Sunday, July 21, 2024
Homeराजनीतिकाटा गया मायावती के घर का बिजली कनेक्शन, कई महीनों से बकाया था बिजली...

काटा गया मायावती के घर का बिजली कनेक्शन, कई महीनों से बकाया था बिजली बिल

मायावती के घर के लोग कई महीनों से बिजली बिल का भुगतान नहीं कर रहे थे, जिसके बाद उनके घर का बिजली कनेक्शन ही काट डाला गया। पूर्व मुख्यमंत्री मायावती के ग्रेटर नोएडा के बादलपुर में स्थित आवास की बिजली काटी गई।

बहुजन समाज पार्टी की अध्यक्ष मायावती के हाथ से पावर तो 2012 में जा चुका था, अब उनके घर से भी पावर चला गया है। मायावती के घर के लोग कई महीनों से बिजली बिल का भुगतान नहीं कर रहे थे, जिसके बाद उनके घर का बिजली कनेक्शन ही काट डाला गया। पूर्व मुख्यमंत्री मायावती के ग्रेटर नोएडा के बादलपुर में स्थित आवास की बिजली काटी गई।

मायावती पर कुल 67,000 रुपए का बिजली बिल बकाया था, जिसके कारण उनके घर की बिजली काटी गई। हालाँकि, बिजली विभाग के प्रवक्ता ने बताया है कि ये एक रूटीन प्रक्रिया है और बिजली बिल न भरने पर कनेक्शन काटा जाता है। जैसे ही मायावती के घर की बिजली काटी जाने की ख़बर आई, उनके परिजनों ने बकाया भुगतान की प्रक्रिया प्रारम्भ कर दी।

पूर्व मुख्यम्नत्री के परिजनों ने 67,000 रुपए में से 50,000 रुपए का भुगतान कर दिया है। बिजली विभाग के लखनऊ में स्थित एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि इस मामले का राजनीति से कोई लेना देना नहीं है। जहाँ भी बिल पेंडिंग हैं, वहाँ का बिजली कनेक्शन काटा जा रहा है। मायावती का घर भी इसी क्रम में बिजली विभाग की रडार पर आया। ताज़ा सूचना के अनुसार, मायावती के घर की बिजली फिर से चालू कर दी गई है क्योंकि परिजनों ने बकाया राशि का भुगतान कर दिया है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

काशी विश्वनाथ मंदिर और महाकालेश्वर मंदिर परिसर के दुकानदारों को लगाना होगा नेम प्लेट: बिहार के बोधगया की दुकानों में खुद ही लगाया बोर्ड,...

उत्तर प्रदेश के बाद मध्य प्रदेश के महाकालेश्वर मंदिर परिसर में स्थित दुकानदारों को अपना नेम प्लेट लगाने का आदेश दिया गया है।

‘मध्य प्रदेश और बिहार में भी काँवर यात्रा मार्ग में ढाबों-ठेलों पर लिखा हो मालिक का नाम’: पड़ोसी राज्यों में CM योगी के फैसलों...

रमेश मेंदोला ने कहा कि नाम बताने में दुकानदारों को शर्म नहीं बल्कि गर्व होना चाहिए। हरिभूषण ठाकुर बचौल बोले - विवादों से छुटकारा मिलेगा।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -