Wednesday, July 17, 2024
Homeरिपोर्टराष्ट्रीय सुरक्षाजम्मू-कश्मीर में 3 दिन में तीसरा आतंकी हमला… इस बार डोडा में सेना के...

जम्मू-कश्मीर में 3 दिन में तीसरा आतंकी हमला… इस बार डोडा में सेना के चेकपोस्ट पर हुई गोलीबारी: 6 सुरक्षाकर्मी घायल; कठुआ में एक आतंकी ढेर

आतंकियों को पकड़ने के लिए इलाके में सघन चेकिंग अभियान चलाया जा रहा है। फायरिंग में सेना के 5 जवान और एक स्पेशल पुलिस ऑफिसर घायल बताए जा रहे हैं। इन सभी का इलाज अस्पताल में चल रहा है।

जम्मू-कश्मीर में पिछले 72 घंटों के अंदर तीसरा आतंकी हमला हुआ है। इस बार डोडा में आतंकियों ने सुरक्षा बलों के एक अस्थाई कैम्प पर गोलियाँ बरसाईं हैं। जवाबी कार्रवाई के वक्त आतंकी भाग निकले हैं जिनको तलाशने के लिए अभियान चलाया जा रहा है। हमला बुधवार (12 जून 2024) की सुबह हुआ है। वहीं एक दिन पहले 11 जून (मंगलवार) को आतंकियों ने कठुआ क्षेत्र के एक गाँव में घुस कर कुछ ग्रामीणों को निशाना बनाना चाहा था, तब सुरक्षा बलों की जवाबी कार्रवाई में 1 आतंकी ढेर कर दिया गया था।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक भारतीय सेना ने डोडा जिले के चत्तरगला में एक अस्थाई बेस बनाया है। यहाँ राष्ट्रीय रायफल्स ने पुलिस के साथ मिल कर चेकपोस्ट भी बना रखा है। इस बेस पर 11-12 जून की रात कुछ अज्ञात बंदूकधारियों ने गोलियाँ बरसानी शुरू कर दी। सेना की तरफ से भी जवाबी कार्रवाई की गई तो आतंकी भाग निकले। आतंकियों को पकड़ने के लिए इलाके में सघन चेकिंग अभियान चलाया जा रहा है। फायरिंग में सेना के 5 जवान और एक स्पेशल पुलिस ऑफिसर घायल बताए जा रहे हैं। इन सभी का इलाज अस्पताल में चल रहा है। हमले में कितने आतंकी शामिल थे इस पर अभी तक कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है। अभी तक किसी आतंकी संगठन ने इस हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है।

इससे पहले मंगलवार (11 जून) की रात जम्मू के कठुआ में आतंकी हमला हुआ था। यहाँ के हीरानगर इलाके में आने वाले सैदा सुखल गाँव में रात को 3 आतंकी घुसे। इन्होंने एक घर को खटखटा कर पानी माँगा। लोगों ने घर नहीं खोला और शोर मचाना शुरू कर दिया। शोरगुल सुन कर सुरक्षा बल वहाँ पहुँच गए। इसी दौरान आतंकियों के गोलियाँ बरसानी शुरू कर दीं। एक आतंकी ने तो ग्रेनेड फेंकने का भी प्रयास किया। जवाबी कार्रवाई में एक आतंकी ढेर हो गया। वहीं CRPF की 121वीं बटालियन के एक जवान के गंभीर रूप से घायल होने की खबर आ रही है।

2 आतंकी अभी तक छिपे बताए गए हैं जिसकी तलाशी के लिए सुरक्षा बलों का अभियान जारी है। सोशल मीडिया में इस मुठभेड़ को लेकर तमाम भ्रामक खबरें वायरल हो रहीं हैं। इन भ्रामक खबरों में आतंकी हमले के दौरान कुछ ग्रामीणों की मौत जैसे बातें प्रमुख हैं। पुलिस ने इन वायरल संदेशों को बेबुनियाद बताया है। जम्मू पुलिस के ADGP ने दावा किया है कि सभी ग्रामीण सुरक्षित हैं। फिलहाल मुठभेड़ अभी तक जारी है। केंद्रीय मंत्री डॉ जितेंद्र सिंह ने बताया कि वो हालातों पर बराबर नजर रखे हुए है और सभी जरूरी लोगों के सम्पर्क में हैं।

गौरतलब है कि इस से पहले 9 जून (रविवार) को जम्मू में मंदिर में दर्शन करने जा रहे श्रद्धालुओं की बस पर गोलियाँ बरसाईं गईं थीं। इस आतंकी हमले में 10 श्रद्धालुओं की मौत हो गई थी। यह हमला रियासी जिले में हुआ था। बस पर गोलियाँ चलने की वजह से यह दुर्घटना का शिकार हो कर खाई में गिर गई थी।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

सरकारी नौकरियों में अग्निवीरों को 10% आरक्षण: हरियाणा के CM सैनी का ऐलान- आयुसीमा में भी मिलेगी छूट, बंदूक का लाइसेंस भी मिलेगा

हरियाणा के सीएम सैनी ने कहा कि राज्य में अग्निवीरों को पुलिस भर्ती और माइनिंग गार्ड समेत कई अन्य पदों की भर्ती में 10 फीसदी आरक्षण मिलेगा।

12वीं पास को ₹6000, डिप्लोमा वाले को ₹8000, ग्रेजुएट को ₹10000: क्या है महाराष्ट्र की ‘लाडला भाई योजना’, कैसे और किनको मिलेगा फायदा?

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने 'लाडला भाई योजना' की घोषणा की है। इस लाडला भाई योजना में युवाओं को फैक्ट्रियों में अप्रेंटिसशिप मिलेगी और सरकार की तरफ से उन्हें वजीफा दिया जाएगा।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -