Friday, July 12, 2024
Homeदेश-समाजहनुमान चालीसा को लाउडस्पीकर पर सुन बिदकी मुस्लिम भीड़, मंदिर में जाकर की तोड़फोड़:...

हनुमान चालीसा को लाउडस्पीकर पर सुन बिदकी मुस्लिम भीड़, मंदिर में जाकर की तोड़फोड़: गुजरात के वडोदरा में केस दर्ज, 3 गिरफ्तार

मामले में स्थानीय हिंदुओं का कहना है कि हनुमान चालीसा को बंद कराने के लिए मुस्लिम भीड़ ने सारा हंगामा किया तो वहीं पुलिस का कहना है कि हंगामा आवाज बंद कराने को लेकर हुआ था।

गुजरात के वडोदरा के अजवा रोड स्थित एकतानगर में हिंदुओं और मुस्लिमों के बीच झड़प का मामला सामने आया है। बताया जा रहा है कि वहाँ एक हनुमान मंदिर में लाउडस्पीकर पर हनुमान चालीसा चल रही थी, जिसे सुन मुस्लिम भीड़ विरोध करने आ गई और फिर देखते ही देखते वहाँ पथराव होने लगा। फिलहाल इस पत्थरबाजी के मामले में केस दर्ज है और आगे की जाँच की जा रही है। अब तक 3 लोग गिरफ्तार हुए हैं।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, बुधवार (13 मार्च 2024) शाम करीब साढ़े सात बजे अजवा रोड पर एकतानगर स्थित मंदिर पर रोज की तरह हनुमान चालीसा बज रही थी। इसी बीच मुस्लिमों की भीड़ वहाँ पहुँची। पहले दोनों पक्षों के बीच बहस हुई, फिर मारपीट हुई और बाद में पथराव होने लगा। इस दौरान वहाँ 25 से 30 लोग जुटे। स्थानीय हिंदुओं का कहना है कि हनुमान चालीसा को बंद कराने के लिए मुस्लिम भीड़ ने सारा हंगामा किया तो वहीं पुलिस का कहना है कि हंगामा आवाज बंद कराने को लेकर हुआ था।

दिव्य भास्कर की रिपोर्ट के मुताबिक, सबसे पहले मंदिर में हरीश सारनिया और दीपक सारनिया नाम के दो युवक मौजूद थे। उनके पास पहले राहिल शेख और अन्य मुस्लिम समुदाय के लोग आए और उनसे भिड़ने लगे। इसके बाद मारपीट हुई और फिर पथराव होने लगा। मुस्लिम भीड़ ने इस दौरान मंदिर में उपद्रव किया और वहाँ लगे लाउडस्पीकर भी तोड़ दिए। मारपीट में दीपक, हरीश और राहिल घायल हो गए जिन्हें बाद में अस्पताल ले जाया गया। वहीं, सूचना मिलते ही पुलिस तुरंत मौके पर पहुँची और स्थिति को नियंत्रित किया। देर रात पुलिस तक पुलिस इलाके में मौजूद रही।

FIR दर्ज, 3 आरोपित गिरफ्तार

इस मामले में अब तक 5 मुस्लिम और 2 हिंदू युवकों के खिलाफ बापोड थाने में एफआईआर की गई है। आरोपितों में राहिल शेख, आसिफ शेख, सेजान अंसारी, हुसैन लतीफ, दीपक और हरीश सरानिया का नाम शामिल है।

घटना के संबंध में वडोदरा के संयुक्त पुलिस आयुक्त मनोज निनामा ने कहा, “एकता नगर एक हिंदू-मुस्लिम आबादी वाला क्षेत्र है। यहाँ माइक बजाने को लेकर पहले बहस हुई और फिर वह बहस मारपीट में बदल गई। इस संबंध में बापोड़ थाने में कार्रवाई चल रही है। तीनों घायलों का इलाज हो रहा है, उन्हें कोई गंभीर चोट नहीं है और उनकी हालत में भी सुधार है। घायलों में 2 हिंदू और 1 मुस्लिम है। इलाके में अब शांति है।”

उन्होंने बताया कि वो मामले की जाँच वीडियो फुटेज,गवाहों और विभिन्न स्थानों पर मौजूद अन्य सबूतों के आधार पर कर रहे हैं। प्रारंभिक चरण की जाँच के बाद सख्त कार्रवाई की जाएगी और जिन लोगों ने भी आम जन जीवन को प्रभावित किया है उन आसामाजिक तत्वों के खिलाफ कार्रवाई में कोई समझौता नहीं किया जाएगा। इस मामले में तीन आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया गया जबकि बाकी की तलाश अभी जारी है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

नेपाल में गिरी चीन समर्थक प्रचंड सरकार, विश्वास मत हासिल नहीं कर पाए माओवादी: सहयोगी ओली ने हाथ खींचकर दिया तगड़ा झटका

नेपाल संसद के निचले सदन प्रतिनिधि सभा में अविश्वास प्रस्ताव पर हुए मतदान में प्रचंड मात्र 63 वोट जुटा पाए। जिसके बाद सरकार गिर गई।

उधर कॉन्ग्रेसी बक रहे गाली पर गाली, इधर राहुल गाँधी कह रहे – स्मृति ईरानी अभद्र पोस्ट मत करो: नेटीजन्स बोले – 98 चूहे...

सवाल हो रहा है कि अगर वाकई राहुल गाँधी को नैतिकता का इतना ज्ञान है तो फिर उन्होंने अपने समर्थकों के खिलाफ कभी कार्रवाई क्यों नहीं की।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -