Monday, July 15, 2024
Homeराजनीतिराजस्थान की मंत्री जाहिदा खान को फूलों की नहीं... नोटों की माला चाहिए: वीडियो...

राजस्थान की मंत्री जाहिदा खान को फूलों की नहीं… नोटों की माला चाहिए: वीडियो वायरल होने पर कहा – मजाक में बोला था

जाहिदा खान का स्वागत फूलों की माला से किया गया। इस दौरान उन्होंने कहा कि फूलों की माला से काम नहीं चलने वाला। बाद में उन्हें नोटों की माला पहनाई गई, जिसको 500 रुपए मूल्य के नोटों से बनाया गया था। माला में प्रयोग नोटों का मूल्य लगभग 51 हजार रुपए है।

राजस्थान की गहलोत सरकार में मंत्री जाहिदा खान ने अपना स्वागत नोटों की माला से नहीं करने पर नाखुशी जताई। बाद में उन्हें नोटों की माला पहनाई गई, जिसको 500 रुपए मूल्य के नोटों से बनाया गया था। माला में प्रयोग नोटों का मूल्य लगभग 51 हजार रुपए है।

यह मामला राजस्थान के भरतपुर का है। इस बातचीत का वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। बाद में मंत्री जाहिदा खान की तरफ से आई सफाई में इसे मजाक में बोला गया शब्द बताया गया।

मंत्री जाहिदा खान कामां विधानसभा से निर्वाचित विधायक हैं। वायरल वीडियो में उन्हें कहते सुना जा सकता है, “फूलन सूं ताै काम ना चलेगाै, आज हम पक्काे काम करके जांगा।” मौके पर लोगों को हँसते भी देखा और सुना जा सकता है। मंत्री की भाषा मेवाती कही जा रही है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक मामला कामां विधानसभा की पहाड़ी कृषि मंडी के चुनाव से संबंधित है। यहाँ जब पहले दिन मंत्री जाहिदा खान गईं तो उनका स्वागत फूलों की माला से हुआ। इस दौरान उन्होंने अपने स्वागतकर्ताओं से कहा था कि फूलों की माला से काम नहीं चलने वाला।

इसके अगले दिन एक अन्य तस्वीर वायरल हुई, जिसमें चुनाव के बाद मंत्री जाहिदा खान को नोटों की माला पहने देखा जा सकता है। नोटों की माला का भी फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

भाजपा ने बताया भ्रष्टाचार

राजस्थान सरकार में मंत्री जाहिदा खान के इस वीडियो और तस्वीरों को भाजपा ने भ्रष्टाचार का नाम दिया है। केंद्रीय मंत्री और जैसलमेर से भाजपा सांसद कैलाश चौधरी ने लिखा, “नोटों पर फिदा, कॉन्ग्रेस सरकार की मंत्री जाहिदा! राजस्थान कॉन्ग्रेस सरकार की शिक्षा मंत्री जाहिदा खान द्वारा व्यापारी से इस प्रकार की बात कर सरेआम नोटों की माला स्वीकार करना कॉन्ग्रेस की भ्रष्ट छवि एवं तंत्र को दर्शाता है।”

सफाई में मज़ाक की दुहाई

एक रिपोर्ट के मुताबिक बाद में जाहिदा खान के शौहर जलीश खान ने इस पूरे मामले पर सफाई दी है। उन्होंने बताया कि वीडियो में दिख रहे राममोहन और मंत्री जाहिदा भाई-बहन जैसे हैं। जलीश के मुताबिक मंत्री ने ये शब्द मजाक में कहे थे। वहीं इस वीडियो पर कृषि मंडी समिति के उपाध्यक्ष राममोहन ने भी इसे मंत्री जाहिदा खान द्वारा मजाक में बोले गए शब्द बताया है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

कॉन्ग्रेस के चुनावी चोचले ने KSRTC का भट्टा बिठाया, ₹295 करोड़ का घाटा: पहले महिलाओं के लिए बस सेवा फ्री, अब 15-20% किराया बढ़ाने...

कर्नाटक में फ्री बस सेवा देने का वादा करना कॉन्ग्रेस के लिए आसान था लेकिन इसे लागू करना कठिन। यही वजह है कि KSRTC करोड़ों के नुकसान में है।

‘बैकफुट पर आने की जरूरत नहीं, 2027 भी जीतेंगे’: लोकसभा चुनावों के बाद हुई पार्टी की पहली बैठक में CM योगी ने भरा जोश,...

लोकसभा चुनावों के बाद पहली बार भाजपा प्रदेश कार्यसमिति की लखनऊ में आयोजित बैठक में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कार्यकर्ताओं में जोश भरा।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -