Sunday, July 21, 2024
Homeविविध विषयअन्यपंत ने मैच जिताया लेकिन पुजारा ने 11 गेंदे शरीर पर झेलीं, देखिए वीडियो

पंत ने मैच जिताया लेकिन पुजारा ने 11 गेंदे शरीर पर झेलीं, देखिए वीडियो

भारतीय टीम के अन्य बल्लेबाजों को पता था कि मैच को ड्रॉ कराने के लिए एक दीवार खड़ी है। पुजारा ने भी निराश नहीं किया। उन्होंने 33.88 के औसत से 271 रन बनाए। भारत की तरफ से उनसे ज्याद रन सिर्फ ऋषभ पंत ने बनाया।

आपको याद होगा जब भारत ने ऑस्ट्रेलिया में 2018-19 के दौरे के दौरान टेस्ट सीरीज जीती थी। 4 मैचों की उस सीरीज में अगर दोनों तरफ से किसी भी बल्लेबाज ने सबसे ज्यादा रन बनाए थे तो वो थे चेतेश्वर पुजारा। उन्होंने 4 मैचों की 7 इन्निंग्स में 74.43 की बल्लेबाजी औसत से 521 रन ठोके थे। इस टूर में चेतेश्वर पुजारा ने 50 चौके लगाए थे। 3 शतक और एक अर्धशतक के साथ उन्होंने धमाल मचा दिया था, जिसमें 193 रनों की एक बड़ी पारी भी शामिल थी।

इस बार वो बल्लेबाजी से उस तरह का कमाल तो नहीं दिखा पाए लेकिन फिर भी इस सीरीज में भारत की तरफ से सबसे ज्यादा गेंदें उन्होंने ही खेली। वो पुजारा ही थे, जो दीवार की तरह ऑस्ट्रेलिया की घातक तेज गेंदबाजों की तिकड़ी (मिशेल स्टार्क, जोश हेजलवुड और पैट कमिंस) के सामने खड़े रहे और समय-समय पर भारत के लिए मैच बचाने में योगदान दिया। हालाँकि, इस सीरीज में दुनिया के नंबर-1 टेस्ट गेंदबाज कमिंस ने उन्हें परेशान ज़रूर किया।

अगर ब्रिस्बेन में हुए अंतिम मैच की बात करें तो चेतेश्वर पुजारा ने चौथी पारी में भारत को जिताने में अहम् भूमिका निभाई। भले ही युवा शुभमण गिल और ऋषभ पंत ने इस मैच को भारत की झोली में डालने में बड़ा योगदान दिया, लेकिन पुजारा एक तरफ से खड़े थे। भारतीय टीम के अन्य बल्लेबाजों को पता था कि मैच को ड्रॉ कराने के लिए एक दीवार खड़ी है। पुजारा ने भी निराश नहीं किया।

चौथे टेस्ट मैच के दौरान 11 बार गेंद से उनके शरीर को निशाना बनाया गया या फिर शरीर पर आकर लगी, लेकिन वो टस से मस नहीं हुए। सीरीज उनके लिए बल्ले से बहुत अच्छा न रहने के बावजूद वो सबसे ज्यादा रन बनाने वालों में चौथे नंबर पर हैं। उन्होंने 33.88 के औसत से 271 रन बनाए। भारत की तरफ से उनसे ज्याद रन सिर्फ ऋषभ पंत ने बनाया। चेतेश्वर पुजारा एक जुझारू खिलाड़ी का नाम है और उन्होंने इसे इस सीरीज में कई बार साबित किया।

इस सीरीज में शुभमण गिल ने भी अंतरराष्ट्रीय टेस्ट मैच में पहली बार कदम रखा था। जहाँ तक इस मैच की बात है, ऑस्ट्रेलिया ने अपनी पहली पारी में मारनस लाबुशेन की शतक की मदद से 369 रनों का स्कोर खड़ा किया था। नटराजन और शार्दुल ठाकुर ने 3-3 विकेट लिए। भारत ने पहली बारी में शार्दुल और सुंदर के पचासों की मदद से 336 रन बनाए। हेजलवुड ने 5 विकेट लिए। लेकिन, दूसरी पारी में ऑस्ट्रेलिया को भारत ने 394 पर समेट दिया। अंतिम पारी में भारत ने सफलतापूर्वक लक्ष्य को चेज कर लिया।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

काशी विश्वनाथ मंदिर और महाकालेश्वर मंदिर परिसर के दुकानदारों को लगाना होगा नेम प्लेट: बिहार के बोधगया की दुकानों में खुद ही लगाया बोर्ड,...

उत्तर प्रदेश के बाद मध्य प्रदेश के महाकालेश्वर मंदिर परिसर में स्थित दुकानदारों को अपना नेम प्लेट लगाने का आदेश दिया गया है।

‘मध्य प्रदेश और बिहार में भी काँवर यात्रा मार्ग में ढाबों-ठेलों पर लिखा हो मालिक का नाम’: पड़ोसी राज्यों में CM योगी के फैसलों...

रमेश मेंदोला ने कहा कि नाम बताने में दुकानदारों को शर्म नहीं बल्कि गर्व होना चाहिए। हरिभूषण ठाकुर बचौल बोले - विवादों से छुटकारा मिलेगा।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -