Saturday, July 31, 2021
Homeसोशल ट्रेंडकिसान आंदोलन समर्थक प्लेबॉय मॉडल पर कॉन्ग्रेस नेता हुए लट्टू, लोगों ने कहा- 'काम...

किसान आंदोलन समर्थक प्लेबॉय मॉडल पर कॉन्ग्रेस नेता हुए लट्टू, लोगों ने कहा- ‘काम धाम देख लो चचा! पार्टी कब्र में है आपकी’

“मैंने अपनी पलकें झपकाई। रात अब खत्म हो चुकी है।” कॉन्ग्रेस नेता ने जवाब दिया, "हाहाहाहा यह भारत में सुबह है, अमांडा। आप भारतीय घटनाओं पर नजर रख रही हैं। हमलोग खुश हैं।"

प्लेबॉय मॉडल अमांडा सर्नी के भारत में कृषि कानून का विरोध करने वाले प्रदर्शनकारियों का समर्थन करने के बाद कॉन्ग्रेस नेता सुरेंद्र राजपूत सोशल मीडिया पर उसका ध्यान अपनी तरफ आकर्षित करने के लिए बेताब दिखे। बता दें कि यह आंदोलन 26 जनवरी को काफी हिंसक हो गया था।

शनिवार (फरवरी 27, 2021) को, मॉडल और व्लॉगर ने कैप्शन के साथ ट्विटर पर अपनी मिरर सेल्फी पोस्ट किया। उन्होंने इसका कैप्शन दिया, ‘मूविंग डे’ (‘Moving Day’)। तस्वीर अपलोड करने के कुछ घंटों बाद, भारतीय राष्ट्रीय कॉन्ग्रेस के मीडिया पैनलिस्ट सुरेंद्र राजपूत ने उनकी तस्वीर पर टिप्पणी करते हुए लिखा, “नाइस क्लिक गॉर्जियस लेडी अमांडा (Nice click Gorgeous Lady Amanda)।” कॉन्ग्रेस नेता के सोशल मीडिया पर 32.5 K फॉलोवर्स हैं। वह कई समाचार चैनलों पर डिबेट के दौरान पार्टी का प्रतिनिधित्व करते हैं।

ट्वीट का स्क्रीनशॉट

ऐसा लगता है कि सुरेंद्र राजपूत अमांडा के हर पोस्ट पर नजर रखते हैं और उसमें काफी दिलचस्पी भी दिखाते हैं। 23 फरवरी (मंगलवार) को अमांडा सेर्नी ने ट्वीट किया था, “मैंने अपनी पलकें झपकाई। रात अब खत्म हो चुकी है।” कॉन्ग्रेस नेता ने जवाब दिया, “हाहाहाहा यह भारत में सुबह है, अमांडा। आप भारतीय घटनाओं पर नजर रख रही हैं। हमलोग खुश हैं।”

ट्वीट का स्क्रीनशॉट

हालाँकि, यह पहली बार नहीं है कि सुरेंद्र राजपूत ने किसी महिला ट्विटर यूजर के प्रति अत्यधिक सहानुभूति प्रदर्शित की है। जब लोकप्रिय ट्विटर यूजर प्रीति खत्री अपने विचारों की दुनिया में खो गई थीं, तो कॉन्ग्रेस मीडिया पैनलिस्ट ने अपनी सेवाओं की पेशकश की थी। प्रीति खत्री ने लिखा था, “मेरे दिमाग में कुछ अटक गया। उसको बाहर निकालने में कोई मदद कर सकता है क्या…” इस पर सुरेंद्र राजपूत ने तत्परता दिखाते हुए लिखा, “क्या हुआ बताइए। या तो आप मुझे कॉल करें या फिर डीएम करें।”

ट्वीट का स्क्रीनशॉट

नेटिजन्स ने लिया निशाने पर

सुरेंद्र राजपूत के इस व्यवहार के लिए नेटिजन्स ने उनको आड़े हाथों लिया था। पॉपुलर ट्विट यूजर रोजी ने गायक अरिजीत सिंह द्वारा गाए गए गाने का लिरिक्स “ना शर्म, ना लिहाज एक बार आया है” शेयर किया।

एक अन्य यूजर ने लिखा, “काम धाम देख लो चचा! वैसे ही पार्टी कब्र में है आपकी।”

एक अन्य ट्विटर उपयोगकर्ता ने सुरेंद्र राजपूत को अपनी पार्टी के सदस्य शशि थरूर से कुछ सीखने का सुझाव दिया। उन्होंने लिखा, “शशि थरूर से सीखिए। सीधे DM में मैसेज कीजिए।”

किसान विरोध, अमांडा सर्नी और ‘OnlyFans’ अकाउंट

गौरतलब है कि अमांडा सर्नी ने खुल कर किसान आंदोलन का समर्थन किया है। किसान आंदोलन को सपोर्ट करने वाली अमांडा ने ट्रैक्टर को सेक्सी बताया। उन्होंने ट्वीट किया, “मुझे लगता है कि आपका ट्रैक्टर सेक्सी है।” इसके बाद टीम किसान (Team kissan) नाम के समूह ने प्लेबॉय मॉडल को इंडिया आने पर ट्रैक्टर से एयरपोर्ट पर रिसीव करने की पेशकश की।

अमांडा ने अपनी टिप्पणियों के चलते सोशल मीडिया यूज़र्स से काफी आकर्षित किया है। लोगों के समर्थन के साथ ही सोशल मीडिया पर उनके जवाबों के स्क्रीनशॉट को सारे मीडिया प्लेटफॉर्म्स पर साझा भी किए जा रहे हैं।

दिलचस्प बात यह है कि अपनी टिप्पणियों के प्रति लोगों का इतना झुकाव देखने के बाद प्लेबॉय मॉडल ने अपने फॉलोवर्स को याद दिलाया कि वे एक्सक्लूसिव कंटेंट के लिए उन्हें only fans पर पेमेंट कर सकते हैं।

बता दें कि OnlyFans का उपयोग ज्यादातर पोर्नोग्राफिक मॉडल द्वारा खुद की नंगी तस्वीरों को बेचकर पैसा कमाने के लिए किया जाता है। हालाँकि, फिटनेस पर ध्यान देने वाले और संगीतकार भी इस प्लेटफार्म का इस्तेमाल करते हैं।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

20 से ज्यादा पत्रकारों को खालिस्तानी संगठन से कॉल, धमकी- 15 अगस्त को हिमाचल प्रदेश के CM को नहीं फहराने देंगे तिरंगा

खालिस्तान समर्थक सिख फॉर जस्टिस ने हिमाचल प्रदेश के 20 से अधिक पत्रकारों को कॉल कर धमकी दी है कि 15 अगस्त को सीएम तिरंगा नहीं फहरा सकेंगे।

‘हमारे बच्चों की वैक्सीन विदेश क्यों भेजी’: PM मोदी के खिलाफ पोस्टर पर 25 FIR, रद्द करने से सुप्रीम कोर्ट का इनकार

सुप्रीम कोर्ट ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आलोचना वाले पोस्टर चिपकाने को लेकर दर्ज एफआईआर को रद्द करने से इनकार कर दिया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,101FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe