Sunday, July 21, 2024
Homeदेश-समाजनशे में धुत लड़कियों ने गार्ड को पीटा, गिरेबान पकड़ कर दी गंदी-गंदी गालियाँ:...

नशे में धुत लड़कियों ने गार्ड को पीटा, गिरेबान पकड़ कर दी गंदी-गंदी गालियाँ: देखती रही पुलिस, वीडियो वायरल होने के बाद गिरफ़्तारी

इस पूरी घटना का वीडियो सोशल मीडिया में तेजी से वायरल हो रहा है। वायरल वीडियो में एक लड़की गार्ड की कॉलर पकड़े हुए दिखाई दे रही है।

उत्तर प्रदेश के नोएडा में गार्ड्स के साथ बदसलूकी के मामले बढ़ते जा रहे हैं। हाल ही में, नोएडा के सेक्टर 121 की अजनारा होम्स हाउसिंग सोसायटी (Ajnara Homes Housing Society) में सरेआम गार्ड से बदसलूकी का मामला सामने आया है। अजनारा होम्स हाउसिंग सोसायटी के गार्ड को पीटने वाली लड़कियाँ नशे में धुत थीं। बड़ी बात यह है कि जब गार्ड के साथ अभद्रता हो रही थी, तब वहाँ खड़ी पुलिस मूकदर्शक बनी हुई थी।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, नोएडा के फेज-3 अंतर्गत सेक्टर 121 स्थित अजनारा होम्स हाउसिंग सोसायटी के गेट पर पंकज नामक गार्ड ड्यूटी कर रहा था। इस दौरान, देर रात सोसायटी की ही तीन लड़कियाँ नशे की हालत में वहाँ पहुँची। गार्ड ने उनकी गाड़ी पर स्टिकर न होने के कारण उन्हें रोका तो वह भड़क गईं। इसके बाद, नशे में धुत लड़कियों ने गार्ड का गिरेबान पकड़ लिया और उसके साथ बदसलूकी करने लगीं।

इस दौरान, जब वहाँ मौजूद अन्य गार्ड्स ने लड़कियों को रोकने की कोशिश की तो वह और भड़क गईं और सोसायटी के गेट पर ही बवाल करने लग गईं। यही नहीं, लड़कियों ने गार्ड को गंदी-गंदी गालियाँ भी दी हैं। इस पूरी घटना का वीडियो सोशल मीडिया में तेजी से वायरल हो रहा है। वायरल वीडियो में एक लड़की गार्ड की कॉलर पकड़े हुए दिखाई दे रही है।

इस घटना का वीडियो सामने आने के बाद पुलिस ने तीनों लड़कियों के खिलाफ कार्रवाई शुरू कर दी है। हालाँकि, अब तक सिर्फ दो लड़कियों को ही गिरफ्तार कर धारा 151 के तहत चालान किया गया है। जबकि एक लड़की फरार बताई जा रही है। इस मामले में सेंट्रल नोएडा के एडिशनल डीसीपी साद मियाँ का कहना है कि अजनारा होम्स सोसायटी में कुछ महिलाओं द्वारा देर रात नशे की हालत में गार्ड के साथ बदसलूकी की गई थी। शिकायत के आधार पर महिलाओं के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है।

सिक्यॉरिटी गार्ड्स के साथ आए दिन हो रही है हिंसा

हाल ही में, सिक्यॉरिटी गार्ड्स के साथ हुई हिंसा की कई घटनाएँ सामने आई हैं। बीते माह 2 सितंबर को मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल से सिक्योरिटी गार्ड्स की हत्या के आरोप में शिवप्रसाद नामक सीरियल किलर को गिरफ्तार किया गया। इस सीरियल किलर को सिक्यॉरिटी गार्ड्स का सोना पसंद नहीं था, इसलिए उसने 6 सिक्यॉरिटी गार्ड्स को मौत के घाट उतार दिया था।

इसके अलावा, गत महीने उत्तर प्रदेश नोएडा से ही सिक्यॉरिटी गार्ड्स के साथ बदसलूकी और हिंसा की दो खबरें सामने आई थीं। पहली घटना, नोएडा के फेज-3 के क्लियो काउंटी सोसायटी का है। जहाँ, महिला प्रोफेसर ने सिक्यॉरिटी गार्ड को लगातार तमाचे जड़ते हुए गंदी-गंदी गालियाँ दीं थीं। इस घटना का वीडियो भी सोशल मीडिया में वायरल हुआ था।

नोएडा की दूसरी घटना सेक्टर-126 के जेपी सोसायटी की है। जहाँ, एक महिला वकील गालीबाज महिला वकील भव्या रॉय ने गेट खोलने में हुई देरी के चलते सिक्यॉरिटी गार्ड को गालियाँ देते हुए मारपीट की थी। इस मामले में, पुलिस ने गालीबाज महिला के खिलाफ IPC (भारतीय दंड संहिता) की धाराओं 153-A (भाषा/नस्ल को लेकर अपमानजनक टिप्पणी), 323 (किसी को स्वेच्छा से चोट पहुँचाना), 504 (उकसाना), 505(2) (विभिन्न समुदायों में वैमनस्य पैदा करना) और 506 (आपराधिक धमकी) के तहत मामला दर्ज करते हुए गिरफ्तार किया गया था।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘कमाल का है PM मोदी का एनर्जी लेवल, अनुच्छेद-270 हटाने के लिए चाहिए था दम’: बोले ‘दृष्टि’ वाले विकास दिव्यकीर्ति – आर्य समाज और...

विकास दिव्यकीर्ति ने बताया कि कॉलेज के दिनों में कई मुस्लिम दोस्त उनसे झगड़ा करते थे, क्योंकि उन्हें RSS के पक्ष से बहस करने वाला माना जाता था।

हर दिन 14 घंटे करो काम, कॉन्ग्रेस सरकार ला रही बिल: कर्नाटक में भड़का कर्मचारियों का संघ, पहले थोपा था 75% आरक्षण

आँकड़े कहते हैं कि पहले से ही 45% IT कर्मचारी मानसिक समस्याओं से जूझ रहे हैं, 55% शारीरिक रूप से दुष्प्रभाव का सामना कर रहे हैं। नए फैसले से मौत का ख़तरा बढ़ेगा।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -