Sunday, September 26, 2021
Homeराजनीति'दलित स्वभाव से भिखमंगे, बीजेपी के हाथों बिके हैं': ममता बनर्जी की करीबी TMC...

‘दलित स्वभाव से भिखमंगे, बीजेपी के हाथों बिके हैं’: ममता बनर्जी की करीबी TMC नेता सुजाता खान

"ममता बनर्जी की करीबी तृणमूल नेता सुजाता मंडल ने अनुसूचित जाति के लोगों को 'स्वभाव से भिखारी' बताया है। क्या बंगाल के लोग टीएमसी को करारा जवाब देकर उन्हें सत्ता से बाहर करेंगे। दलित समाज (राजबंशी, मातुआ, नमशुद्र) बेहतर के हकदार हैं।"

पश्चिम बंगाल में चौथे चरण के मतदान से पहले तृणमूल कॉन्ग्रेस (TMC) की नेता सुजाता मंडल खान ने दलितों को लेकर आपत्तिजनक बातें की है। इसका वीडियो भाजपा अनुसूचित मोर्चा ने शेयर किया है।

न्यूज18 बांग्ला से चर्चा करते हुए सुजाता खान ने कहा कि भले ही ममता बनर्जी ने अनुसूचित जातियों (SC) के लिए बहुत कुछ किया हो, लेकिन फिर भी उनको कमी बनी ही रहती है। खान ने कहा, “एक कहावत है कि कुछ स्वभाव से भिखारी होते हैं तो कुछ परिस्थितियों के कारण। अनुसूचित जाति के लोग स्वभाव से भिखारी होते हैं।”     

खान ने दलित समुदाय को कृतघ्न बताते हुए कहा, “ममता बनर्जी ने उनके लिए काफी कुछ किया लेकिन उन्होंने पैसे के लिए खुद को बीजेपी के हाथों बेच दिया। और अब वे हम पर अत्याचार कर रहे हैं।” 

बीजेपी ने इस बयान को लेकर टीएमसी की आलोचना की है। पार्टी की प्रदेश ईकाई ने ट्वीट कर कहा है, “ममता बनर्जी की करीबी तृणमूल नेता सुजाता मंडल ने अनुसूचित जाति के लोगों को ‘स्वभाव से भिखारी’ बताया है। क्या बंगाल के लोग टीएमसी को करारा जवाब देकर उन्हें सत्ता से बाहर करेंगे। दलित समाज (राजबंशी, मातुआ, नमशुद्र) बेहतर के हकदार हैं।”

ग्रामीणों पर सुजाता और उनके समर्थकों का हमला

हाल ही में सोशल मीडिया में एक वीडियो वायरल हुआ था जिसमें टीएमसी लीडर सुजाता मंडल खान और उनके समर्थकों पर गाँव वालों के घर में घुसकर उनके साथ मारपीट का आरोप लगाया गया था। ग्रामीणों ने यह भी आरोप लगाया था कि टीएमसी के कार्यकर्ताओं ने एक ग्रामीण का हाथ तोड़ दिया। इसके बाद ग्रामीण भी बड़ी संख्या में टीएमसी नेताओं के विरूद्ध लामबंद हो गए और उन्हें टीएमसी के सदस्यों को खदेड़ दिया। इसे कई मीडिया पोर्टल्स ने सुजाता मंडल खान पर भाजपा सदस्यों के हमले के तौर पर प्रचारित किया था

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

मंदिर में ‘सेकेंड हैंड जवानी’ पर डांस, वायरल किया वीडियो: इंस्टाग्राम मॉडल की हरकत से खफा हुए महंत, हिन्दू संगठन भी विरोध में

मध्य प्रदेश के छतरपुर स्थित एक मंदिर में आरती साहू नाम की एक इंस्टाग्राम मॉडल ने 'सेकेंड हैंड जवानी' पर डांस करते हुए वीडियो बनाया, जिससे हिन्दू संगठन नाराज़ हो गए हैं।

PFI के 6 लोग… ₹28 लाख की वसूली… खाली कराना था 60 परिवार, कहाँ से आए 10000? – असम के दरांग में सिपाझार हिंसा...

असम के मुख्यमंत्री हिमंता बिस्वा सरमा ने सिपाझार हिंसा के पीछे PFI के होने की बात कही। 6 लोगों ने अतिक्रमणकारियों से 28 लाख रुपए वसूले थे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
124,410FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe