Monday, July 22, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयअफगानिस्तान: नंगरहार प्रांत की मस्जिद में जोरदार विस्फोट, तीन की मौत 15 घायल

अफगानिस्तान: नंगरहार प्रांत की मस्जिद में जोरदार विस्फोट, तीन की मौत 15 घायल

इससे पहले 8 अक्टूबर को उत्तरी अफगानिस्तान के कुंदुज प्रांत में स्थित एक शिया मस्जिद में ब्लास्ट हुआ था, जिसमें कम-से-कम 100 लोगों के मारे जाने की खबर आई थी। आशंका जताई गई थी कि वह हमला इस्लामिक स्टेट के आतंकियों ने किया है।

अफगानिस्तान में तालिबान शासन शुरू होने के बाद भी बम धमाकों से मुल्क को छुटकारा नहीं मिला। अराजकता और अस्थिरता के साथ-साथ बम धमाके अफगानिस्तान का नसीब बन गया है। हालात ये है कि वहाँ से आए दिन ब्लास्ट की खबरें आ रही हैं। इसी क्रम में शुक्रवार (12 नवंबर 2021) को नंगरहार प्रांत के स्पिनघर जिला स्थित एक मस्जिद में जुमे की नमाज के दौरान ब्लास्ट हुआ, जिसमें कम-से-कम तीन लोगों की मौत की खबर है। इस धमाके में कई अन्य लोगों के घायल होने की भी खबर है।

रिपोर्ट के मुताबिक, इस घटना में नमाज पढ़ा रहे मस्जिद के मौलवी सहित तकरीबन एक दर्जन लोग बुरी तरह से घायल हुए हैं। तालिबान के एक अधिकारी ने समाचार एजेंसी एएफपी से बातचीत में बम ब्लास्ट की पुष्टि की है। अधिकारी ने कहा, “मैं स्पिन घर जिले में एक मस्जिद के अंदर जुमे की नमाज के दौरान विस्फोट की पुष्टि करता हूँ। इसमें मौत भी हुई है और लोग घायल भी हुए हैं।” नंगरहार प्रांत के सरकारी प्रवक्ता कारी हनीफ ने एपी समाचार एजेंसी को बताया कि ऐसा लगता है कि बम मस्जिद में रखा गया था।

वहीं, इलाके के रहने वाले अटल शिनवारी ने समाचार एजेंसी रॉयटर्स को बताया कि विस्फोट स्थानीय समयानुसार दोपहर करीब 1:30 बजे (09:00 GMT) हुआ था। स्थानीय अस्पताल के एक डॉक्टर ने एएफपी को बताया कि इस धमाके में कम-से-कम तीन लोग मारे गए हैं, जबकि 15 लोग घायल हुए हैं। अभी तक इस धमाके की जिम्मेवारी किसी ने नहीं ली है, लेकिन इस्लामिक स्टेट पर संदेह जताया जा रहा है।

गौरतलब है कि इससे पहले 15 अक्टूबर को अफगानिस्तान के गुरुद्वारा दशमेश में हथियारबंद आतंकी घुस गए थे। इसके अलावा दक्षिण अफगानिस्तान के शहर कंधार में एक शिया मस्जिद में बम विस्फोट की घटना हुई थी। इसमें 16 लोगों के मारे गए थे। ये विस्फोट भी शहर की इमाम बारगाह मस्जिद में जुमे की नमाज के समय ही हुआ था।

इससे पहले 8 अक्टूबर को उत्तरी अफगानिस्तान के कुंदुज प्रांत में स्थित एक शिया मस्जिद में ब्लास्ट हुआ था, जिसमें कम-से-कम 100 लोगों के मारे जाने की खबर सामने आई थी। आशंका जताई गई थी कि वह हमला इस्लामिक स्टेट के आतंकियों ने किया है। उस दौरान स्थानीय लोगों ने बताया था कि विस्फोट शुक्रवार की नमाज के दौरान हुआ। शुक्रवार का दिन मुस्लिमों के लिए काफी अहम होता है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

केंद्र सरकार ने 4 साल में राज्यों को की ₹1.73 लाख करोड़ की मदद, फंड ना मिलने पर धरना देने वाली ममता सरकार को...

वित्त मंत्रालय ने बताया है कि केंद्र सरकार 2020-21 से लेकर 2023-24 तक राज्यों को ₹1.73 लाख करोड़ विशेष मदद योजना के तहत दे चुकी है।

जो बायडेन फिर से बने अमेरिकी राष्ट्रपति उम्मीदवार: ‘भूलने की बीमारी’ के कारण कर दिया था ट्वीट, सदमे में कमला हैरिस, 12 घंटे से...

जो बायडेन टेस्ट ले रहे थे कमला हैरिस का। वो भोकार पार-पार के, सर पटक कर रोने के बजाय खुश हो गईं। पिघलने के बजाय बायडेन को गुस्सा आ गया और...

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -