Tuesday, August 3, 2021
Homeराजनीति104 Vs 105: कर्नाटक में BJP का पलड़ा भारी, निर्दलीय विधायक नागेश ने बिगाड़ा...

104 Vs 105: कर्नाटक में BJP का पलड़ा भारी, निर्दलीय विधायक नागेश ने बिगाड़ा कुमारस्वामी का ‘मंत्री खेल’

भाजपा राज्य में सरकार गठन करने की कोशिश कर सकती है क्योंकि निर्दलीय विधायक नागेश ने भी यह स्पष्ट किया है कि अगर भाजपा उनसे समर्थन माँगती है, तो वह पार्टी के साथ हैं।

कर्नाटक के राजनैतिक गलियारे में इन दिनों खूब हलचल मची हुई है। 13 विधायकों के इस्तीफे़ के बाद यहाँ निर्दलीय विधायक नागेश ने भी कुमारस्वामी सरकार से अपना समर्थन वापस ले लिया है। सदन में आँकड़े की बात करें तो गठबंधन सरकार (कॉन्ग्रेस-जेडीएस) अल्पमत में आ चुकी है। सरकार समर्थित विधायकों की संख्या अब मात्र 104 रह गई है जबकि भाजपा को समर्थन देने वाले विधायकों की संख्या 105 हो गई है।

विधायकों की इस तेज उछल-कूद के बीच कयास लगाए जा रहे हैं कि भाजपा राज्य में सरकार गठन करने की कोशिश कर सकती है क्योंकि निर्दलीय विधायक नागेश ने भी यह स्पष्ट किया है कि अगर भाजपा उनसे समर्थन माँगती है, तो वह पार्टी के साथ हैं।

इस्तीफ़ा देने के बाद नागेश मुंबई के लिए रवाना हो चुके हैं। इधर भाजपा ने भी आज (जुलाई 8, 2019) शाम को नेताओं की बैठक बुलाई है, जिसमें वे राज्य के मौजूदा हालातों पर चर्चा करेंगे। खबरों की मानें तो बीजेपी अभी स्थिति के स्पष्ट होने का इंतजार कर रही है। क्योंकि छुट्टी पर होने के कारण अभी स्पीकर द्वारा विधायकों के इस्तीफों को नहीं स्वीकारा गया है। अगर मंगलवार को स्पीकर इन विधायकों के इस्तीफ़े स्वीकार कर लेते हैं, तो मुमकिन है कि भारतीय जनता पार्टी राज्य में सरकार बनाने का दावा करे। माना जा रहा है कि राज्य सरकार की ओर से अभी और भी इस्तीफ़े आ सकते हैं।

गौरतलब है कि डिप्टी सीएम जी. परमेश्वर समेत कॉन्ग्रेस कोटे के सभी मंत्रियों ने प्रदेश अध्यक्ष दिनेश गुंडू राव को अपना इस्तीफा सौंप दिया है। मुख्यमंत्री कुमारस्वामी ने अपने सभी 21 मंत्रियों से इस्तीफा दिलवाया कर राजनैतिक दाव तो खेल दिया है लेकिन देखना यह होगा कि नाराज चल रहे विधायक मंत्री पद से संतुष्ट होते हैं या अपना विरोधी रवैया बरकरार रखते हैं।

पहले इस मसले पर कॉन्ग्रेस को लग रहा था कि इस्तीफ़ा देने के बाद नाराज़ विधायक सरकार में वापस आ जाएँगे लेकिन फिलहाल ऐसा कुछ भी होता नहीं दिख रहा है। सभी विधायक इस्तीफ़े की जिद पर अड़े हुए हैं और मुंबई के रिजॉर्ट में बंद हैं। लेकिन फिर भी कर्नाटक सरकार में मंत्री ज़मीर अहमद खान का कहना है कि जिन 10 विधायकों ने इस्तीफा दिया है, उसमें से 6-7 विधायक शाम तक वापस आ जाएँगे।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

सागर धनखड़ मर्डर केस में सुशील कुमार मुख्य आरोपित: दिल्ली पुलिस ने 20 लोगों के खिलाफ फाइल की 170 पेज की चार्जशीट

दिल्ली पुलिस ने छत्रसाल स्टेडियम में पहलवान सागर धनखड़ हत्याकांड में चार्जशीट दाखिल की है। सुशील कुमार को मुख्य आरोपित बनाया गया है।

यूपी में मुहर्रम सर्कुलर की भाषा पर घमासान: भड़के शिया मौलाना कल्बे जव्वाद ने बहिष्कार का जारी किया फरमान

मौलाना कल्बे जव्वाद ने आरोप लगाया है कि सर्कुलर में गौहत्या, यौन संबंधी कई घटनाओं का भी जिक्र किया गया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,702FollowersFollow
395,000SubscribersSubscribe