Thursday, July 18, 2024
Homeदेश-समाजखालिस्तानी अमृतपाल की धमकी, पंजाब पुलिस ने कैंसल की FIR… गिरफ्तार को बताया 'मासूम':...

खालिस्तानी अमृतपाल की धमकी, पंजाब पुलिस ने कैंसल की FIR… गिरफ्तार को बताया ‘मासूम’: 1 घंटे के अल्टीमेटम में सब कुछ

खालिस्तानी अमृतपाल सिंह की धमकियों के बाद पंजाब पुलिस का बयान पढ़िए - "जो सबूत दिए गए हैं, उससे साबित होता है कि लवप्रीत तूफान बेकसूर है और उसे जल्दी ही रिहा कर दिया जाएगा।" - यह बयान अमृतसर के एसएसपी और पुलिस कमिश्नर दोनों का है।

खालिस्तान समर्थक ‘वारिस पंजाब दे’ के चीफ अमृतपाल सिंह की धमकियों के आगे पंजाब पुलिस ने सरेंडर कर दिया है। अमृतसर के अजनाला थाने पर खालिस्तान समर्थकों के हमले के बाद मीडिया के सामने आए अमृतपाल सिंह ने पहले प्रशासन को 1 घंटे में एफआईआर वापस लेने की धमकी दी। उसके बाद किडनैपिंग और मारपीट के आरोप में गिरफ्तार लवप्रीत तूफान को छोड़ने के लिए 24 घंटों का वक्त दिया।

पत्रकारों से बात करते हुए अमृतपाल सिंह ने कहा कि पुलिस वालों के घायल होने संबंधी खबरें झूठी हैं। जिन पुलिस वालों को चोटें आई, वो खुद ही गिर गए थे। धमकी देते हुए उसने कहा कि 24 घंटों के भीतर तूफान सिंह की रिहाई हो जानी चाहिए क्योंकि वो 24 घंटे भी इंतजार नहीं कर सकते। इसके बाद अमृतपाल सिंह ने गृहमंत्री अमित शाह को दी गई धमकी को भी दोहराया।

अमृतपाल सिंह की धमकियों के बाद पंजाब पुलिस का बयान आया। अमृतसर के एसएसपी और पुलिस कमिश्नर ने एक सुर में कहा कि उनको जो सबूत दिए गए हैं, उससे साबित होता है कि लवप्रीत तूफान बेकसूर है और उसे जल्दी ही रिहा कर दिया जाएगा। मामले की जाँच के लिए एसआईटी गठित की गई है। कानून अब अपना काम करेगी।

शिरोमणि अकाली दल के लोग भी अमृतपाल के समर्थन में उतर आए हैं। SAD नेता हरपाल सिंह ने कहा है कि अमृतपाल और तूफान सिंह के खिलाफ झूठा मुकदमा दर्ज किया गया था। प्रशासन ने गलती मान ली है। तूफान सिंह को कल रिहा कर दिया जाएगा।

अमृतपाल ने कहा, “अमित शाह ने कहा था कि खालिस्तान आंदोलन को नहीं बढ़ने देंगे। मैंने कहा था कि इंदिरा गाँधी ने भी ऐसा ही किया था। अगर आप ऐसा करते हैं तो आपको परिणाम भुगतने होंगे। अगर गृह मंत्री ‘हिंदू राष्ट्र’ की माँग करने वालों से यही कहते हैं, तो मैं देखूँगा कि वह गृहमंत्री बने रहते हैं या नहीं।”

बता दें कि हथियारों से लैश खालिस्तान समर्थकों (Khalistan Supporter) ने गुरुवार (23 फरवरी 2023) को अमृतसर स्थित अजनाला थाने पर हमला कर दिया। हमलावर अमृतपाल सिंह के खिलाफ FIR और उसके करीबी लवप्रीत तूफान की गिरफ्तारी का विरोध कर रहे थे। अमृतपाल और उसके साथियों के खिलाफ फेसबुक पोस्ट के लिए युवक को अगवा कर मारपीट का आरोप है। इसके अलावा अमृतपाल ने गृहमंत्री अमित शाह को पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गाँधी जैसा हश्र करने की धमकी दी है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

साथियों ने हाथ-पाँव पकड़ा, काज़िम अंसारी ने ताबतोड़ घोंपा चाकू… धराया VIP अध्यक्ष मुकेश सहनी के पिता का हत्यारा, रात के डेढ़ बजे घर...

घटना की रात काज़िम अंसारी ने 10-11 बजे के बीच रेकी भी की थी जो CCTV में कैद है। रात के करीब डेढ़ बजे ये लोग पीछे के दरवाजे से घर में घुसे।

प्राइवेट नौकरियों में 75% आरक्षण वाले बिल पर कॉन्ग्रेस सरकार का U-टर्न, वापस लिया फैसला: IT कंपनियों ने दी थी कर्नाटक छोड़ने की धमकी

सिद्धारमैया के फैसले का भारी विरोध भी हो रहा था, जिसकी वजह से कॉन्ग्रेसी सरकार बुरी तरह से घिर गई थी। यही नहीं, इस फैसले की जानकारी देने वाले ट्वीट को भी मुख्यमंत्री को डिलीट करना पड़ा था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -