Thursday, August 5, 2021
Homeदेश-समाजसेक्स वर्कर ने निक़ाह से किया इनकार, अयूब ख़ान ने 5 टुकड़े कर नहर...

सेक्स वर्कर ने निक़ाह से किया इनकार, अयूब ख़ान ने 5 टुकड़े कर नहर में फेंका

अयबू पहले से शादीशुदा है। उसका 2008 में रेशमा से निकाह हुआ था और उसके तीन बच्चे हैं। सेक्स वर्कर से अयूब की मुलाक़ात जीबी रोड पर चार साल पहले हुई थी। घूमने के बहाने बाहर लाकर कर दी हत्या।

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने 20 अगस्त को हुई सेक्स वर्कर की हत्या की गुत्थी सुलझा ली है। इस मामले में पुलिस ने 32 वर्षीय मोहम्मद अयबू ख़ान को गिरफ्तार किया है। अयूब ने सेक्स वर्कर को निकाह का प्रस्ताव दिया था। प्रस्ताव ठुकराए जाने पर उसने हत्या कर दी। अयबू पहले से शादीशुदा है। उसका 2008 में रेशमा से निकाह हुआ था और उसके तीन बच्चे हैं।

ख़बर के अनुसार, सेक्स वर्कर से अयूब की मुलाक़ात जीबी रोड पर चार साल पहले हुई थी। समय बीतने के साथ-साथ अयूब और महिला के बीच मुलाक़ातों ने प्यार का रूप ले लिया। इसके बाद अयूब ने उस महिला से सेक्स वर्कर का पेशा छोड़ निक़ाह करने को कहा। महिला यह बात जानती थी कि वो पहले से शादीशुदा है इसलिए उसने इनकार कर दिया। इस बात से वो काफ़ी नाराज़ हुआ और उसके मन में बदले की भावना ने घर कर लिया।

20 अगस्त 2019 को अयूब ने सेक्स वर्कर को उसके साथ शाम को घूमने के लिए राज़ी कर लिया। बवाना नहर के पास पहुँचते ही मौक़ा पाकर उसने महिला का गला घोंट दिया। फिर अयूब ने उसके शरीर के पाँच टुकड़े कर नहर में फ़ेंक दिए।

हत्या के अगले दिन महिला की लाश बवाना नहर से बरामद की गई थी। 30 अगस्त को दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल की टीम ने एक मुखबिर की सूचना के आधार पर अयूब को गिरफ़्तार किया। साथ ही हत्या के दौरान वो जिस स्कूटी से महिला से मिलने पहुँचा था, उसे भी बरामद कर लिया गया।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

टोक्यो ओलंपिक: फाइनल में खूब लड़े रवि दहिया, भारत की चाँदी

टोक्यो ओलंपिक 2020 में पुरुषों की 57 किग्रा फ्रीस्टाइल कुश्ती में रेसलर रवि दहिया ने भारत को सिल्वर मैडल दिलाया है।

जब मनमोहन सिंह PM थे, कॉन्ग्रेस+ की सरकार थी… तब हॉकी टीम के खिलाड़ियों को जूते तक नसीब नहीं थे

एक दशक पहले जब मनमोहन सिंह के नेतृत्व में कॉन्ग्रेस नीत यूपीए की सरकार चल रही थी, तब हॉकी टीम के कप्तान ने बताया था कि खिलाड़ियों को जूते भी नसीब नहीं हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
113,091FollowersFollow
395,000SubscribersSubscribe