकिन जेल जरूर जाएगा।”

रविवार को सीएम योगी आदित्यनाथ ने सपा पर ‘तालिबानी मानसिकता’ रखने का आरोप लगाया। उन्होंने नागरिकों से ऐसी मानसिकता को बर्दाश्त नहीं करने की अपील भी की। मुख्यमंत्री ने कहा, “राम भक्तों पर गोली चलाने वाली तालिबान समर्थक जातिवादी-वंशवादी मानसिकता को प्रदेश की जनता कतई बर्दाश्त न करे। याद रखिएगा! बिच्छू कहीं भी होगा तो डँसेगा।”

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

महंत नरेंद्र गिरी की संदिग्ध मौत की जाँच के लिए SIT गठित: CM योगी ने कहा – ‘जिस पर संदेह, उस पर सख्ती’

महंत नरेंद्र गिरी की मौत के मामले में गठित SIT में डेप्यूटी एसपी अजीत सिंह चौहान के साथ इंस्पेक्टर महेश को भी रखा गया है।

जिस राजस्थान में सबसे ज्यादा रेप, वहाँ की पुलिस भेज रही गंदे मैसेज-चौकी में भी हो रही दरिंदगी: कॉन्ग्रेस है तो चुप्पी है

NCRB 2020 की रिपोर्ट के मुताबिक राजस्थान में जहाँ 5,310 केस दुष्कर्म के आए तो वहीं उत्तर प्रेदश में ये आँकड़ा 2,769 का है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,642FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe