Saturday, October 16, 2021
Homeरिपोर्टमीडियाराजदीप की तरह ही रवीश भी दे रहे थे ज्ञान, पर खुद के चैनल...

राजदीप की तरह ही रवीश भी दे रहे थे ज्ञान, पर खुद के चैनल पर भी सुशांत ही चल रहा

हिंदी मीडिया चैनल्स को कूड़ा बताते हुए उसे ना देखने की अपील करने वाले रवीश कुमार शायद अपने ही चैनल को नहीं देखते या फिर NDTV की वेबसाइट पर भी नहीं जाते। अगर वो ऐसा करते तो शायद सुशांत सिंह राजपूत की मौत के कवरेज पर दूसरे चैनलों को ज्ञान नहीं दे रहे होते।

पहले तो राजदीप सरदेसाई ने यह राग अलापा कि सुशांत सिंह राजपूत इतने बड़े कलाकार नहीं थे कि उनकी मौत की जॉंच के लिए मुंबई पुलिस पर दबाव बनाया जाए। फिर दूसरे मीडिया संस्थानों की लगातार इस बात को लेकर आलोचना करते रहे कि वे वास्तविक मुद्दों की अनदेखी कर सुशांत मामले को उछाल रहे हैं। कुछ ऐसे ही विचार कभी उनके ‘शागिर्द’ रहे रवीश कुमार के भी थे।

कुछ समय तक सुशांत कवरेज की आलोचना करते रहने के बाद राजदीप अचानक से रिया-रिया करने लगे। सत्यान्वेषी पत्रकार और NDTV के प्रोपेगेंडा प्रमुख रवीश कुमार ने तो सुशांत सिंह राजपूत की मौत पर जुबान तक नहीं खोली। हो सकता है ऐसा करने में रवीश कुमार की निजी गरिमा आहत हो रही हो या फिर उन्हें यह भय हो कि ऐसा कर वो अपनी बची हुई ऑडियंस को भी खो बैठेंगे।

आखिरकार रवीश कुमार ने सुशांत सिंह राजपूत की मौत का जिक्र किया, लेकिन साथ ही यह भी कहा कि इस मामले पर मीडिया द्वारा बातचीत करना शर्मनाक है। लेकिन राजदीप सरदेसाई और रवीश कुमार के अपने ही चैनल की वास्तविकता उनके द्वारा कही जाने वाली बातों से एकदम उलट है। कुछ ही समय पहले रवीश कुमार ने इसी राजदीप सरदेसाई को ‘दुकानदार’ भी कह दिया था।

हिंदी मीडिया चैनल्स को कूड़ा बताते हुए उसे ना देखने की अपील करने वाले रवीश कुमार शायद अपने ही चैनल को नहीं देखते या फिर NDTV की वेबसाइट पर भी नहीं जाते। अगर वो ऐसा करते तो शायद सुशांत सिंह राजपूत की मौत के कवरेज पर यह ज्ञान नहीं दे रहे होते कि मीडिया चैनल्स सुशांत सिंह राजपूत को कवर कर रहे हैं।

एनडीटीवी के आधिकारिक यूट्यूब चैनल के होमपेज पर दिख रहे इस 18 वीडियो में से 10 सुशांत मामले को ही समर्पित हैं

इस मामले में रवीश कुमार को इंडिया टुडे के प्रोपेगेंडा पत्रकार राजदीप सरदेसाई बहुत पीछे छोड़ते जा रहे हैं। राजदीप सरदेसाई भी निरंतर सुशांत सिंह राजपूत की मौत के कवरेज को पत्रकारिता के खिलाफ बताते रहे, लेकिन खुद उनके चैनल का भविष्य और वर्तमान रिया चक्रवर्ती के प्रायोजित इंटरव्यू के इर्द-गिर्द ही घूम रहा है।

रिया चक्रवर्ती के इर्द-गिर्द घूम रहा है इंडिया टुडे का वर्तमान और भविष्य

कल ही राजदीप सरदेसाई ने रिया चक्रवर्ती का एक इंटरव्यू लिया है, जिसे लेकर राजदीप की हर तरफ आलोचना ही हो रही है। ज्ञात हो कि रिया चक्रवर्ती सुशांत सिंह राजपूत की मौत या आत्महत्या के मामले में उनके परिवार द्वारा मुख्य आरोपित बताई गई है। रिया ने राजदीप के साथ बातचीत में दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह पर कई प्रकार के भ्रामक आरोप लगाए हैं।

यही नहीं, सुशांत सिंह की मौत के बाद रिया द्वारा उनके पैसे इस्तेमाल किए जाने और उनके ड्रग्स कनेक्शन के सामने आने के बाद यह इंटरव्यू लिया गया और सभी लोग यही सवाल उठा रहे हैं कि क्या राजदीप ने यह इंटरव्यू रिया चक्रवर्ती को क्लीनचिट देने के लिए आयोजित किया है?

राजदीप ने रिया के साथ साक्षात्कार में सुशांत सिंह की कथित मानसिक बीमारी पर ज़ोर दिया है। उनकी बातों से ऐसा लग रहा है जैसे मानसिक बीमारी का आरोप वास्तविक तथ्य है। जबकि सुशांत सिंह का परिवार इस मुद्दे पर अपना पक्ष पहले ही रखा चुका है। उन्होंने कहा था कि पहले कभी सुशांत सिंह को इस तरह की कोई दिक्कत नहीं हुई थी। न ही किसी विशेषज्ञ ने उनके संबंध में ऐसा कुछ कहा था। सुशांत पर मानिसक रूप से बीमार होने का आरोप अभी तक सिर्फ और सिर्फ रिया चक्रवर्ती ने लगाया है, जिन पर खुद इस मामले के संबंध में जाँच चल रही है।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

सरकारी नौकरी से निकाला गया सैयद अली शाह गिलानी का पोता, J&K में रिसर्च ऑफिसर बन कर बैठा था: आतंकियों के समर्थन का आरोप

अलगाववादी नेता रहे सैयद अली शाह गिलानी के पोते अनीस-उल-इस्लाम को जम्मू कश्मीर में सरकारी नौकरी से निकाल बाहर किया गया है।

मुस्लिम बहुल किशनगंज के सरपंच से बनवाया था आईडी कार्ड, पश्चिमी यूपी के युवक करते थे मदद: Pak आतंकी अशरफ ने किए कई खुलासे

पाकिस्तानी आतंकी ने 2010 में तुर्कमागन गेट में हैंडीक्राफ्ट का काम शुरू किया। 2012 में उसने ज्वेलरी शॉप भी ओपन की थी। 2014 में जादू-टोना करना भी सीखा था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,004FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe