Thursday, July 25, 2024
Homeदेश-समाजआगजनी, पत्थरबाजी, RSS कर्यकर्ता पर जानलेवा हमला, अनुष्ठान को डंडाधारी भीड़ ने घेरा, शोभा...

आगजनी, पत्थरबाजी, RSS कर्यकर्ता पर जानलेवा हमला, अनुष्ठान को डंडाधारी भीड़ ने घेरा, शोभा यात्रा को बनाया निशाना: इधर राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा, उधर झारखंड में हिंसा

झारखंड के गिरिडीह में तनाव की तीन घटनाएँ सामने आई। इसमें कई लोग घायल हो गए। पहली घटना शहर के लाइन मस्जिद के पास हुई और दूसरी घटना पूर्णानगर में हुई जो मुफस्सिल थाना क्षेत्र के अंतर्गत आता है।

अयोध्या में रामलला के भव्य मंदिर में एक तरफ उनकी प्राण प्रतिष्ठा हो रही थी, तो दूसरी तरफ पूरी दुनिया में भगवान राम के लिए शोभायात्रा निकाली जा रही थी। इस बीच, झारखंड में हिंदुओं से नफरत का अलग ही स्तर देखने को मिला, जिसमें कई जगहों पर शोभा यात्राओं पर हमलों की खबर है। झारखंड के कई जिलों से ऐसी खबरें सामने आई, जिसमें जिहादी भीड़ ने हिंदुओं की शोभायात्राओं पर पत्थरबाजी की, हमले किए।

गिरिडीह में तनाव की कई घटनाएँ

झारखंड के गिरिडीह में तनाव की 3 घटनाएँ सामने आई। इसमें कई लोग घायल हो गए। पहली घटना शहर के लाइन मस्जिद के पास हुई और दूसरी घटना पूर्णानगर में हुई जो मुफस्सिल थाना क्षेत्र के अंतर्गत आता है। यहाँ दो समुदाय के बीच पत्थरबाजी हुई, जिसमें कई लोगों को मामूली चोटें आई। उन्हें इलाज के लिए सदर अस्पताल गिरिडीह में भर्ती कराया गया। गिरिडीह के एसपी दीपक कुमार शर्मा ने दोनों घटनाओं की पुष्टि की और बताया कि दोनों जगह पर भारी सुरक्षा बल तैनात कर दिया गया है। पुलिस ने गिरिडीह में घटी घटना के मामले में तत्काल कार्रवाई करते हुए मोहम्मद जाबिर नामक एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया है।

गिरिडीह में तनाव के कई मामले दर्ज किए गए। ऐसे ही एक मामले में आजाद नगर के पास RSS कार्यकर्ता बिरनी के रोहित महतो पर जानलेवा हमला किया गया। इससे वे गंभीर रूप से घायल हो गए। वहीं, मुफस्सिल थाना क्षेत्र के चुंजका के पास जमकर पथराव हुआ। बताया गया कि पूर्णानगर राम मंदिर के पास से लोग जुलूस निकालकर चुंजका ‘बजरंग बली’ मंदिर जा रहे थे। मंदिर के पास पहुँचने के बाद दूसरे समुदाय के लोगों ने घरों की छत से पथराव शुरू कर दिया, जिसमें कई लोग घायल हो गए। इस मामले में मौके पर पहुँची पुलिस के कई जवान भी घायल हो गए।

लोहरदगा के कैरो में तनाव

झारखंड के लोहरदगा में भी तनाव की खबरें सामने आई है। यहाँ कैरो थाना क्षेत्र के हनहट गाँव में सोमवार (22 जनवरी, 2024) की देर रात अयोध्या में प्राण प्रतिष्ठा अनुष्ठान को लेकर उत्सव मनाया जा रहा था। इसी बीच मंदिर में गाना बजाने के दौरान दोनों पक्ष के लोग आमने-सामने हो गए और लाठी डंडे के साथ भीड़ ने मंदिर को घेर लिया। एसपी हारिस बिन जमा ने घटना की पुष्टि करते हुए कहा कि तनावपूर्ण स्थिति को देखते हुए पुलिस बल की तैनाती की गई है। दोनों पक्ष के लोगों के साथ बैठक कर स्थिति को सामान्य करने का प्रयास किया गया है।

धनबाद के टुंडी समेत दो जगहों पर बवाल

धनबाद के टुंडी थाना इलाके में कदैयाँ में रविवार को तनाव फैला था, इसके बाद सोमवार (22 जनवरी, 2024) की शाम को छाताबाद में जुलूस निकालने के दौरान दूसरे पक्ष के कई घरों से लोग बाहर निकल आए। फिर दोनों पक्षों के बीच बहस होते-होते मारपीट शुरू हो गई। डीएसपी अमर कुमार पांडेय समेत टुंडी थाना की पुलिस की ओर से समझाने के बाद दोनों पक्ष शांत हो गए। वहीं, रविवार (21 जनवरी, 2024) को कदैयाँ में धार्मिक झंडा लगाने को लेकर दो पक्षों के बीच भिड़ंत हुई, जिसमें कई लोग जख्मी हो गए थे। इस मामले में दोनों पक्षों की ओर से टुंडी थाना में लिखित शिकायत की गई है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘तुमलोग वापस भारत भागो’: कनाडा में अब सांसद को ही धमकी दे रहा खालिस्तानी पन्नू, हिन्दू मंदिर पर हमले का विरोध करने पर भड़का

आर्य ने कहा है कि हमारे कनाडाई चार्टर ऑफ राइट्स में दी गई स्वतंत्रता का गलत इस्तेमाल करते हुए खालिस्तानी कनाडा की धरती में जहर बोते हुए इसे गंदा कर रहे हैं।

मुजफ्फरनगर में नेम-प्लेट लगाने वाले आदेश के समर्थन में काँवड़िए, सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद बोले – ‘हमारा तो धर्म भ्रष्ट हो गया...

एक कावँड़िए ने कहा कि अगर नेम-प्लेट होता तो कम से कम ये तो साफ हो जाता कि जो भोजन वो कर रहे हैं, वो शाका हारी है या माँसाहारी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -