Tuesday, July 16, 2024
Homeसोशल ट्रेंडकौन हैं 'बोल ना आंटी आऊँ क्या' वाले ओपी मिश्रा, न्यूजीलैंड का पाकिस्तान दौरा...

कौन हैं ‘बोल ना आंटी आऊँ क्या’ वाले ओपी मिश्रा, न्यूजीलैंड का पाकिस्तान दौरा रद्द होने के बाद क्यों हो रही उनकी चर्चा

बेइज्जती से आहत पाकिस्तान के सूचना मंत्री ने हाल में प्रेस कॉन्फ्रेंस की और ओम प्रकाश मिश्रा का नाम लेने के साथ-साथ कई ईमेल अकॉउंट बताए, जिन पर उन्हें संदेह है कि वो न्यूजीलैंड टीम को धमकी भेजने के पीछे मास्टरमाइंड हो सकते हैं।

न्यूजीलैंड और इंग्लैंड क्रिकेट टीम के कारण पिछले दिनों पाकिस्तान की जो फजीहत हुई उसका ठीकरा पहले बीसीसीआई पर फोड़ा गया और अब ये ठीकरा ओम प्रकाश मिश्रा नाम के भारतीय शख्स पर फोड़ा जा रहा है। वहाँ के सूचना मंत्री फवाद चौधरी ने बकायदा प्रेस कॉन्फ्रेंस करके बताया है कि ओम प्रकाश मिश्रा नाम के भारतीय शख्स ने न्यूजीलैंड के बल्लेबाज मार्टिन गुप्टिल की पत्नी को फेक आइडी बनाकर धमकी भरा मेल भेजा था।

उनका दावा यह भी है कि जो धमकी भरा मेल न्यूजीलैंड टीम को भेजा गया उसे भेजने के लिए हम्जा अफरीदी नाम की फेक आईडी बनाई गई। फवाद चौधरी ने कहा, “यह मेल वर्चुअल प्राइवेट नेटवर्क (वीपीएन) से भेजा गया था जिसमें इसकी लोकेशन सिंगापुर दिखाई गई थी। इस डिवाइस पर 13 और भी आइडी थी जिसमें से ज्यादातर सभी भारतीय नाम थे।”

अब जबसे फवाद चौधरी ने अपना यह बयान दिया है तभी से ओम प्रकाश मिश्रा का नाम ट्विटर पर ट्रेंड में है। इससे पहले ओम प्रकाश मिश्रा नाम के लड़के ने साल 2017 में “बोल ना आंटी आऊँ क्या घंटी मैं बजाऊँ क्या” गाने के जरिए सोशल मीडिया पर चर्चा बटोरी थी। अब पाकिस्तान द्वारा उनकी तस्वीर इस्तेमाल किए जाने के बाद उन पर तरह तरह के मीम शेयर हो रहे हैं और उसमें ओम प्रकाश मिश्रा की फोटो है।

दिलचस्प बात यह है कि कुछ पाकिस्तानी इस बात पर यकीन भी कर रहे हैं और गंभीरता के साथ पोस्ट कर रहे हैं कि जिसने बोल न आंटी आऊँ क्या, घंटी मैं बजाऊँ क्या गाना गाया है उसी ने मार्टिन गुप्टिल की बीवी को धमकी भरा संदेश भेजा।

गौरतलब है कि 17 सितंबर को न्यूजीलैंड क्रिकेट टीम ने पाकिस्तान में वन डे मैच से ठीक पहले अपना पाक का दौरा रद्द कर दिया था। न्यूजीलैंड की टीम ने सुरक्षा लिहाज से यह फैसला लिया था। बताया गया था कि न्यूजीलैंड की टीम ने टॉस से कुछ देर पहले मैदान में जाने से मना किया और फिर खबर आई कि ये दौरा रद्द हो रहा है।

इसी बेइज्जती से आहत पाकिस्तान के सूचना मंत्री ने हाल में प्रेस कॉन्फ्रेंस की और ओम प्रकाश मिश्रा का नाम लेने के साथ-साथ कई ईमेल अकॉउंट बताए, जिन पर उन्हें संदेह है कि वो न्यूजीलैंड टीम को धमकी भेजने के पीछे मास्टरमाइंड हो सकते हैं। कॉन्फ्रेंस में पेश किए गए दस्तावजों में कुछ सोशल मीडिया पोस्टों को दिखाया गया है और संडे गार्जियन में पब्लिश हुए एक लेख का उदाहरण दिया गया है।

इनमें सोशल मीडिया पोस्ट तो 19 अगस्त का है जिसमें कहा गया है कि आतंकी संगठन पाकिस्तान में हमला कर सकते हैं और संभव है कि न्यूजीलैंड उनके निशाने पर हो। ऐसे ही 21 अगस्त को प्रकाशित एक लेख की बात है जिसे अभिनंदन मिश्रा ने लिखा है। इस लेख में भी न्यूजीलैंड टीम के पाकिस्तान दौरे के समय में संभावित आतंकी हमले की बात है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जम्मू-कश्मीर के डोडा में 4 जवान बलिदान, जंगल में छिपे थे इस्लामी आतंकवादी: हिन्दू तीर्थयात्रियों पर हमला करने वाले आतंकी समूह ने ली जिम्मेदारी

जम्मू कश्मीर के डोडा में हुए आतंकी हमले में एक अफसर समेत 4 जवान वीरगति को प्राप्त हुए हैं। इस हमले की जिम्मेदारी कश्मीर टाइगर्स ने ली है।

‘जम्मू-कश्मीर की पार्टियों ने वोट के लिए आतंक को दिया बढ़ावा’: DGP ने घाटी के सिविल सोसाइटी में PAK के घुसपैठ की खोली पोल,...

जम्मू कश्मीर के DGP RR स्वेन ने कहा है कि एक राजनीतिक पार्टी ने यहाँ आतंक का नेटवर्क बढ़ाया और उनके आका तैयार किए ताकि उन्हें वोट मिल सकें।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -