Saturday, July 13, 2024
Homeदेश-समाज'कॉन्ग्रेस टूलकिट' को 'Manipulated media' बताने पर दिल्ली पुलिस ने ट्विटर इंडिया को भेजा...

‘कॉन्ग्रेस टूलकिट’ को ‘Manipulated media’ बताने पर दिल्ली पुलिस ने ट्विटर इंडिया को भेजा नोटिस: माँगे सबूत

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने ट्विटर से जानकारी साझा करने को कहा है। फिलहाल इस मामले में किसी प्रकार की कोई एफआईआर दर्ज नही की गई है। लेकिन, हम शुरुआती तौर पर मामले की छानबीन कर सबूत इकट्ठे करने की कोशिश कर रहे हैं।

कॉन्ग्रेस टूलकिट मामले में दिल्ली पुलिस ने सोमवार (24 मई 2021) को ट्विटर को नोटिस भेजा है। पुलिस ने सोशल मीडिया कंपनी से पूछा है कि उनके पास ऐसी कौन सी जानकारी है जिसके आधार पर वो बीजेपी नेताओं और अन्य लोगों के ट्वीट को ‘manipulated’ यानी भ्रामक बता रहे हैं।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने ट्विटर से जानकारी साझा करने को कहा है। स्पेशल सेल के वरिष्ठ सूत्र के मुताबिक, फिलहाल इस मामले में किसी प्रकार की कोई एफआईआर दर्ज नही की गई है। लेकिन, हम शुरुआती तौर पर मामले की छानबीन कर सबूत इकट्ठे करने की कोशिश कर रहे हैं।

ट्विटर को भेजा गया दिल्ली पुलिस का नोटिस

दिल्ली पुलिस ने ट्विटर इंडिया के एमडी मनीष माहेश्वरी को 22 मई, 2021 को इस केस से जुड़े दस्तावेजों के साथ पुलिस के सामने पेश होने को कहा था। इस पर जवाब देते हुए माहेश्वरी ने कहा था कि वह ट्विटर कम्युनिकेशन इंडिया प्राइवेट लिमिटेड के सेल्स हेड हैं। जबकि, उनके वेरीफाइड ट्विटर अकाउंट के मुताबिक वे ट्विटर इंडिया के एमडी हैं।

इससे पहले ट्विटर ने 21 मई को मोदी सरकार को निशाना बनाने के लिए कॉन्ग्रेस द्वारा तैयार किए गए कथित टूलकिट पर संबित पात्रा के एक ट्वीट को मैनिपुलेटेड मीडिया करार दे दिया था। ट्विटर का कहना है कि वह “उन ट्वीट्स को लेबल कर सकता है, जिनमें मीडिया (वीडियो, ऑडियो और इमेज) शामिल हैं जिन्हें भ्रामक रूप से बदल दिया गया है या गढ़ा गया है।” इस मामले में केंद्र सरकार द्वारा कड़ी आपत्ति जताते हुए ट्विटर से यह टैग हटाने के लिए कहा गया था।

हालाँकि, अमेरिकी सोशल मीडिया साइट्स पर सरकार की लताड़ का कोई असर नहीं हुआ। उसने शनिवार (22 मई 2021) को राज्यसभा सांसद विनय सहस्रबुद्धे, भाजपा की राष्ट्रीय सोशल मीडिया प्रभारी प्रीति गाँधी, आंध्र प्रदेश के सह प्रभारी सुनील देवधर, भाजपा की मीडिया पैनलिस्ट चारू प्रज्ञा और दिल्ली भाजपा के महासचिव कुलजीत सिंह चहल के ट्वीट में ‘मैनिपुलेटेड मीडिया’ का टैग लगा दिया था। इसके अलावा ‘कॉन्ग्रेस टूलकिट’ शेयर करने वाले कई अन्य लोगों के ट्वीट्स में भी ‘मैनिपुलेटेड मीडिया’ का टैग लगा दिया था।

गौरतलब है कि कॉन्ग्रेस पार्टी ने बुधवार (19 मई, 2021) को ट्विटर को एक ईमेल भेज कर भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा, प्रवक्ता संबित पात्रा, केंद्रीय कपड़ा और महिला व बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी, राष्ट्रीय महासचिव (संगठन) बीएल संतोष समेत कई पार्टी पदाधिकारियों के हैंडल्स को सस्पेंड करने को कहा था। कॉन्ग्रेस ने आरोप लगाया था कि जिस दस्तावेज को उसका टूलकिट बता कर शेयर किया जा रहा है, वो फर्जी है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जिसे ‘चाणक्य’ बताया, उसके समर्थन के बावजूद हारा मौजूदा MLC: महाराष्ट्र में ऐसे बिखरा MVA गठबंधन, कॉन्ग्रेस विधायकों ने अपनी ही पार्टी को दिया...

जिस जयंत पाटील के पक्ष में महाराष्ट्र की राजनीति के कथित चाणक्य और गठबंधन के अगुवा शरद पवार खुद खड़े थे, उन्हें ही हार का सामना करना पड़ा।

18 बैंक खाते, 95 करोड़ रुपए, अब तक 11 शिकंजे में… जनजातीय समाज का पैसा डकारने के मामले में कॉन्ग्रेस के पूर्व मंत्री गिरफ्तार,...

सीधे शब्दों में समझें तो पूरा मामला ये है कि ST निगम के कुछ अधिकारियों ने फर्जी हस्ताक्षरों का इस्तेमाल कर के अवैध रूप से 94,73,08,500 रुपए विभिन्न बैंक खातों में भेज दिए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -