Monday, July 22, 2024
Homeसोशल ट्रेंडएल्विश-मैक्सटर्न के बीच सुलह, सामने आई थी मारपीट की वीडियो: FIR के बाद बोले...

एल्विश-मैक्सटर्न के बीच सुलह, सामने आई थी मारपीट की वीडियो: FIR के बाद बोले – ‘सिस्टम’ वाले… एक घर में बर्तन तो बजते ही हैं’

इस मामले में दर्ज की गई FIR पर एल्विश यादव को गुरुग्राम पुलिस ने पूछताछ के लिए भी बुलाया था। हालाँकि, अब दोनों पक्ष के बीच समझौते की खबर आ गई और इसकी पुष्टि एल्विश यादव ने ही एक फोटो के साथ कर दी। हालाँकि, अभी स्पष्ट नहीं है कि सागर ठाकुर उर्फ़ मैक्सटर्न ने अपनी FIR वापस ली है या नहीं।

यूट्यूबर एल्विश यादव और मैक्सटर्न वाले सागर ठाकुर के बीच कई दिन तक चली लड़ाई के बाद सुलह हो गई है। इससे पहले एल्विश के सागर ठाकुर को पीटने का एक वीडियो भी सामने आया था। एल्विश ने भी एक वीडियो डाल कर अपना बचाव किया था। अब एल्विश ने एक फोटो सागर ठाकुर के साथ डाली है और कहा कि उनके बीच भाईचारा है।

यह पूरा मामला तब चालू हुआ जब एल्विश यादव विवादित कॉमेडियन मुनव्वर फारूकी के साथ नजर आए और लोगों ने उन्हें ट्रोल किया। सागर ठाकुर ने भी उन्हें इसी दौरान ट्रोल किया। उन्होंने इसको लेकर एल्विश की एक पुरानी वीडियो डाली।

इस पर एल्विश ने सागर को धमकाया। गुरुग्राम में दोनों के बीच विवाद हुआ था। इस पूरे घटनाक्रम के बाद सागर ठाकुर ने एक वीडियो जारी किया और पूरी बात बताई थी। सागर ने दावा किया, “जब एल्विश स्टोर पर आया, तो उसने सीधे मुझे मारा और उसके साथियों ने भी गालियाँ देते हुए पीटना शुरू कर दी। एल्विश यादव ने मेरी रीढ़ की हड्डी तोड़ने की कोशिश की ताकि मैं शारीरिक रूप से बेकार हो जाऊँ। एल्विश ने जाने से पहले मुझे जान से मारने की धमकी भी दी।”

इस वीडियो में सागर ने गुरुग्राम पुलिस पर एल्विश को बचाने के भी आरोप लगाए थे और कहा, “एल्विश के ऊपर एक भी वो सेक्शन नहीं लगा, जो मैंने एफआईआर में लिखवाई थी। हरियाणा में इस तरह गुंडागर्दी चल रही है कि एक बंदा आता है मारता है और उसके खिलाफ कोई एक्शन नहीं होता। इसे क्या समझा जाए, जिसके पास पैसा है वो कुछ भी कर सकता है। अगर मुझे कुछ भी होता है, तो इसके जिम्मेदार एल्विश यादव होंगे।” सागर ने सीएम खट्टर से भी मदद की गुहार लगाई थी।

इस मारपीट का एक वीडियो भी सामने आया था। एल्विश इसमें अपने साथियों के साथ आते हैं। मारपीट का ये वीडियो करीब 5 मिनट का है, जिसमें वो ‘जान से मारने’ की धमकी भी देते दिख रहे हैं। इस वीडियो में एल्विश और उसके साथी सागर ठाकुर को पीटते हुए साफ दिख रहे हैं। वहीं, हरे रंग के कपड़ों में पीड़ित सागर ठाकुर है। इसी मारपीट के मामले में एल्विश यादव औऱ उसके साथियों के खिलाफ आईपीसी के सेक्शन 147, 149, 323 और 506 के तहत केस दर्ज किया गया था।

इसके बाद एल्विश यादव ने भी अपना पक्ष रखने के लिए एक वीडियो जारी किया। इसमें एल्विश ने कहा, “मैं चाहता हूँ एक साइड की स्टोरी आपने सुनी। दूसरी साइड की स्टोरी भी जानने का आपको हक है और मुझे सुनाने का हक है। जो लोग हरकतें करके विक्टिम कार्ड खेल रहे हैं, जो ये लोग मेरे खिलाफ इकट्ठा होकर आवाज उठा रहे, बहुत पुरानी आदत है मुझे, मैं ये 2020 से झेल रहा हूँ मैं।”

आगे उन्होंने कहा, “जो ये लेफ्ट लॉबी इकट्ठी हो जाती है। ठीक है, मेरे साइड की भी स्टोरी सुन हो भाई, आप उसका (सागर ठाकुर) ट्विटर हैंडल खोलना, जब मैं बिग बॉस में गया था, 8 महीने हो गए हैं, 8 महीने से आप देखना कि मैं क्या कर रहा हूँ मैक्सटर्न के साथ और मैक्सटर्न मेरे साथ क्या कर रहा है। उसका हर एक ट्वीट मेरे विरुद्ध मिल जाएगा।” एल्विश ने कहा कि सागर ने उनके परिवार को जिन्दा जलाने की बात कही, जिससे उनको गुस्सा आया।

इस मामले में दर्ज की गई FIR पर एल्विश यादव को गुरुग्राम पुलिस ने पूछताछ के लिए भी बुलाया था। हालाँकि, अब दोनों पक्ष के बीच समझौते की खबर आ गई और इसकी पुष्टि एल्विश यादव ने ही एक फोटो के साथ कर दी। हालाँकि, अभी स्पष्ट नहीं है कि सागर ठाकुर उर्फ़ मैक्सटर्न ने अपनी FIR वापस ली है या नहीं।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

केंद्र सरकार ने 4 साल में राज्यों को की ₹1.73 लाख करोड़ की मदद, फंड ना मिलने पर धरना देने वाली ममता सरकार को...

वित्त मंत्रालय ने बताया है कि केंद्र सरकार 2020-21 से लेकर 2023-24 तक राज्यों को ₹1.73 लाख करोड़ विशेष मदद योजना के तहत दे चुकी है।

जो बायडेन फिर से बने अमेरिकी राष्ट्रपति उम्मीदवार: ‘भूलने की बीमारी’ के कारण कर दिया था ट्वीट, सदमे में कमला हैरिस, 12 घंटे से...

जो बायडेन टेस्ट ले रहे थे कमला हैरिस का। वो भोकार पार-पार के, सर पटक कर रोने के बजाय खुश हो गईं। पिघलने के बजाय बायडेन को गुस्सा आ गया और...

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -