Sunday, July 21, 2024
Homeराजनीति'मेरी बेइज्जती करो लेकिन उप-राष्ट्रपति पद और किसानों का अपमान बर्दाश्त नहीं': जगदीप धनखड़...

‘मेरी बेइज्जती करो लेकिन उप-राष्ट्रपति पद और किसानों का अपमान बर्दाश्त नहीं’: जगदीप धनखड़ की दो टूक, जाटों के प्रदर्शन में नारा – राहुल गाँधी होश में आओ

"मैं खुद की पूरी आहुति दे दूँगा, मेरी बेइज्जती कोई करता है मैं सहन करता हूँ, खून के घूँट पीता हूँ लेकिन यह मैं सहन नहीं करूँगा कि मैं इस पद की गरिमा मैं सुरक्षित नहीं रख पाया।"

भारत के उप-राष्ट्रपति जगदीप धनखड़ की नक़ल उतारने और उनका मजाक उड़ाने के मामले में अब दिल्ली में जाटों ने विरोध प्रदर्शन किया है। उन्होंने बुधवार (20 दिसंबर, 2023) को राज्यसभा में कहा कि उन्हें अपमान बर्दाश्त है लेकिन वह उप-राष्ट्रपति पद और किसान समाज की बेइज्जती बर्दाश्त नहीं करेंगे।

जाट समुदाय ने ‘OBC संयुक्त मोर्चा’ के बैनर तले दिल्ली में बड़ा विरोध प्रदर्शन किया और ‘राहुल गाँधी होश में आओ’ के नारे लगाए। इस दौरान उन्होंने राहुल गाँधी के माफ़ी माँगने के नारे लगाए और कॉन्ग्रेस की अर्थी भी निकाली।

उप-राष्ट्रपति पद का अपमान करने वाले सांसदों ने नई संसद के मकर द्वार पर धरना दिया था। इस धरने के दौरान तृणमूल कॉन्ग्रेस (TMC) के सांसद कल्याण बनर्जी ने उप-राष्ट्रपति जगदीप धनखड़ की अपमानजनक तरीके से नक़ल उतारी और मजाक उड़ाया था। इस दौरान कॉन्ग्रेस नेता और लोकसभा सांसद राहुल गाँधी कल्याण बनर्जी का वीडियो अपने फ़ोन से बनाते रहे और बाकी सांसद भी उप-राष्ट्रपति का मजाक उड़ाते रहे। इस घटना का वीडियो वायरल हुआ है।

इससे पहले जाटों ने एक मीटिंग बुला कर कल्याण बनर्जी से माफ़ी माँगने को कहा था। देश की सबसे बड़ी खाप के उपाध्यक्ष सुरेन्द्र सिंह सोलंकी ने कहा थ कि यदि कल्याण बनर्जी माफ़ी नहीं माँगते तो तृणमूल कॉन्ग्रेस के सांसदों के घरों का घेराव होगा।

कॉन्ग्रेस सांसद राहुल गाँधी के कल्याण बनर्जी की हरकतों का वीडियो बनाने पर उप-राष्ट्रपति जगदीप धनखड़ ने कॉन्ग्रेस के बुजुर्ग नेताओं मल्लिकार्जुन खरगे और दिग्विजय सिंह से कहा कि आपकी चुप्पी मेरे कानों में गूँज रही है। आपके यहाँ के एक सांसद कल्याण बनर्जी की हरकतों को बढ़ावा दे रहे हैं। आपके यहाँ यही संस्कार हैं।

उप-राष्ट्रपति ने कहा, “मुझे इसकी परवाह नहीं है कि आप जगदीप धनखड़ की कितनी बेइज्जती करते हैं लेकिन मैं भारत के उप-राष्ट्रपति पद का, किसान समाज का अपमान बर्दाश्त नहीं करूँगा। मैं खुद की पूरी आहुति दे दूँगा, मेरी बेइज्जती कोई करता है मैं सहन करता हूँ, खून के घूँट पीता हूँ लेकिन यह मैं सहन नहीं करूँगा कि मैं इस पद की गरिमा मैं सुरक्षित नहीं रख पाया।”

इससे पहले उप-राष्ट्रपति ने संसद में इन घटनाओं पर अपना दुख और पीड़ा व्यक्त करते हुए कहा था कि उनकी किसान और जाट पृष्ठभूमि को निशाना बनाए जाने से वह व्यक्तिगत रूप से आहत महसूस कर रहे हैं। उन्होंने कॉन्ग्रेस नेता पी चिदंबरम से इस घटना पर दुख जताते हुए अपनी बात रखी थी।

उन्होंने कल इस मामले में सदन में कहा, “मैंने सदन स्थगित कर दी है। लोगों के मन में इस संस्था के ख़िलाफ़ किस तरह की प्रतिक्रिया है, इसका अंदाज़ा आपको नहीं है और हमें इसका सबसे निचला स्तर देखने का मौक़ा मिला। श्री चिदम्बरम यहाँ हैं। श्री चिदम्बरम, आप बहुत वरिष्ठ सदस्य हैं। कल्पना कीजिए कि मेरे दिल पर क्या बीत रही होगी जब आपके वरिष्ठ नेता एक संसद सदस्य का चेयरमैन के संस्थान का मजाक उड़ाते हुए वीडियो बनाते हैं, और एक व्यक्ति के रूप में मुझे निशाना बनाते हैं।”

उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ से लोकसभा स्पीकर ओम बिरला भी इससे पहले मिले थे। इसके अलावा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने इस मामले पर ट्वीट करके अपना दुख जताया था। भाजपा सांसदों ने भी उपराष्ट्रपति के समर्थन में राज्यसभा में एक घंटे खड़े रह कर कार्रवाई में भाग लिया था।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

काशी विश्वनाथ मंदिर और महाकालेश्वर मंदिर परिसर के दुकानदारों को लगाना होगा नेम प्लेट: बिहार के बोधगया की दुकानों में खुद ही लगाया बोर्ड,...

उत्तर प्रदेश के बाद मध्य प्रदेश के महाकालेश्वर मंदिर परिसर में स्थित दुकानदारों को अपना नेम प्लेट लगाने का आदेश दिया गया है।

‘मध्य प्रदेश और बिहार में भी काँवर यात्रा मार्ग में ढाबों-ठेलों पर लिखा हो मालिक का नाम’: पड़ोसी राज्यों में CM योगी के फैसलों...

रमेश मेंदोला ने कहा कि नाम बताने में दुकानदारों को शर्म नहीं बल्कि गर्व होना चाहिए। हरिभूषण ठाकुर बचौल बोले - विवादों से छुटकारा मिलेगा।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -