Tuesday, July 16, 2024
Homeराजनीतिगरीबों का राशन तो खाया, गाय भैंस का चारा भी खा गए: बिहार में...

गरीबों का राशन तो खाया, गाय भैंस का चारा भी खा गए: बिहार में गरजे ‘स्टार प्रचारक’ योगी आदित्यनाथ

जनता की माँग को देखते हुए योगी आदित्‍यनाथ को भाजपा ने बिहार चुनाव में स्‍टार प्रचारक बनाया है। प्रखर हिंदुत्ववादी छवि के कारण भी वो जनता के बीच खासे लोकप्रिय हैं।

बिहार चुनावों के मद्देनजर आज (अक्टूबर 20, 2020) उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बिहार में अलग-अलग इलाकों में आधा दर्जन से ज्यादा रैलियों को संबोधित करेंगे। उनकी रैली की शुरूआत 12 बजे कैमूर के रामगढ़ विधानसभा से हो चुकी है। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बिहार के कैमूर में जनसभा को संबोधित किया। उनकी लोकप्रियता और माँग को देखते हुए योगी आदित्‍यनाथ को भाजपा ने बिहार चुनाव में स्‍टार प्रचारक बनाया है।

उन्होंने संबोधन भारत माता के उद्घोष और वंदे मातरम के नारे के साथ किया। उन्होंने कहा, “भगवान राम की जन्मभूमि से राम के गढ़ रामगढ़ में आया हूँ। त्रेत्तायुग में इसी रामगढ़ को तपोस्थली के रुप में भगवान ने चुना था।”

योगी आदित्यनाथ ने अपने संबोधन के दौरान जनता को बताया कि कैसे एनडीए सरकार बिहार के हित में लगी हुई है। नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में बनी बिहार की सरकार का लाभ कैसे प्रदेश को मिल रहा है। उन्होंने उन चुनावी वादों को गिनवाया जिसके बूते भाजपा ने प्रचंड बहुमत हासिल किया था और सरकार में रहते हुए उन्हें पूरा भी किया। फिर चाहे कश्मीर को आतंकवाद से मुक्त कराना हो या फिर राम मंदिर बनवाना हो।

उन्होंने बताया कि कैसे पीएम मोदी व नीतिश सरकार ने बिहार के गरीबों को मुफ्त राशन और गैस दिए। गरीबों को रोजगार दिए। बिन भेदभाव किए गरीबों को मकान भी मुहैया करवाया। योगी आदित्यनाथ बोले कि हमलोग देश की बात करते हैं, वे लोग मजहब की बात करते हैं। जिनके कारण आतंकवाद व नक्‍सलवाद फैला था, अब उन्‍हें मिटाना है।

अप्रत्यक्ष रूप से लालू यादव पर निशाना साधते हुए यूपी सीएम ने कहा कि राजद की सरकार ने गरीबों का राशन तो खाया साथ ही गाय और भैंस का चारा भी खा लिया। यूपी सीएम ने इस दौरान बताया कि कैसे उनकी सरकार ने पाकिस्तान के घर में घुसकर भी मारा और भगवान राम का मंदिर भी बनवा दिया। उन्होंने अपने संबोधन के दौरान राजद और कॉन्ग्रेस पर खूब तंज कसे और कहा कि उन्होंने शासन लंबे समय तक किया लेकिन उनका एजेंडा कुछ नहीं था।

योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कोरोना संकट के बीच केंद्र और राज्य सरकार ने जनता को मुफ्त में राशन दिया, अगर राजद सरकार होती तो ऐसा नहीं हो पाता। उन्होंने कहा कि वह (भाजपा नेतृत्व वाली सरकार) लोग विकास की बात की करते हैं और दूसरा पक्ष केवल परिवार और जाति की बात करते हैं। योगी आदित्यनाथ ने कहा, “हम एक भारत-श्रेष्ठ भारत की बात करते हैं, लेकिन विरोधी कहते हैं कि देश के संसाधन पर एक ही विशेष मजहब का अधिकार है।”

सीएम योगी ने कहा, बिहार के सामने एक तरफ विकास का गठबंधन है, दूसरी तरफ भेदभाव वाला गठबंधन है। अब उसे सही गठबंधन का साथ चुनना है। कॉन्ग्रेस के एजेंडे में विकास कभी नहीं रहा है। मगर भाजपा सबका साथ सबका विकास की बात करते हैं। उन्होंने याद दिलाया नीतीश सरकार आने से पहले बिहार की क्या स्थिति थी, वह किसी से छिपी नहीं है। इस बार भी एनडीए बिहार में नीतीश कुमार के नेतृत्व में एक मजबूत सरकार बनाने जा रही है।

गौरतलब है कि बिहार में उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ करीब 18 चुनावी सभाएँ करेंगे। यूपी सीएम की बिहार चुनावों के दौरान हर दिन तीन रैलियाँ होनी हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत अन्य बड़े नेताओं के बाद योगी आदित्यनाथ की रैलियों की सबसे अधिक माँग है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आज भी फैसले की प्रतीक्षा में कन्हैयालाल का परिवार, नूपुर शर्मा पर भी खतरा; पर ‘सर तन से जुदा’ की नारेबाजी वाले हो गए...

रिपोर्ट में यह भी कहा गया था कि गौहर चिश्ती 17 जून 2022 को उदयपुर भी गया था। वहाँ उसने 'सर कलम करने' के नारे लगवाए थे।

किसानों के प्रदर्शन से NHAI का ₹1000 करोड़ का नुकसान, टोल प्लाजा करने पड़े थे फ्री: हरियाणा-पंजाब में रोड हो गईं थी जाम

किसान प्रदर्शन के कारण NHAI को ₹1000 करोड़ से अधिक का नुकसान झेलना पड़ा। यह नुकसान राष्ट्रीय राजमार्ग 44 और 152 पर हुआ है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -