Thursday, September 16, 2021
Homeदेश-समाजशाने अली से प्रेम में हस्मतुल निशा ने करवाई होने वाले शौहर मनीष की...

शाने अली से प्रेम में हस्मतुल निशा ने करवाई होने वाले शौहर मनीष की हत्या, माँस काटने वाले चाकू से किए ताबड़तोड़ वार

हस्मतुल निशा को पकड़ने के बाद चिकन का काम करने वाले उसके प्रेमी शाने अली, उसके दोस्त अरकान, संजू गौतम, अमन कश्यप, समीर मोहम्मद को गिरफ्तार करके उनके पास से चाकू, डॉग, चैन, मोटरसाइकिल, 6 मोबाइल सहित सामान बरामद किया गया।

उत्तर प्रदेश के लखनऊ में एक हत्या के मामले में पुलिस ने एक महिला और उसके प्रेमी समेत 6 लोगों को गिरफ्तार किया है। हस्मतुल निशा नाम की महिला पर आरोप है कि उसने शाने अली नाम के अपने प्रेमी से निकाह करने के लिए अपने मंगेतर मनीष को धोखे से सुनसान जगह पर बुलवाकर बेहरमी से मौत के घाट उतरवा दिया।

दैनिक जागरण की रिपोर्ट के अनुसार बंथरा निवासी मनीष उर्फ शहाबुद्दीन की चाकुओं से गोदकर हत्या की गई। उसका शव खून से लथपथ अवस्था में कल्ली पूरब के बाबूखेड़ा में निजी प्लॉन्टिंग साइड के पीछे खेत में मिला। शव से थोड़ी दूर पर मिली मृतक की बाइक से पुलिस ने उसके परिजनों का पता लगाया।

इसके बाद मनीष के भाई अनीश ने इस केस में हसमतुल निशा और उसके दो भाइयों के विरुद्ध केस दर्ज कराया। पड़ताल में पता चला कि हस्मतुल निशा का कल्ली पश्चिम निवासी चिकन का काम करने वाले शाने अली उर्फ सानू के साथ प्रेम संबंध थे। मगर, परिवार वाले उसके प्रेम संबंध के खिलाफ थे, इसलिए उससे सारे रिश्ते तुड़वाकर 6 माह पूर्व उसकी शादी मनीष से तय कर दी थी।

डीसीपी के अनुसार, आरोपित महिला हस्मतुल निशा ने पहले तो इस संबंध में मुँह नहीं खोला, लेकिन बाद में सख्ती से पूछताछ में उसने पूरे घटनाक्रम के बारे में बताया। उसके मुताबिक पहले उसने अपने प्रेमी को हत्या के लिए मनाया, उसके बाद एक बर्थडे पार्टी में शामिल होने को कहा।

मनीष, ट्रांस्पोर्ट नगर में जहाँ काम करता था वहाँ से 1 हजार रुपए लेकर पार्टी में जाने की बात कहकर निकला और बताए गए स्थान पर पहुँचा। इसके बाद मुख्य आरोपित शाने अली ने अपने दोस्तों को बुलाया। फिर पीजीआई क्षेत्र के एक निजी स्कूल के पास से उसे उसकी होने वाली बीवी से मिलाने की बात कहकर अपने साथ ले गया। वहाँ उन्होंने डॉग चेन से मनीष का गला दबाया और माँस काटने वाले चाकू से सीने पर ताबड़तोड़ कई वार किए। बाद में मोटरसाइकिल से मौके से फरार हो गए।

डीसीपी ने यह भी बताया कि उन्हें मामले की जाँच में सीडीआर के जरिए महत्तवपूर्ण सुराग मिले थे। इसी के बाद सारी जाँच को आगे बढ़ाया गया। हस्मतुल निशा को पकड़ने के बाद चिकन का काम करने वाले उसके प्रेमी शाने अली, उसके दोस्त अरकान, संजू गौतम, अमन कश्यप, समीर मोहम्मद को गिरफ्तार करके उनके पास से चाकू, डॉग, चैन, मोटरसाइकिल, 6 मोबाइल सहित सामान बरामद किया गया।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

प्राचीन महादेवम्मा मंदिर विध्वंस मामले में मैसूर SP को विहिप नेता ने लिखा पत्र, DC और तहसीलदार के खिलाफ कार्रवाई की माँग

विहिप के नेता गिरीश भारद्वाज ने मैसूर के उपायुक्त और नंजनगुडु के तहसीलदार पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए SP के पास शिकायत दर्ज कराई है।

कोहाट दंगे: खिलाफ़त आंदोलन के लिए हुई ‘डील’ ने कैसे करवाया था हिंदुओं का सफाया? 3000 का हुआ था पलायन

10 सितंबर 1924 को करीबन 4000 की मुस्लिम भीड़ ने 3000 हिंदुओं को इतना मजबूर कर दिया कि उन्हें भाग कर मंदिर में शरण लेनी पड़ी। जो पीछे छूटे उन्हें मार डाला गया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
122,733FollowersFollow
409,000SubscribersSubscribe