Sunday, July 14, 2024
Homeदेश-समाज'मैं ब्राह्मण हूँ, इसलिए...' - क्रिकेट की कमेंट्री में सुरेश रैना ने कहा, सोशल...

‘मैं ब्राह्मण हूँ, इसलिए…’ – क्रिकेट की कमेंट्री में सुरेश रैना ने कहा, सोशल मीडिया पर बवाल, जडेजा भी लपेटे में

"मैं भी एक ब्राह्मण हूँ। 2004 से चेन्नई के साथ खेल रहा हूँ और यहाँ का कल्चर मुझे बहुत पसंद है। टीम के साथियों के साथ प्यार है। अनिरुद्ध श्रीकांत, एस बद्रीनाथ, लक्ष्मीपति बालाजी के साथ खेला हूँ। मैं भाग्यशाली रहा हूँ कि..."

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व खिलाड़ी सुरेश रैना के ‘मैं ब्राह्मण हूँ’ वाले बयान को लेकर उनकी जमकर आलोचना की जा रही है। रिपोर्ट के मुताबिक रैना को तमिलनाडु प्रीमियर लीग में कंमेंटेटर के तौर पर बुलाया गया था, जहाँ उन्होंने तमिलनाडु की संस्कृति के बारे में बात करते हुए कहा कि वो भी एक ब्राह्मण हैं, इसलिए राज्य की संस्कृति को अपनाने में उन्हें दिक्कत नहीं हुई है।

दरअसल, तमिलनाडु में सोमवार (19 जुलाई 2021) को मैच की कमेंट्री के दौरान साथी कमेंटेटर ने उनसे तमिलनाडु की संस्कृति से जुड़ा सवाल किया था। इसी के जवाब में उन्होंने यह कहा। रैना ने कहा, “मैं भी एक ब्राह्मण हूँ। 2004 से चेन्नई के साथ खेल रहा हूँ और यहाँ का कल्चर मुझे बहुत पसंद है। टीम के साथियों के साथ प्यार है। अनिरुद्ध श्रीकांत, एस बद्रीनाथ, लक्ष्मीपति बालाजी के साथ खेला हूँ। मैं भाग्यशाली रहा हूँ कि मैं चेन्नई सुपरकिंग्स की टीम में रहा हूँ औऱ उम्मीद है कि और मैच खेलूँगा।” बता दें कि रैना को चेन्नई में थाला चिन्ना के नाम से बुलाया जाता है।

गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश के रहने वाले 34 वर्षीय सुरेश रैना को तमिलनाडु प्रीमियर लीग के पाँचवें सीजन में कमेंट्री के लिए आमंत्रित किया गया था। यह मैच लाइका कोवई और सलेम स्पार्टन्स के बीच खेला गया था।

बहरहाल रैना का यह बयान सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इसको लेकर उनकी खासी आलोचनाएँ भी की जा रही हैं। उन पर जातिवाद को बढ़ावा देने का आरोप लगाया जा रहा है।

मिशन अंबेडकर नाम के सोशल मीडिया हैंडल ने रैना और रवीन्द्र जडेजा पर जाति को लेकर निशाना साधा। यूजर ने लिखा, “रैना और रवींद्र आप अपनी द्विज जाति का महिमामंडन कर सकते हैं। यह वर्ण व्यवस्था की महिमा है। लेकिन एक शूद्र और एक अछूत अपने वर्ण का महिमामंडन कैसे करेंगे?”

एक अन्य यूजर ने कहा, “सुरेश रैना आपको शर्म आनी चाहिए। आप चेन्नई के साथ लंबे समय से खेलने की बातें करते हैं, लेकिन ऐसा लगता है आप चेन्नई के बारे में जान ही नहीं पाए।”

रिपोर्ट के मुताबिक पिछले साल अप्रैल 2020 में रवींद्र जडेजा ने तलवार के साथ ट्वीट किया था, “एक तलवार अपनी चमक खो सकती है, लेकिन इसे चलाने वाला इसकी अवज्ञा कभी नहीं करता। राजपूत ब्वॉय।”

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बैकफुट पर आने की जरूरत नहीं, 2027 भी जीतेंगे’: लोकसभा चुनावों के बाद हुई पार्टी की पहली बैठक में CM योगी ने भरा जोश,...

लोकसभा चुनावों के बाद पहली बार भाजपा प्रदेश कार्यसमिति की लखनऊ में आयोजित बैठक में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कार्यकर्ताओं में जोश भरा।

जिसने चलाई डोनाल्ड ट्रंप पर गोली, उसने दिया था बाइडेन की पार्टी को चंदा: FBI लगा रही उसके मकसद का पता

पेंसिल्वेनिया के मतदाता डेटाबेस के मुताबिक, डोनाल्ड ट्रंप पर हमला करने वाला थॉमस मैथ्यू क्रूक्स रिपब्लिकन के मतदाता के रूप में पंजीकृत था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -