Saturday, June 22, 2024
Homeविविध विषयअन्यभारतीय क्रिकेटर Pak से माफी माँगते रहते थे, हमने ठीक-ठाक मारा है उन्हें: शाहिद...

भारतीय क्रिकेटर Pak से माफी माँगते रहते थे, हमने ठीक-ठाक मारा है उन्हें: शाहिद अफरीदी ने फिर उगला जहर

"उन्हें तो ठीक-ठाक मारा है हमने। इतना मारा है कि कई बार माफियाँ मांगी हैं उन्होंने।" - अफरीदी ने अपने बड़बोलेपन को प्रदर्शित करते हुए भारतीय टीम के बारे में कहा। शाहिद अफरीदी ने दावा किया कि उन्हें भारत के खिलाफ...

पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर शाहिद अफरीदी ने भारत को लेकर एक बार फिर से ज़हर उगला है। उन्होंने दावा किया है कि भारतीय क्रिकेट टीम पाकिस्तानी टीम से माफ़ी माँगा करती थी। पाकिस्तान के पूर्व कप्तान ने कहा कि उनकी टीम भारत को इतना हराती थी कि भारतीय क्रिकेटर पाकिस्तान से माफ़ी माँगा करते थे। अफरीदी के इस बयान से सोशल मीडिया पर भारतीय प्रशंसक नाराज़ दिखे।

शाहिद अफरीदी ने दावा किया कि उन्हें भारत के खिलाफ खेलना हमेशा से अच्छा लगता रहा है। अफरीदी ने अपने बड़बोलेपन को प्रदर्शित करते हुए भारतीय टीम के बारे में कहा– “उन्हें तो ठीक-ठाक मारा है हमने। इतना मारा है कि कई बार माफियाँ मांगी हैं उन्होंने।” उन्होंने दावा किया कि भारत और ऑस्ट्रेलिया के विरुद्ध दबाव ज्यादा रहने से उन्हें खेलने में खूब मजा आता था।

हालाँकि, शाहिद अफरीदी ने ये भी कहा कि भारत व ऑस्ट्रेलिया अच्छी टीमें हैं और बड़ी टीमें हैं। उन्होंने कहा कि इन टीमों के खिलाफ इनके वातावरण में अच्छा परफॉर्म करना बहुत बड़ी बात है। अफरीदी ने यूट्यूब पर ‘क्रीक कास्ट’ शो में ये बातें कहीं। बता दें कि पाकिस्तान और भारत के मैचों में पाकिस्तान 73-55 से आगे है लेकिन इसमें अफरीदी के समय की टीम का कोई कमाल नहीं है।

80 के दशक में पाकिस्तान की टीम भारतीय टीम पर हावी रही थी और इसी कारण पाकिस्तान अब भी कुल हार-जीत के आँकड़ों में ज्यादा जीत के साथ आगे है। जहाँ तक 2000 के बाद हुए मैचों की बात करें तो भारत 25-23 के आँकड़े के साथ पाकिस्तान से आगे है। वहीं 90 के दशक में पाकिस्तान ने 23-10 से बढ़त बनाई हुई थी। लेकिन तब भी आज तक वर्ल्ड कप के एक भी मैच में पाकिस्तान भारत को हरा नहीं पाया है।

वनडे वर्ल्ड कप की बात करें तो अब तक हुए 7 मैचों में ऐसा एक बार भी नहीं हुआ है जब पाकिस्तान ने भारत को हराया हो। वहीं T20 वर्ल्ड कप में भी भारत के साथ हुए 7 मैचों में पाकिस्तान मात्र एक बार ही जीत दर्ज कर सका है। 2010 के बाद तो पाकिस्तानी टीम भारत के सामने कहीं टिकती ही नहीं है। 14 मैचों में से 10 में भारत ने जीत दर्ज की है। पाकिस्तानी टीम और कमजोर ही होती जा रही है।

शाहिद अफरीदी ने भारत में भारत के ही खिलाफ बनाए 141 रन को अपनी सबसे बेहतरीन पारी करार दिया। उन्होंने बताया कि शुरुआत में उन्हें इस टूर में ले जाने की योजना नहीं थी लेकिन उस समय दिग्गज गेंदबाज वसीम अकरम और पाकिस्तान के चयनकर्ताओं के प्रमुख ने उनका समर्थन किया था। उन्होंने कहा कि ये टूर खासा कठिन और ये पारी भी खास थी। अफरीदी ने 1999 में चेन्नई टेस्ट में ये पारी खेली थी।

इससे पहले अफरीदी ने कहा था कि कोरोना से भी बड़ी बीमारी मोदी (प्रधानमंत्री मोदी) के दिलो-दिमाग में हैं और वह बीमारी मजहब की बीमारी है। पाक अधिकृत कश्मीर में लोगों को सम्बोधित करते हुए उन्होंने कहा था कि मजहब को लेकर वह सियासत कर रहे हैं और हमारे कश्मीरी भाई-बहनों और बुजुर्गों के साथ जुल्म कर रहे हैं। उन्हें इसका जवाब देना होगा। इस पर उनकी तीखी आलोचना हुई थी।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

नालंदा विश्वविद्यालय को ब्राह्मणों ने ही जलाया था, 11वीं सदी का शिलालेख है साक्ष्य!!

नालंदा विश्वविद्यालय को ब्राह्मणों ने ही जलाया था, बख्तियार खिलजी ने नहीं। ब्राह्मण+बुर्के वाली के संभोग को खोद निकाला है इस इतिहासकार ने।

10 साल जेल, ₹1 करोड़ जुर्माना, संपत्ति भी जब्त… पेपर लीक के खिलाफ आ गया मोदी सरकार का सख्त कानून, NEET-NET परीक्षाओं में गड़बड़ी...

परीक्षा आयोजित करने में जो खर्च आता है, उसकी वसूली भी पेपर लीक गिरोह से ही की जाएगी। केंद्र सरकार किसी केंद्रीय जाँच एजेंसी को भी ऐसी स्थिति में जाँच सौंप सकती है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -