Monday, July 26, 2021
Homeदेश-समाजसेलेब्रिटी की तरह हाथ हिलाता और माला पहन गुजरात जेल में शिफ्ट हुआ '188...

सेलेब्रिटी की तरह हाथ हिलाता और माला पहन गुजरात जेल में शिफ्ट हुआ ‘188 केसों वाला राक्षस’

पुलिस के शिकंजे में होने के बावजूद अतीक अहमद किसी सेलेब्रिटी की तरह हाथ हिला कर अभिवादन स्वीकार करते हुए चलता नज़र आया। अतीक को इससे पहले बरेली जेल से देवरिया जेल भेज दिया गया था।

गले में फूलों की माला, साथ में समर्थकों का हुजूम, आसपास कानून के प्रहरी लेकिन उन सबसे निडर मुस्कुराता हुआ चेहरा और तनी मूँछों के साथ निकल रहा कोई शख्स- पहली नज़र में तो लगता है कि किसी नेता की बात हो रही है। लेकिन नहीं, यह कोई नेता नहीं बल्कि कभी मुलायम सिंह यादव का प्यारा रहा अतीक अहमद है। वही ‘राक्षस’, जो गर्व से ख़ुद पर 188 केस दर्ज होने का बखान करता है। अतीक अहमद को उत्तर प्रदेश से गुजरात जेल में शिफ्ट किया गया है क्योंकि वह जेल से ही सारे कुकर्म करने लगा था और प्रशासन उस पर लगाम लगाने में नाकाम साबित हुआ।

अतीक को अहमदाबाद के साबरमती सेंट्रल जेल में शिफ्ट किया गया है। एअरपोर्ट पर जब अतीक अहमद उतरा, तो साथ में पुलिस होने के बावजूद उसके समर्थकों ने उसका स्वागत किसी बड़े नेता की तरह किया। उसे विमान से वाराणसी से अहमदाबाद ले जाया गया। ट्रान्सफर करने से पहले उसका मेडिकल परीक्षण किया गया। हत्या, अपहरण और फिरौती सहित कई मामलों का आरोपित अतीक को गुजरात पुलिस ने अपने शिकंजे में लेकर अहमदाबाद जेल में शिफ्ट किया। उसके अपराधिक इतिहास को देखते हुए 23 अप्रैल को सुप्रीम कोर्ट ने उसे गुजरात के किसी जेल में स्थानांतरित करने का आदेश दिया था।

पत्रकार रोहित सरदाना ने तंज कसते हुए पूछा कि इसकी वेशभूषा और दमदार चाल देख कर कौन कह सकता है कि ये एक माफिया डॉन है। पुलिस के शिकंजे में होने के बावजूद अतीक अहमद किसी सेलेब्रिटी की तरह हाथ हिला कर अभिवादन स्वीकार करते हुए चलता नज़र आया। अतीक को इससे पहले बरेली जेल से देवरिया जेल भेज दिया गया था। दोनों ही जेलों में उस पर कारोबारियों को बुला कर पिटाई करने व उनकी संपत्ति हथिया लेने का आरोप लगा था। अतीक पर बसपा विधायक राजू पाल की हत्या का आरोप है।

एयरपोर्ट पर अतीक अहमद की जेब में 2000 रुपए के नोटों की गड्डियाँ साफ़-साफ़ झलक रही थीं। अतीक अहमद का स्थानांतरण सुचारू रूप से कराने के लिए डिप्टी जेलर, सीओ व दो वाहन अतिरिक्त पुलिस बल भी प्रयागराज से वाराणसी पहुँचा था। एयरपोर्ट से अतीक अहमद को 9.45 बजे वाराणसी से अहमदाबाद जाने वाली स्पाइसजेट के विमान एसजी 972 से अहमदाबाद भेज दिया गया। दैनिक जागरण ने लिखा, “किसी अन्य अपराधी के साथ बेहद खराब व्यवहार करने वाली उत्तर प्रदेश पुलिस अतीक अहमद को वीआइपी ट्रीटमेंट दे रही है। जेब में नोट की गड्डी देखते ही एयरपोर्ट पर लगे सुरक्षा कर्मी अतीक के मुरीद होने लगे।”

दैनिक जागरण ने अतीक अहमद के स्थानांतरण को लेकर यूपी पुलिस को कटघरे में खड़ा किया

इलाहाबाद पश्चिम से 5 बार विधायक रहा अतीक इस बार पीएम मोदी के ख़िलाफ़ वाराणसी से ताल ठोकने का मन बना चुका था, लेकिन अंत समय में उसने पाँव पीछे खींच लिया। वह फूलपुर लोकसभा क्षेत्र से समाजवादी पार्टी के टिकट पर सांसद भी रह चुका है। 2016 में कृषि विश्वविद्यालय (SHUATS) के कर्मचारियों की उसने बुरी तरह पिटाई की थी। इस घटना के बाद अखिलेश सरकार की ख़ूब भद्द पिटी थी। फिलहाल उसे गुजरात की जेल में शिफ्ट कर दिया गया है, देखना यह है कि अब उसके ख़िलाफ़ शिकायतों का आना कम होता है या नहीं।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

पेगासस पर भड़के उदित राज, नंगी तस्वीरें वायरल होने की चिंता: लोगों ने पूछा – ‘फोन में ये सब रखते ही क्यों हैं?’

पूर्व सांसद और खुद को 'सबसे बड़ा दलित नेता' बताने वाले उदित राज ने आशंका जताई कि पेगासस ने कितनों की नंगी तस्वीर भेजी होगी या निजता का उल्लंघन किया होगा।

कारगिल के 22 साल: 16 की उम्र में सेना में हुए शामिल, 20 की उम्र में देश पर मर मिटे

सुनील जंग ने छलनी सीने के बावजूद युद्धभूमि में अपने हाथ से बंदूक नहीं गिरने दी और लगातार दुश्मनों पर वार करते रहे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,222FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe