Sunday, July 21, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीय'भारत की G20 अध्यक्षता ऐतिहासिक, मील का पत्थर': संयुक्त राष्ट्र महासभा के अध्यक्ष ने...

‘भारत की G20 अध्यक्षता ऐतिहासिक, मील का पत्थर’: संयुक्त राष्ट्र महासभा के अध्यक्ष ने जम कर की तारीफ़, उधर कनाडा के सर्वे में ट्रूडो के लिए बुरी खबर

सर्वे बताता है कि यदि कनाडा में आज चुनाव हो जाए तो कंजर्वेटिव पार्टी की बहुमत वाली सरकार बन जाएगी। कनाडा के स्थानीय और भारतीय मूल के लोग, दोनों मानते हैं कि ट्रूडो की अपेक्षा पोइलिवरे कनाडा के बेहतर प्रधानमंत्री साबित होंगे। हालाँकि, इस सर्वे में लिबरल पार्टी के चेहरा के रूप में ट्रूडो सर्वोच्च स्थान पर बने हुए हैं।

भारत की अध्यक्षता में जी-20 सम्मेलन का दुनिया भर में तारीफ हो रही है। अब संयुक्त राष्ट्र महासभा के अध्यक्ष डेनिस फ्रांसिस ने इसकी तारीफ की है। फ्रांसिस ने कहा कि जी-20 में अफ्रीकी यूनियन को स्थायी सदस्य बनाकर भारत की अध्यक्षता में जी-20 ने एक ऐतिहासिक और मील का पत्थर बताया है। वहीं, जी-20 के दौरान बवाल करने वाले कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो की लोकप्रियता घटती जा रही है और लोग चाहते हैं कि वे प्रधानमंत्री का पद छोड़ दें।

‘ग्लोबल साउथ में भारत एवं संयुक्त राष्ट्र: विकास के कार्य’ कार्यक्रम को संबोधित करते हुए फ्रांसिस ने कहा, भारत की अध्यक्षता वाला हाल ही संपन्न हुआ जी-20 सम्मेलन एक ऐतिहासिक मील का पत्थर साबित हुआ है। अफ्रीकी संघ को इसमें स्थायी सदस्य के रूप में शामिल करने की भारत की पहल ने ग्लोबल साउथ में एकजुटता और सहयोग का मजबूत संदेश भेजा है।”

फ्रांसिस ने कहा कि भारत बेहतर भविष्य की परिकल्पना वाली दुनिया के मिशन में अद्वितीय भूमिका निभा रहा है। उन्होंने भारत के योगदान वाली विरासत को मार्गदर्शक प्रकाशपूंज बताया। इसके साथ ही उन्होंने भारत को लोकतंत्र को बढ़ावा देने वाला, महिला नेतृत्व आधारित विकास को बढ़ावा वाला बताया। इसके साथ ही उन्होंने भारत द्वारा किए जा रहे अनेक प्रयासों की भी तारीफ की।

दूसरी तरफ, जी-20 सम्मेलन के दौरान भारत आए कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ने मेजबान देश के प्रोटोकॉल का उल्लंघन करते हुए बवाल कर दिया था। उन्होंने सुरक्षा एवं अन्य कारणों को देखते हुए भारत द्वारा उपलब्ध कराए गए प्रेसिडेंशियल सुइट में ठहरने से इनकार कर दिया था और जबरन होटल के एक साधारण कमरे में ठहरे थे।

मेजबान देश में जाकर बवाल करने वाले और आतंकवाद को प्रश्रय देकर दूसरा पाकिस्तान बनने की राह पर चल पड़े ट्रूडो की आलोचना पूरी दुनिया में हो रही है। हाल ही में किए गए एक सर्वे में उनकी लोकप्रियता लगातार घट रही है। कनाडा के अधिकांश लोग चाहते हैं कि भारत के साथ रिश्तों में कड़वाहट घोलने वाले ट्रूडो अब प्रधानमंत्री के पद से इस्तीफा दे दें।

सर्वे से पता चला कि अब केवल 31 प्रतिशत कनाडाई उन्हें अपने नेता के रूप में पसंद करते हैं, जबकि 40 प्रतिशत लोग दिग्गज कंजर्वेटिव लीडर पियरे पोइलिवरे को पसंद करते हैं। वहीं, विवादास्पद खालिस्तान समर्थक नेता जगमीत सिंह 22 प्रतिशत समर्थन के साथ तीसरे स्थान पर हैं। पिछले साल की अपेक्षा ट्रूडो की लोकप्रियता में चार अंक की गिरावट आई है।

सर्वे बताता है कि यदि कनाडा में आज चुनाव हो जाए तो कंजर्वेटिव पार्टी की बहुमत वाली सरकार बन जाएगी। कनाडा के स्थानीय और भारतीय मूल के लोग, दोनों मानते हैं कि ट्रूडो की अपेक्षा पोइलिवरे कनाडा के बेहतर प्रधानमंत्री साबित होंगे। हालाँकि, इस सर्वे में लिबरल पार्टी के चेहरा के रूप में ट्रूडो सर्वोच्च स्थान पर बने हुए हैं।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘मध्य प्रदेश और बिहार में भी काँवर यात्रा मार्ग में ढाबों-ठेलों पर लिखा हो मालिक का नाम’: पड़ोसी राज्यों में CM योगी के फैसलों...

रमेश मेंदोला ने कहा कि नाम बताने में दुकानदारों को शर्म नहीं बल्कि गर्व होना चाहिए। हरिभूषण ठाकुर बचौल बोले - विवादों से छुटकारा मिलेगा।

‘लैंड जिहाद और लव जिहाद को बढ़ावा दे रही हेमंत सोरेन की सरकार’: झारखंड में गरजे अमित शाह, कहा – बिगड़ रहा जनसंख्या का...

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन पर 'भूमि जिहाद', 'लव जिहाद' को बढ़ावा देने का आरोप लगाते हुए उन पर तीखा हमला किया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -