Monday, July 22, 2024
Homeविविध विषयअन्यक्रिकेट विश्व कप 2023 में भारत ने श्रीलंका को 302 रनों से रौंदा, 55...

क्रिकेट विश्व कप 2023 में भारत ने श्रीलंका को 302 रनों से रौंदा, 55 रनों पर समेट दी पूरी टीम: लगातार 7वीं जीत के साथ सेमीफाइनल में बनाई जगह

शुभमन गिल, विराट कोहली और श्रेयस अय्यर ने बेहतरीन अर्धशतकीय पारियाँ खेलीं। तीनों ही बल्लेबाज शतक से चूक गए, लेकिन भारतीय टीम को बहुत बड़े स्कोर तक पहुँचा गए। इसके जवाब में श्रीलंकाई टीम को नियमित अंतराल पर झटके लगते रहे और पूरी टीम महज 55 रनों पर सिमट गई। भारतीय गेंदबाजों का प्रदर्शन इतना शानदार रहा कि 5 बल्लेबाज तो अपना खाता भी नहीं खोल सके।

मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में खेले गए मैच में श्रीलंका के कप्तान कुसल मेंडिस ने टॉस जीतकर भारतीय टीम को पहले बल्लेबाजी के लिए आमंत्रित किया। भारतीय टीम ने खराब शुरुआत से उबरते हुए बल्लेबाजों के बेहतरीन प्रदर्शन के दम पर निर्धारित 50 ओवरों में 8 विकेट खोकर 357 रनों का स्कोर खड़ा कर श्रीलंका के सामने 358 रनों का लक्ष्य रखा था।

क्रिकेट विश्व कप 2023 के 33वें मैच में भारत ने श्रीलंका को 302 रनों के हराकर रिकॉर्ड तोड़ जीत दर्ज की है। इस मैच में पहले बल्लेबाजी करते हुए भारतीय टीम ने निर्धारित 50 ओवरों में 8 विकेट के नुकसान पर 357 रनों का भारी भरकम स्कोर खड़ा किया था। इसके जवाब में 358 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी श्रीलंकाई टीम को भारत ने महज 55 रनों पर समेट दिया। भारतीय टीम ने इस विश्वकप में लगातार सातवाँ मैच जीतते हुए सेमीफाइनल में जगह भी बना ली। वहीं, श्रीलंका अब सेमीफाइनल की दौड़ से लगभग बाहर हो चुका है।

शुभमन गिल, विराट कोहली और श्रेयस अय्यर ने बेहतरीन अर्धशतकीय पारियाँ खेलीं। तीनों ही बल्लेबाज शतक से चूक गए, लेकिन भारतीय टीम को बहुत बड़े स्कोर तक पहुँचा गए। इसके जवाब में श्रीलंकाई टीम को नियमित अंतराल पर झटके लगते रहे और पूरी टीम महज 55 रनों पर सिमट गई। भारतीय गेंदबाजों का प्रदर्शन इतना शानदार रहा कि 5 बल्लेबाज तो अपना खाता भी नहीं खोल सके।

श्रीलंकाई बल्लेबाजी कभी मैच में दिखी ही नहीं

श्रीलंकाई टीम ने 358 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए बेहद निराशाजनक शुरुआत की। उसके सलामी बल्लेबाज पथुन निशंका पारी की पहली ही गेंद पर एलबीडब्ल्यू आउट हो गए। निशंका को बुमराह ने पवैलियन की राह दिखाई। इस ओवर में बल्ले से कोई रन नहीं बना। श्रीलंकाई पारी के दूसरे ओवर की पहली गेंद पर दूसरे सलामी बल्लेबाज दिमुथ करुणारत्ने भी खाता खोले बगैर ही एलबीडब्ल्यू आउट हो गए। उन्हें सिराज ने पवैलियन की राह दिखाई। इसके बाद उसी ओवर में सदीरा विक्रमादित्य भी खाता खोले बगैर मोहम्मद सिराज के शिकार बन गए तो चौथे ओवर में कप्तान कुसल मेंडिस को भी सिराज ने पवैलियन भेज दिया। उस समय टीम का स्कोर था महज 3 रन और टीम के 4 बल्लेबाज पवैलियन लौट चुके थे।

फिर आया शमी नाम का तूफान…

मोहम्मद शमी ने श्रीलंका के 4 विकेट गिरने के बाद पहले बदलाव के तौर पर बॉलिंग की कमान संभाली और अगले 5 ओवरों में एक ओवर मेडन रखते हुए महज 18 रन देकर 5 श्रीलंकाई बल्लेबाजों को पवैलियन की राह दिखाई। मोहम्मद शमी इसी के साथ भारत की ओर से इस विश्वकप में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज भी गए। मोहम्मद शमी अब तक इस विश्वकप में 14 विकेट ले चुके हैं, वो भी महज तीन मैचों में ही। इसके बाद आखिरी विकेट रविंद्र जड़ेजा ने लिया।

श्रीलंकाई बल्लेबाजी की खराब हालत का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि सिर्फ 3 बल्लेबाज दहाई के आँकड़े तक पहुँचे, जबकि 5 बल्लेबाज खाता भी नहीं खोल सके। वहीं, दो बल्लेबाज सिर्फ 1-1 रन ही बना सके। मोहम्मद शमी को उनकी शानदार गेंदबाजी के लिए ‘मैन ऑफ द मैच’ चुना गया। भारतीय टीम के लिए शमी ने पाँच, सिराज ने 3 और बुमराह-जडेजा ने एक-एक विकेट लिए।

भारतीय टीम ने खराब शुरुआत के बाद खड़ा किया पहाड़-सा स्कोर

इससे पहले, टॉस हार कर पहले बल्लेबाजी करने उतरी भारतीय टीम की शुरुआत बेहद निराशाजनक रही। इस विश्वकप में प्रचंड फॉर्म में चल रहे कप्तान रोहित शर्मा ने दिलशान मधुशंका की पहली गेंद पर चौका लगाया, लेकिन अगली ही गेंद पर क्लीन बोल्ड होकर पवैलियन लौट गए। इसके बाद शुभमन गिल और विराट कोहली ने शानदार बल्लेबाजी की। दोनों ने दूसरे विकेट के लिए 189 रनों की साझेदारी की।

जब टीम का स्कोर 193 रन पहुँचा, तभी शुभमन गिल 92 रनों की पारी खेलकर आउट हो गए। वो विश्वकप में अपना पहल शतक बनाने से चुक गए। इसके बाद विराट कोहली भी 88 रन बनाकर आउट हो गए। उस समय टीम का स्कोर 196 रन ही था। तीनों विकेट मधुशंका को ही मिले। शुभमन गिल ने अपनी पारी में 11 चौके और 2 छक्के लगाए तो विराट कोहली ने अपनी पारी में 11 चौके लगाए। इसके बाद चौथे विकेट के तौर पर केएल राहुल 21 रन बनाकर आउट हुए, लेकिन तब तक टीम का स्कोर 256 रनों तक पहुँच गया था।

राहुल के बाद सूर्यकुमार यादव महज 12 रन ही बना सके और 276 रनों के कुल स्कोर पर पाँचवें विकेट के रूप में आउट होकर पवैलियन लौटे। इस दौरान दूसरे छोर से श्रेयस अय्यर तेजी से रन बनाते रहे। वो छठें विकेट के रूप में कुल 333 रनों के स्कोर पर आउट हुए। अय्यर ने महज 56 गेंदों पर 82 रन बनाए। उन्होंने अपनी पारी में 3 चौके और 6 छक्के लगाए। इसके बाद पारी की आखिरी ओवर में मोहम्मद शमी और रविंद्र जडेजा रन आउट हो गए। शमी 2 रन बना सके, जबकि रविंद्र जडेजा ने 24 गेंदों पर 35 रनों की पारी खेली।

इस मैच में जीत के साथ ही भारतीय टीम ने 14 अंकों के साथ सेमीफाइनल में जगह भी बना ली है। भारतीय टीम का रन रेट भी 2 के ऊपर पहुँच गया है। दूसरी तरफ, श्रीलंका की टीम 7 मैचों में महज 2 जीत के साथ अंकतालिका में सातवें नंबर पर है। अब, दूसरे स्थान पर मौजूद दक्षिण अफ्रीकी टीम ने 7 में से 6 मैच जीते हैं और वो भी सेमीफाइनल में लगभग जगह बना चुकी है। अब दोनों टीमों के बीच अगला मुकाबला 5 नवंबर को खेला जाएगा।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘कोई भी कार्रवाई हो तो हमारे पास आइए’: हाईकोर्ट ने 6 संपत्तियों को लेकर वक्फ बोर्ड को दी राहत, सेन्ट्रल विस्टा के तहत इन्हें...

दिसंबर 2021 में सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने हाईकोर्ट को आश्वासन दिया था कि वक्फ बोर्ड की संपत्तियों को कोई नुकसान नहीं पहुँचाया जाएगा।

‘कागज़ पर नहीं, UCC को जमीन पर उतारिए’: हाईकोर्ट ने ‘तीन तलाक’ को बताया अंधविश्वास, कहा – ऐसी रूढ़िवादी प्रथाओं पर लगे लगाम

मध्य प्रदेश हाई कोर्ट ने कहा है कि समान नागरिक संहिता (UCC) को कागजों की जगह अब जमीन पर उतारने की जरूरत है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -