Thursday, August 18, 2022
Homeफ़ैक्ट चेकमीडिया फ़ैक्ट चेक'कोलकाता में नागालैंड के BJP नेता, TMC में हो सकते हैं शामिल': न्यू इंडियन...

‘कोलकाता में नागालैंड के BJP नेता, TMC में हो सकते हैं शामिल’: न्यू इंडियन एक्सप्रेस ने ‘सूत्रों’ के नाम फैलाई ‘फेक न्यूज’

द न्यू इंडियन एक्सप्रेस को इससे पहले भी फेक न्यूज चलाने के लिए प्रसार भारती के मुख्य कार्यकारी अधिकारी से लताड़ पड़ चुकी है।

द न्यू इंडियन एक्सप्रेस ने रविवार (5 दिसंबर, 2021) को एक रिपोर्ट प्रकाशित की। इसमें कहा गया था कि नागालैंड के 12 बीजेपी नेता कोलकाता में तृणमूल कॉन्ग्रेस (TMC) में शामिल होने वाले हैं। दावा किया गया कि राज्य के 12 असंतुष्ट भाजपा नेता कोलकाता में डेरा डाले हुए हैं और टीएमसी नेतृत्व से मुलाकात करेंगे। विधानसभा के पूर्व डिप्टी स्पीकर के नेतृत्व में उनके जल्द ही पार्टी में शामिल होने की बात रिपोर्ट में कही गई।

द न्यू इंडियन एक्सप्रेस ने नागालैंड बीजेपी के सूत्रों के हवाले से कहा कि टीएमसी में शामिल होने वाले नेता मौजूदा विधायक नहीं हैं और ये कुछ वरिष्ठ नेताओं, विशेष रूप से उपमुख्यमंत्री वाई पैटन के कामकाज की शैली से नाखुश थे। अखबार के मुताबिक भाजपा के एक अंदरूनी सूत्र ने उन्हें बताया, “हम जानते हैं कि नेताओं का यह समूह कोलकाता में है। वे पार्टी नेतृत्व, विशेषकर डिप्टी सीएम से खुश नहीं हैं।”

द न्यू इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट प्रकाशित होने के बाद नागालैंड बीजेपी अध्यक्ष तेमजेन इमना एलोंग ने ट्विटर के माध्यम से इसे ‘गलत और फेक’ बताया है। उन्होंने द न्यू इंडियन एक्सप्रेस की खबर का स्क्रीनशॉट शेयर कर फेक न्यूज से सचेत रहने के लिए कहा। उन्होंने कहा कि ‘एक्सप्रेस’ न्यूज चलाना बहुत अच्छी बात है, लेकिन किसी भी खबर के बारे में रिसर्च करके प्रकाशित करने के लिए शायद थोड़ा धीमा होना चाहिए, क्योंकि यह गॉसिप नहीं है। बता दें कि द हिंदू ने भी ये फेक न्यूज चलाया था, हालाँकि बाद में ‘पेज नॉट फाउंड’ दिखाने लगा।

गौरतलब है कि द न्यू इंडियन एक्सप्रेस को इससे पहले भी फेक न्यूज चलाने के लिए प्रसार भारती के मुख्य कार्यकारी अधिकारी से लताड़ पड़ चुकी है। न्यू इंडियन एक्सप्रेस समाचार पत्र ने 9 अक्टूबर 2021 को दावा किया था कि प्रसार भारती 31 अक्टूबर से कर्नाटक के कलबुर्गी दूरदर्शन केंद्र से अपने कार्यक्रमों का प्रसारण बंद कर देगा। इसके बाद प्रसार भारती के सीईओ ने इस खबर को पूरी तरह भ्रामक बताया।

प्रसार भारती के सीईओ शशि शेखर ने न्यू इंडियन एक्सप्रेस द्वारा किए गए दावों को खारिज करते हुए कहा था, “मीडिया को सभी तथ्यों की पुष्टि करने के बाद ही जिम्मेदार तरीके से खबरों को आगे बढ़ाना चाहिए। दूरदर्शन कलबुर्गी के कंटेंट क्रिएशन में कोई बदलाव नहीं किया गया है। डीडी कलबुर्गी का कंटेंट डिजिटल प्लेटफॉर्म और सोशल मीडिया के अलावा डीडी चंदना के दिए गए स्लॉट पर प्रसारित होता रहेगा।”

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

1 नाव-3 AK 47, कारतूस और विस्फोटक भी: जैसे 26/11 के लिए समंदर से आए पाकिस्तानी आतंकी, वैसे ही इस बार महाराष्ट्र के तट...

डिप्टी सीएम ने जानकारी दी कि अभी तक किसी आतंकी एंगल की पुष्टि नहीं हुई है। केंद्रीय जाँच एजेंसियों को सूचित कर दिया गया है।

रोहिंग्या और बांग्लादेशी घुसपैठियों के लिए आधार कार्ड बनवा रहा है PFI : पटना पुलिस की जाँच में बड़ा खुलासा

फर्जी दस्तावेज से पीएफआई बनवा रहा है रोहिंग्याओं और बांग्लादेशी घुसपैठियों के लिए आधार कार्ड। पटना पुलिस की जाँच में बड़ा खुलासा।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
215,081FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe