Friday, June 25, 2021
Home रिपोर्ट राष्ट्रीय सुरक्षा श्रीनगर में मार डाले गए 3 आतंकी: टॉप के 4 आतंकवादी संगठनों के चीफ...

श्रीनगर में मार डाले गए 3 आतंकी: टॉप के 4 आतंकवादी संगठनों के चीफ का सफाया, J&K इतिहास में पहली बार

लश्कर-ए-तैयबा, जैश-ए-मुहम्मद, हिजबुल मुजाहिदीन और गजवा-उल-हिंद के चारों चीफ कमांडर चार महीने के भीतर मार डाले गए। ऐसा जम्मू-कश्मीर के इतिहास में पहली बार हुआ है।

जम्मू और कश्मीर में आतंकियों के साथ मुठभेड़ में सुरक्षाबलों ने आज (21 जून, 2020) तीन आंतकियों को मार गिराया है। तीनों आतंकी श्रीनगर के जदीबल इलाके में मारे गए हैं। श्रीनगर में पिछले कुछ समय में यह दूसरा इनकाउंटर है।

कश्मीर पुलिस के आईजी विजय कुमार ने बताया कि मारे गए आतंकियों में से एक आतंकी रमजान के दौरान 20 मई को पंडाच चौक के पास सीमा सुरक्षा में तैनात 2 बीएसएफ के जवानों पर किए गए हमले में शामिल था। इस हमले में दोनों जवान वीरगति को प्राप्त हो गए थे।

जानकारी के अनुसार शहर के जूनिमार और ज़दीबल के पोज़वालपुरा इलाके में आतंकवादियों की मौजूदगी की खुफिया जानकारी के आधार पर सुरक्षाबलों ने आज सुबह इलाके को घेर लिया और तलाशी अभियान शुरू किया था।

अधिकारियों ने बताया कि पुलिस के बार-बार प्रयास के बाद भी आतंकवादियों के परिवार के सदस्य उन्हें आत्मसमर्पण के लिए मनाने में विफल रहे। और उन्होंने फायरिंग शुरू कर दी। जिस पर जवाबी कार्रवाही करते हुए जवानों ने उन्हें मार गिराया।

न्यूज़ एजेंसी एएनआई को विजय कुमार ने बताया, “हमनें आतंकियों की पहचान पता चलने पर उनके परिजनों को बुलाया। और उनसे अपील कि की वे आतंकवादियों को आत्मसमर्पण के लिए कहें। मगर आतंकवादियों ने अपने परिजनों के कहने पर भी आत्मसमर्पण नहीं किया।”

उन्होंने आगे कहा, “तीनों आतंकियों में दो आतंकी 2019 से आतंकी गतिविधियों में शामिल थे। वहीं एक आंतकी सीमा पर तैनात दो बीएसएफ जवानों पर हुए हमले में शामिल था।”

आईजी विजय कुमार के अनुसार चार प्रमुख आतंकी संगठन – लश्कर-ए-तैयबा, जैश-ए-मुहम्मद, हिजबुल मुजाहिदीन और गजवा-उल-हिंद के चारों चीफ कमांडर चार महीने के भीतर मार डाले गए। ऐसा जम्मू-कश्मीर के इतिहास में पहली बार हुआ है।

कल से शुरू हुए इस मुठभेड़ में सीआरपीएफ के तीन जवान भी घायल हुए हैं। अधिकारी ने बताया कि शहर में मोबाइल इंटरनेट सेवाएँ एहतियातन निलंबित कर दी गई हैं। उन्होंने बताया कि शहर के व्यावसायिक क्षेत्रों के अधिकतर हिस्सों में लोगों के आवागमन पर प्रतिबंध लगाया गया है।

बता दें कि इसी साल मई में श्रीनगर के नवाकदल इलाके में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच हुई मुठभेड़ में जवानों ने हिजबुल मुजाहिदीन के दो आतंकी को मार गिराया था। जिसमें कश्मीर के अलगाववादी नेता का बेटा भी शामिल था। 19 मई को 12 घंटे सैनिकों और आतंकियों की इस मुठभेड़ में दर्जनों घर क्षतिग्रस्त हो गए थे। इलाके में भारी तबाही भी मची थी।

वहीं इससे पहले शुक्रवार (19 जून,2020) को कश्मीर के अवंतीपोरा और शोपियाँ जिले में सुरक्षा बलों ने मस्जिद में छुपे 2 आतंकियों के साथ-साथ कुल 8 आतंकियों को ढेर कर दिया था, जिसमें सेना के जवानों ने शोपियाँ जिले में पाँच और पांपोर जिले में तीन आतंकियों को मौत के घाट उतार दिया था। ये सभी आतंकवादी जैश-ए-मोहम्मद और हिजबुल मुजाहिदीन से जुड़े हुए थे।

गौरतलब है कि पिछले दो हफ्ते के अंदर सुरक्षाबलों ने करीब दो दर्जन आतंकियों को जम्मू कश्मीर मेंं ढेर कर दिया है। अगर पूरे साल की बात की जाए तो अब तक 100 से अधिक आतंकी मारे गए हैं। कोरोना संक्रमण से निपटने के लिए पूरे देश में लॉकडाउन लागू के समय में भी सुरक्षाबलों का आतंकियों पर कड़ा प्रहार जारी है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘अपनी मर्जी से मंतोष सहनी के साथ गई, कोई जबरदस्ती नहीं’ – फजीलत खातून ने मधुबनी अपहरण मामले पर लगाया विराम

मधुबनी जिले के बिस्फी की फजीलत खातून के कथित अपहरण मामले में नया मोड़। फजीलत खातून ने खुद ही सामने आकर बताया कि वो मंतोष सहनी के साथ...

चित्रकूट का पर्वत जो श्री राम के वरदान से बना कामदगिरि, यहाँ विराजमान कामतानाथ करते हैं भक्तों की हर इच्छा पूरी

भगवान राम ने अपने वनवास के दौरान लगभग 11 वर्ष मंदाकिनी नदी के किनारे स्थित चित्रकूट में गुजारे। चित्रकूट एक प्रमुख तीर्थ स्थल माना जाता है...

फतेहपुर के अंग्रेजी मीडियम स्कूल में हिंदू बच्चे पढ़ते थे नमाज: महिला टीचर ने खोली मौलाना उमर गौतम के धर्मांतरण गैंग की पोल

फतेहपुर के नूरुल हुदा इंग्लिश मीडियम स्कूल में मौलाना उमर के गिरोह की सक्रियता का खुलासा वहाँ की ही एक महिला टीचर ने किया है।

‘सत्यनारायण और भागवत कथा फालतू, हिजड़ों की तरह बजाते हैं ताली’: AAP नेता का वीडियो वायरल

AAP की गुजरात इकाई के नेता गोपाल इटालिया का एक वीडियो वायरल हो रहा है। इसमें वे हिन्दू परंपराओं का अपमान करते दिख रहे हैं।

जम्मू-कश्मीर: PM मोदी का ग्रासरूट डेमोक्रेसी पर जोर, जानिए राज्य का दर्जा और विधानसभा चुनाव कब

प्रधानमंत्री ने कहा कि वह 'दिल्ली की दूरी' और 'दिल की दूरी' को मिटाना चाहते हैं। परिसीमन के बाद विधानसभा चुनाव उनकी प्राथमिकता में है।

₹60000 करोड़, सबसे सस्ता स्मार्टफोन, 109 शहरों में वैक्सीनेशन सेंटर: नीता अंबानी ने बताया कोरोना काल का ‘धर्म’

रिलायंस इंडस्ट्रीज की AGM में कई बड़ी घोषणाएँ की गई। कोविड संकट से देश को उबारने के प्रति प्रतिबद्धता दिखाई गई।

प्रचलित ख़बरें

‘सत्यनारायण और भागवत कथा फालतू, हिजड़ों की तरह बजाते हैं ताली’: AAP नेता का वीडियो वायरल

AAP की गुजरात इकाई के नेता गोपाल इटालिया का एक वीडियो वायरल हो रहा है। इसमें वे हिन्दू परंपराओं का अपमान करते दिख रहे हैं।

फतेहपुर के अंग्रेजी मीडियम स्कूल में हिंदू बच्चे पढ़ते थे नमाज: महिला टीचर ने खोली मौलाना उमर गौतम के धर्मांतरण गैंग की पोल

फतेहपुर के नूरुल हुदा इंग्लिश मीडियम स्कूल में मौलाना उमर के गिरोह की सक्रियता का खुलासा वहाँ की ही एक महिला टीचर ने किया है।

TMC के गुंडों ने किया गैंगरेप, कहा- तेरी काली माँ न*गी है, तुझे भी न*गा करेंगे, चाकू से स्तन पर हमला: पीड़ित महिलाओं की...

"उस्मान ने मेरा रेप किया। मैं उससे दया की भीख माँगती रही कि मैं तुम्हारी माँ जैसी हूँ मेरे साथ ऐसा मत करो, लेकिन मेरी चीख-पुकार उसके बहरे कानों तक नहीं पहुँची। वह मेरा बलात्कार करता रहा। उस दिन एक मुस्लिम गुंडे ने एक हिंदू महिला का सम्मान लूट लिया।"

‘हरा$ज*, हरा%$, चू$%’: ‘कुत्ते’ के प्रेम में मेनका गाँधी ने पशु चिकित्सक को दी गालियाँ, ऑडियो वायरल

गाँधी ने कहा, “तुम्हारा बाप क्या करता है? कोई माली है चौकीदार है क्या हैं?” डॉक्टर बताते भी हैं कि उनके पिता एक टीचर हैं। इस पर वो पूछती हैं कि तुम इस धंधे में क्यों आए पैसे कमाने के लिए।

‘हर चोर का मोदी सरनेम क्यों’: सूरत की कोर्ट में पेश हुए राहुल गाँधी, कहा- कटाक्ष किया था, अब याद नहीं

कॉन्ग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गाँधी सूरत की एक अदालत में पेश हुए। मामला 'सारे मोदी चोर' वाले बयान पर दर्ज आपराधिक मानहानि के मामले से जुड़ा है।

जम्मू-कश्मीर के लोग अपने पूर्व मुख्यमंत्री को जेल में डालने के लिए धरने पर बैठे, कर रही थीं पाकिस्तान की वकालत

"महबूबा मुफ्ती से बातचीत के बजाय उन्हें तिहाड़ जेल भेजा जाना चाहिए। दिल्ली से उन्हें वापस जम्मू कश्मीर नहीं आने दिया जाना चाहिए।”
- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
105,792FollowersFollow
392,000SubscribersSubscribe