दिल्ली में घुसे जैश के 3-4 आत्मघाती आतंकवादी, खुफिया सूचना के बाद कई जगह छापेमारी, रेड अलर्ट

आतंकी हमले की आशंका के चलते दिल्ली में पुलिस ने अलर्ट जारी कर दिया है, साथ ही सार्वजनिक स्थलों की सुरक्षा बढ़ा दी गई हैं। बस स्टैंड, रेलवे स्टेशनों और मेट्रो स्टेशन पर भी अतिरिक्त पुलिस बल तैनात किए गए हैं।

राष्ट्रीय राजधानी नई दिल्ली में इस वक्त जैश-ए-मोहम्मद के 4 आतंकी मौजूद हैं। खूफिया एजेंसी ने खुद इसके बारे में खुलासा किया है। इन आतंकियों के पास आधुनिक हथियार हैं और ये किसी बड़े हमले को अंजाम देने की फिराक में हैं। इंटेलिजेंस को मिली सूचना के बाद दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल कई इलाकों में छापेमारी कर रही हैं। इन्हें ढूँढने के लिए पुलिस का सर्च ऑपरेशन जारी है।

आतंकी हमले की आशंका के चलते दिल्ली में पुलिस ने अलर्ट जारी कर दिया है, साथ ही सार्वजनिक स्थलों की सुरक्षा बढ़ा दी गई हैं। बस स्टैंड, रेलवे स्टेशनों और मेट्रो स्टेशन पर भी अतिरिक्त पुलिस बल तैनात किए गए हैं।

जानकारी के अनुसार आतंकियों को पकड़ने के लिए पुलिस ने अब तक सीलमपुर और उत्तर पूर्वी दिल्ली के 2 स्थानों एवं जामिया नगर और सेंट्रल दिल्ली के पहाड़गंज स्थित 2 जगहों पर छापेमारी की है। इसके अलावा 2 लोगों को पूछताछ के लिए भी हिरासत में लिया गया है।

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

उल्लेखनीय है कि एक दिन पहले यानी बुधवार को ही अभी पंजाब से एक आतंकी गिरफ्तार हुआ है और आज दिल्ली को लेकर ये खबर आ गई। फिदायीन हमले की आशंका के कारण श्रीनगर, अमृतसर, पठानकोट में सुरक्षा कड़ी कर दी गई और अन्य कई जगहों पर भी ऑरेंज अलर्ट जारी हुआ है। इससे पहले एसआईटी ने अमृतसर से तीन बदमाशों को गिरफ्तार किया था। उनके पास से 5 AK–47, 2 राइफल और गोला बारूद बरामद हुआ है।

यहाँ बता दें कि आर्टिकल 370 के निष्प्रभावी होने के बाद से ही आतंकी भारत में घुसपैठ करने की कोशिशों में जुटे हैं। बीते दिनों घुसपैठ के मनसूबों को नाकाम होता देख उन्होंने ड्रोन के जरिए भारत में आतंकियों तक हथियार भी पहुँचाएँ, जिनमें 2 ड्रोन पुलिस द्वारा जब्त कर लिए गए।

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

गोटाभाया राजपक्षे
श्रीलंका में मुस्लिम संगठनों के आरोपों के बीच बौद्ध राष्ट्र्वादी गोटाभाया की जीत अहम है। इससे पता चलता है कि द्वीपीय देश अभी ईस्टर बम ब्लास्ट को भूला नहीं है और राइट विंग की तरफ़ उनका झुकाव पहले से काफ़ी ज्यादा बढ़ा है।

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

114,382फैंसलाइक करें
22,948फॉलोवर्सफॉलो करें
120,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: