Sunday, July 14, 2024
Homeसोशल ट्रेंड'364 दिन फूड वेस्टेज पर ज्ञान, अपनी बर्थडे पार्टी में केक की बर्बादी': विराट...

‘364 दिन फूड वेस्टेज पर ज्ञान, अपनी बर्थडे पार्टी में केक की बर्बादी’: विराट कोहली से बोले लोग – इतने में कई कुपोषित बच्चों को मिल जाता खाना

"ये सही तरीका नहीं है। इस केक को गरीब बच्चों में बाँटा जा सकता था। यहाँ तक कि पालतू जानवर भी इसे खा सकते थे। दुनिया को पाठ पढ़ाने से अच्छा खुद सुधर जाओ। ऐसा 'उपदेश' मत दो, जिसका अनुसरण तुम खुद नहीं कर सकते।"

सोशल मीडिया पर आजकल भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली की स्थिति अच्छी नहीं चल रही है। जहाँ एक तरफ दीवाली पर ‘ज्ञान’ देने को लेकर उनकी आलोचना हुई, वहीं दूसरी तरफ पाकिस्तान और न्यूजीलैंड से T20 विश्व कप में लगातार दो हार ने देश के क्रिकेट प्रशंसकों को आक्रोश से भर दिया। अब विराट कोहली का एक वीडियो सामने आया है, जिसमें वो अपना जन्मदिन मनाते हुए दिख रहे हैं। लोगों का कहना है कि वो केक बर्बाद कर रहे हैं।

वीडियो में देखा जा सकता है कि केक काटने के बाद विराट कोहली को उनके साथी खिलाड़ियों ने केक लगा दिया। उनके सिर से लेकर चेहरा तक केक लगा हुआ है। खाने की वस्तु को इस तरह बर्बाद किए जाने को लोगों ने भोजन का अपमान बताते हुए विराट कोहली को सलाह दी है कि इससे वो बच्चों का पेट भर सकते थे। लोगों ने कहा कि दुनिया में कई बच्चे भूखे सोते हैं और भूख के कारण मौत तक हो जाती है, लेकिन दूसरों को ‘ज्ञान’ देने वाला खिलाड़ी खुद इस तरह केक बर्बाद कर रहा है।

एक यूजर ने विराट कोहली की पत्नी अभिनेत्री अनुष्का शर्मा को टैग करते हुए लिखा, “ये सही तरीका नहीं है। इस केक को गरीब बच्चों में बाँटा जा सकता था। यहाँ तक कि पालतू जानवर भी इसे खा सकते थे। दुनिया को पाठ पढ़ाने से अच्छा खुद सुधर जाओ। ऐसा ‘उपदेश’ मत दो, जिसका अनुसरण तुम खुद नहीं कर सकते।”

एक अन्य यूजर ने लिखा, “जितना केक विराट कोहली के ऊपर बर्बाद कर दिया गया और जितने रुपए में ये केक आए हैं, उतने में 3 कुपोषित बच्चों को 2 समय का न्यूट्रिशन मिल जाता। लेकिन नहीं, वो सिर्फ अपने मजे और दूसरों को ‘ज्ञान’ देने में विश्वास रखते हैं।” बता दें कि विराट कोहली ने 5 नवंबर को अपना 33वाँ जन्मदिन मनाया है।

‘अर्बन नेशनलिस्ट’ नामक यूजर ने लिखा, “वोक विराट कोहली अपने जन्मदिन पर केक बर्बाद कर रहे हैं। बाकी के 364 दिन वो भोजन बर्बाद किए जाने पर ज्ञान देंगे। ऐसी ही ज़िंदगी है।”

डॉक्टर हिमांशु सचान ने तो विराट कोहली को जन्मदिन मनाने के ‘मीनिंगफुल टिप्स’ ही दे डाले। उन्होंने लिखा, “पहली टिप्स ये है कि भोजन को बर्बाद मत करो, जैसा कि तुमने अपने चेहरे पर केक लगा कर किया है। दुनिया में बहुत गरीबी है और लोगों को दो वक्त का भोजन नहीं मिलता, इसीलिए ऐसा मत करो।”

एक अन्य ट्विटर यूजर ने लिखा, “वोक व्यक्ति वो होता है जो ये कहता है कि मंदिर में दूध चढ़ाना भोजन की बर्बादी है, जबकि खुद के शरीर पर अपनी जन्मदिन की पार्टी में दो किलो केक मल लेता है।” उक्त यूजर ने एक खबर भी शेयर की, जिसमें लिखा है कि विराट कोहली और एबी डिविलियर्स ने कोरोना की आपदा के बीच दुनिया में भुखमरी के विरुद्ध अभियान से खुद को जोड़ा है।

आपको याद दिला दें कि विराट ने हाल ही में अपने ट्विटर अकाउंट पर एक वीडियो शेयर किया था, जिसमें उन्होंने दिवाली मनाने के ‘सही’ तरीके को लेकर बात कही थी। जवाब में यूजर्स ने कहा था कि ये हिन्दू त्योहार है और इसे हिन्दू रीति-रिवाज से ही मनाया जाना चाहिए, न कि कसी सेलब्स के टिप्स से। लोगों ने नाराज़गी जाहिर करते हुए कहा था कि दीवाली के दौरान हिन्दू विधि-विधान से पूजा-पाठ करना चाहिए, क्योंकि ये एक हिंदू त्योहार है। बाद में उन्होंने अपनी योजना रद्द कर के सीधे दीवाली की बधाई दी।

भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली ने तेज़ गेंदबाज मोहम्मद शमी को कथित रूप से ट्रोल किए जाने को लेकर भी अपना विरोध दर्ज कराया था। उन्होंने ऐसे लोगों को ‘रीढ़विहीन’ बताते हुए कहा कि उनके लिए किसी का मजाक बनाना मनोरंजन का जरिया हो गया है। उन्होंने साथ ही कहा था कि ये एक अच्छा कारण है कि पिच पर हम लोग खेलते हैं, सोशल मीडिया के ‘रीढ़विहीन’ कायर लोग नहीं, जिन्हें किसी के सामने कुछ कहने की हिम्मत नहीं है लेकिन सोशल मीडिया पर किसी अन्य पहचान में छिप कर ये सब करते हैं। 

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जगन्नाथ मंदिर के ‘रत्न भंडार’ और ‘भीतरा कक्ष’ में क्या-क्या: RBI-ASI के लोगों के साथ सँपेरे भी तैनात, चाबियाँ खो जाने पर PM मोदी...

कहा जाता है कि इसकी चाबियाँ खो गई हैं, जिस पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी सवाल उठाया था। राज्य में भाजपा की पहली बार जीत हुई है, वर्षों से यहाँ BJD की सरकार थी।

मांस-मछली से मुक्त हुआ गुजरात का पालिताना, इस्लाम और ईसाइयत से भी पुराना है इस शहर का इतिहास: जैन मंदिर शहर के नाम से...

शत्रुंजय पहाड़ियों की यह पवित्रता और शीर्ष पर स्थित धार्मिक मंदिर, साथ ही जैन धर्म का मूल सिद्धांत अहिंसा है जो पालिताना में मांस की बिक्री और खपत पर प्रतिबंध लगाने की मांग का आधार बनता है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -