Saturday, July 13, 2024
Homeदेश-समाजडॉक्टर के साथ मारपीट के मामले में कुमार विश्वास ने माँगी माफी, काफिले पर...

डॉक्टर के साथ मारपीट के मामले में कुमार विश्वास ने माँगी माफी, काफिले पर हमले का पुलिस को नहीं मिला कोई सबूत

पुलिस आयुक्त अजय कुमार मिश्र ने बताया कि कुमार विश्वास ने हमले का जो आरोप लगाया है, प्रारंभिक जाँच में उसकी पुष्टि नहीं हुई है। पूरे मामले की जाँच की जा रही है।

मशहूर कवि डॉक्टर कुमार विश्वास ने बुधवार (9 नवंबर, 2023 ) की शाम को सोशल मीडिया एक पर पोस्ट किया कि उनके सुरक्षाकर्मियों की कार को एक कार ने आगे-पीछे से धक्का मार दिया। जब सुरक्षाकर्मी उतरकर उससे बात करने लगे तो कार चालक ने सुरक्षाकर्मियों की पिटाई कर दी। वहीं अब इस मामले में किरकिरी होने के बाद कुमार ने माफी माँग ली है।

दरअसल, वसुंधरा स्थित निवास से अलीगढ़ जा रहे कवि डॉ. कुमार विश्वास के काफिले में शामिल सुरक्षाकर्मियों की कार को साइड देने के दौरान टकराने को लेकर मारपीट का मामला सामने आया है। कुमार विश्वास ने आरोप लगाया है कि दूसरी कार में सवार व्यक्ति ने यूपी पुलिस के सिपाही और केंद्रीय सुरक्षाकर्मियों पर हमला कर दिया।

डॉक्टर ने भी लगाया हमले का आरोप 

कुमार विश्वास के आरोप के बाद थोड़ी ही देर में दूसरे पक्ष के डॉक्टर क्टर पल्लव वाजपेयी ने दावा किया कि कुमार विश्वास के सुरक्षाकर्मियों ने उनके साथ मारपीट की है। डॉक्टर का कहना था कि वह वैशाली के आरोग्य अस्पताल से विजयनगर के निजी अस्पताल में आपात स्थिति के लिए जा रहे थे तभी कुमार विश्वास के सुरक्षकर्मियों ने उनकी पिटाई कर दी। दोनों पक्षों ने एक दूसरे के खिलाफ हमला करने की शिकायत पुलिस से की। 

डॉ वाजपेयी ने डायल- 112 पर पुलिस को भी सूचना दी थी। उन्होंने कहा कि काफी देर तक वह घटनास्थल पर इंतजार करते रहे लेकिन पुलिस नहीं पहुँची। इसके बाद वह इंदिरापुरम कोतवाली पहुँचे और लिखित शिकायत देकर कार्रवाई की गुहार लगााई।

इसके बाद डॉक्टर के समर्थन में पहुँचे आईएमए के पदाधिकारियों ने चेतावनी दी है कि अगर कुमार विश्वास के सुरक्षाकर्मियों पर कार्रवाई नहीं हुई तो वे खामोश नहीं बैठेंगे। वहीं जब पुलिस ने इस मामले की जाँच शुरू की तो शुरुआती जाँच में पुलिस ने भी यही कहा है कि कुमार विश्वास के काफिले पर हमले का कोई सुबूत नहीं मिला है। 

पुलिस की जाँच के बाद ट्रोल हुए कुमार विश्वास

पुलिस आयुक्त अजय कुमार मिश्र ने बताया कि कुमार विश्वास ने हमले का जो आरोप लगाया है, प्रारंभिक जाँच में उसकी पुष्टि नहीं हुई है। पूरे मामले की जाँच की जा रही है। वहीं जैसे ही पुलिस का बयान आया कि कुमार विश्वास पर हमले का कोई सबूत नहीं मिला है।

पुलिस के इस दावे के सामने आने के बाद से ही कुमार विश्वास को सोशल मीडिया पर ट्रोल किया जा रहा है। हालाँकि  कुमार विश्वास ने मामला साफ होने के बाद सोशल मीडिया पर लंबा पोस्ट डालकर माफी माँग ली है लेकिन लोग अभी भी उन्हें ट्रोल कर रहे हैं।

एक पत्रकार के पोस्ट पर कुमार ने दी सफाई

हर्षवर्धन त्रिपाठी नाम के वरिष्ठ पत्रकार ने भी कुमार विश्वास के पहले ट्वीट पर सवाल उठाते हुए इसे उनका घमंड बताया था।

इस पर कुमार विश्वास ने हर्षवर्धन त्रिपाठी को रिप्लाई करते हुए सफाई दी है। 

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

महाराष्ट्र विधान परिषद चुनाव में NDA की बड़ी जीत, सभी 9 उम्मीदवार जीते: INDI गठबंधन कर रहा 2 से संतोष, 1 सीट पर करारी...

INDI गठबंधन की तरफ से कॉन्ग्रेस, शिवसेना UBT और PWP पार्टी ने अपना एक-एक उमीदवार उतारा था। इनमें से PWP उम्मीदवार जयंत पाटील को हार झेलनी पड़ी।

नेपाल में गिरी चीन समर्थक प्रचंड सरकार, विश्वास मत हासिल नहीं कर पाए माओवादी: सहयोगी ओली ने हाथ खींचकर दिया तगड़ा झटका

नेपाल संसद के निचले सदन प्रतिनिधि सभा में अविश्वास प्रस्ताव पर हुए मतदान में प्रचंड मात्र 63 वोट जुटा पाए। जिसके बाद सरकार गिर गई।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -