Saturday, July 13, 2024
Homeराजनीति‘राहुल गाँधी से मिलना है तो 10 किलो वजन कम करो’: जब 'मुस्लिम MLA'...

‘राहुल गाँधी से मिलना है तो 10 किलो वजन कम करो’: जब ‘मुस्लिम MLA’ को बेइज्जत कर भगाया, CM सरमा बोले केवल ‘किम जोंग’ ही इन जैसा

कॉन्ग्रेस के विधायक जीशान सिद्दीकी ने राहुल गाँधी के करीबियों को भ्रष्ट कहा है, साथ ही कहा कि उनकी बॉडी शेमिंग इन नेताओं ने की। उन्होंने पूछा है कि क्या मुसलमान होकर कॉन्ग्रेस में रहना गुनाह है?

कॉन्ग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गाँधी ने पिछले साल भारत जोड़ो यात्रा की थी। उनकी यात्रा जब महाराष्ट्र के नांदेड पहुँची, तब मुंबई युवा कॉन्ग्रेस के अध्यक्ष और कॉन्ग्रेस पार्टी के विधायक जीशान सिद्दीकी के साथ राहुल गाँधी के नजदीकी नेताओं ने बदतमीजी की। जीशान सिद्दीकी ने आरोप लगाया कि उन्हें राहुल गाँधी से नहीं मिलने दिया गया। यही नहीं, उनकी बॉडी शेमिंग करते हुए कॉन्ग्रेसी नेताओं ने कहा कि अगर उन्हें राहुल गाँधी के साथ सड़क पर चलना है और उनसे मिलना है, तो वो पहले अपना वजन 10 किलो घटाए। उन्होंने इस दौरान पार्टी में खुद के साथ धर्म के आधार पर भेदभाव के आरोप भी लगाए। उन्होंने कहा कि क्या मुस्लिम होना गुनाह है? जीशान ने कहा कि कॉन्ग्रेस पार्टी में मुस्लिमों के साथ सबसे ज्यादा भेदभाव होता है।

जीशान सिद्दीकी ने राहुल गाँधी के आसपास मौजूद नेताओं को भ्रष्ट करार दिया है और कहा कि शायद इन लोगों (राहुल के करीबियों ने) इस बात की सुपारी ले रखी है कि कॉन्ग्रेस पार्टी को जल्द से जल्द खत्म करना है। कॉन्ग्रेस विधायक जीशान सिद्दीकी ने कहा कि मैं नांदेड़ में राहुल गाँधी के साथ उनकी न्याय यात्रा से जुड़ा, लेकिन राहुल गाँधी के करीबियों ने मुझे राहुल गाँधी से ही नहीं मिलने दिया, ये बताने पर भी कि मैं कॉन्ग्रेस का विधायक हूँ। यही नहीं, उन्होंने मेरा शरीर पर घटिया बयानबाजी करते हुए कहा कि अगर राहुल गाँधी से मिलना है, तो ‘पहले जा और अपना वजन 10 किलो घटा’।

जीशान सिद्दीकी ने कहा, “मेरे साथ जो भारत जोड़ो यात्रा में हुआ है, राहुल गाँधी जी चलो अच्छे नेता हैं, अपना काम कर रहे हैं। मल्लिकार्जुन खरगे जी मेरे पिता समान हैं। वो इतने वरिष्ठ नेता हैं फिर भी उनके हाथ बँधे हुए हैं। वो कभी कभी कुछ चीजें नहीं कर पा रहे हैं। राहुल गाँधी जी की जो टीम है उनके आसपास, वो तो जितना पार्टी को खत्म करते जा रहे हैं, ऐसे लगता है कि उन्होंने सामने वाली पार्टी से सुपारी ले रखी है कॉन्ग्रेस को खत्म करने की।”

जीशान ने आगे कहा, “मुझे तो भारत जोड़ो यात्रा के दौरान जब मैं राहुल गाँधी के साथ चलने की कोशिश कर रहा था, तो मुझे हटाया गया है। राहुल गाँधी के करीबी व्यक्ति ने तो यहाँ तक कह दिया कि ‘पहले चल 10 किलो वेट कम कर, फिर राहुल जी से मिलाऊँगा।’ राहुल जी की टीम जो है, वो इतनी करप्ट है कि क्या कहूँ? राहुल जी के करीबी लोग बेहद रूड हैं।”

इस बीच, जीशान सिद्दीकी को मुंबई युवा कॉन्ग्रेस के अध्यक्ष पद से भी हटा दिया गया है। इसके बाद जीशान ने दावा किया कि कॉन्ग्रेस में मुस्लिम होना एक गुनाह है और उन्हें पार्टी में हाशिए पर डाला गया। जीशान ने कहा, “कॉन्ग्रेस में अल्पसंख्यकों के साथ जो हो रहा है, वह दुर्भाग्यपूर्ण है। जितनी सांप्रदायिकता कॉन्ग्रेस और मुंबई यूथ कॉन्ग्रेस में है, उतनी कहीं और नहीं है। क्या मुस्लिम होना पाप है?” कॉन्ग्रेस पार्टी को जवाब देना होगा कि क्या मुझे सिर्फ इसलिए निशाना बनाया जा रहा है क्योंकि मैं मुस्लिम हूँ?””

इस बीच कभी राहुल गाँधी के करीबी रहे और अब असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा जो बीजेपी के फायरब्रांड नेता माने जाते हैं, उन्होंने राहुल गाँधी और कॉन्ग्रेस को निशाने पर लिया है। हिमंत ने राहुल गाँधी की तुलना उत्तर कोरियाई तानाशाह किम जोंग उन से की है। उन्होंने जीशान सिद्दीकी के वीडियो पर लिखा, “सिर्फ एक आदमी ऐसा सोच सकता है और पार्टी के कार्यकर्ताओं से इस बात की डिमांड कर सकता है कि उसके आसपास अच्छे दिखने वाले और फोटोजेनिक चेहरे ही दिखे। इस तरह का सिर्फ एक ही राज परिवार है, जो उत्तर कोरिया पर राज करता है।” बता दें कि किम जोंग उन के आसपास हमेशा सुंदर चेहरे ही देखे जाते हैं।

बता दें कि जीशान सिद्दीकी मुंबई कॉन्ग्रेस के मशहूर नेता बाबा सिद्दीकी के बेटे हैं। उनका परिवार दशकों से कॉन्ग्रेस के साथ रहा है, लेकिन कुछ समय पहले ही बाबा सिद्दीकी ने कॉन्ग्रेस पार्टी छोड़ दी थी। इसके बाद अब जीशान सिद्दीकी को मुंबई युवा कॉन्ग्रेस के अध्यक्ष पद से हटा भी दिया गया है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

NITI आयोग की रिपोर्ट में टॉप पर उत्तराखंड, यूपी ने भी लगाई बड़ी छलाँग: 9 साल में 24 करोड़ भारतीय गरीबी से बाहर निकले

NITI आयोग ने सस्टेनेबल डेवलपमेंट गोल्स (SDG) इंडेक्स 2023-24 जारी की है। देश में विकास का स्तर बताने वाली इस रिपोर्ट में उत्तराखंड टॉप पर है।

लैंड जिहाद की जिस ‘मासूमियत’ को देख आगे बढ़ जाते हैं हम, उससे रोज लड़ते हैं प्रीत सिंह सिरोही: दिल्ली को 2000+ मजार-मस्जिद जैसी...

प्रीत सिरोही का कहना है कि वह इन अवैध इमारतों को खाली करवाएँगे। इन खाली हुई जमीनों पर वह स्कूल और अस्पताल बनाने का प्रयास करेंगे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -