Friday, August 12, 2022
Homeदेश-समाजरॉकेट हमले में मारी गई केरल की सौम्या के परिवार की देखरेख करेगा इजरायल,...

रॉकेट हमले में मारी गई केरल की सौम्या के परिवार की देखरेख करेगा इजरायल, हमास पर दोतरफा वार की तैयारी

31 साल की सौम्या हमले के वक्त केरल में रह रहे अपने पति संतोष से वीडियो कॉल पर बात कर रही थी।

इजरायल और फलस्तीन के बीच जारी संघर्ष में अब तक 90 लोगों की मौत हो चुकी है। इनमें भारत के केरल की सौम्या संतोष भी हैं। इजरायल ने कहा है कि वह सौम्या के परिवार का ख्याल रखेगा।

भारत में इजरायल की उप उच्चायुक्त रॉनी येदिदिया क्लेन ने न्यूज एजेंसी एएनआई को बताया कि सौम्या के परिवार को इजरायल की ओर से न सिर्फ मुआवजा दिया जाएगा, बल्कि उनका खर्च भी उठाया जाएगा। उन्होंने कहा, “परिवार का ध्यान इजरायल की ओर से रखा जाएगा और जो हुआ उसके लिए मुआवजा दिया जाएगा। हालाँकि एक माँ और पत्नी के जाने की भरपाई कोई नहीं कर सकता।”

उन्होंने कहा, “हम परिवार के संपर्क में हैं। जब यह हादसा हुआ तो वह अपने पति से बात कर रही थी और मैं यह अंदाजा लगा सकती हूँ कि उनके पति के लिए यह कितना भयानक होगा। वह जो महसूस कर रहे होंगे उसको लेकर मैं सिर्फ संवेदना ही जाहिर कर सकती हूँ।”

उन्होंने बताया कि राजदूत ने उनके परिवार से बात कर पूरे इजरायल की तरफ से संवेदना जाहिर की थी। हम परिवार और तेल अवीव में भारतीय दूतावास के संपर्क में हैं और शव लाने का इंतजाम किया जा रहा है।

गौरतलब है कि 31 साल की सौम्या संतोष की मौत फलस्तीनी आतंकी संगठन हमास के रॉकेट हमले की चपेट में आने से हुई थी। जब हमला हुआ उस वक्त वह केरल में रह रहे अपने पति संतोष से वीडियो कॉल पर बात कर रही थी।

मूल रूप से केरल के इडुकी की रहने वाली सौम्या इजरायल के अश्कलोन शहर में जिस घर में रह रही थी, वह रॉकेट की चपेट में आ गया था। संतोष के भाई साजी ने बताया था, “मेरे भाई ने वीडियो कॉल के दौरान जोरदार धमाका सुना। अचानक फोन कट गया। तब हमने तुरंत वहाँ काम कर रहे अन्य मलयाली लोगों से संपर्क किया और हमें इस घटना के बारे में जानकारी मिली।” सौम्या सात सालों से इजरायल में थी और एक बुजुर्ग महिला की देखभाल कर रही थीं। उनका एक नौ साल का बेटा भी है जो केरल में अपने पिता के साथ रहता है।

दूसरी ओर इजरायल और फलस्तीन का संघर्ष लगातार तेज होता जा रहा। हमास का युद्धविराम प्रस्ताव ठुकराने के बाद इजरायल दोतरफा हमले की तैयारी में हैं। बताया जा रहा है कि हवाई हमलों के साथ-साथ जमीन हमले की खाका तैयार कर लिया गया है। रिपोर्टों के अनुसार संघर्ष शुरू होने के बाद से इजरायल पर 1600 से ज्यादा रॉकेट दागे जा चुके हैं। जवाब में वह गाजा में 600 से अधिक ठिकानों को निशाना बना चुका है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘मानसखण्ड मंदिर माला मिशन’ के जरिए प्राचीन मंदिरों को आपस में जोड़ेंगे CM धामी, माँ वाराही देवी मंदिर में पूजा-अर्चना कर बगवाल में हुए...

सीएम धामी ने कुमाऊँ के प्राचीन मंदिरों को भव्य बनाने और उन्हें आपस में जोड़ने के लिये मानसखण्ड मंदिर माला मिशन की शुरुआत की।

जैश के संदिग्ध आतंकी मोहम्मद नदीम को यूपी ATS ने किया गिरफ्तार, नूपुर शर्मा की हत्या का था प्लान, पाकिस्तान से जुड़े तार

यूपी के सहारनपुर से एटीएस ने जैश-ए-मोहम्मद और पाकिस्तान के संगठन तहरीक-ए-तालिबान से जुड़े संदिग्ध आतंकी को गिरफ्तार किया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
213,239FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe