Monday, July 22, 2024
Homeदेश-समाजसरफराज खान ने मुक्के और पत्थरों से पीट-पीट कर ले ली 77 साल के...

सरफराज खान ने मुक्के और पत्थरों से पीट-पीट कर ले ली 77 साल के बुजुर्ग की जान, गलत तरीके बाइक चलाने पर टोकने से भड़का, CCTV फुटेज से हुआ खुलासा

पुलिस ने इस इलाके के आगे के सीसीटीवी खंगाले और आरोपित की पहचान 35 साल के सरफराज खान के तौर पर की। वो एक वेल्डर और मैकेनिक है। वो पहले मृतक बुजुर्ग के इलाके में ही रहा करता था।

कर्नाटक के बेंगलुरु में एक 77 साल के बुजुर्ग को बाइक सवार सरफराज खान ने पीट-पीट कर मार डाला। दरअसल, बुजुर्ग की गलती इतनी थी कि सड़क पर गलत तरीके से वाहन चलाते दिखे एक बाइक सवार को उन्होंने टोक दिया था। इस बात की कीमत उन्हें अपनी अपनी जान देकर चुकानी पड़ी।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, बुजुर्ग की गलती महज इतनी थी कि उन्होंने पैलेस गुट्टाहल्ली इलाके के पास लापरवाही से गाड़ी चलाने के लिए एक मोटरसाइकिल सवार सरफराज खान को डाँट लगा दी थी। इससे गुस्साए सरफराज ने उन्हें पीट-पीट कर मार डाला। उन पर ये हमला तब हुआ जब वो अपनी डायबिटीज की दवाई खरीदने के लिए एक मेडिकल शॉप पर जा रहे थे। मृतक बुजुर्ग की पहचान मुनेश्वरा ब्लॉक निवासी कृष्णप्पा के तौर पर की गई।

ऐसे हुआ खुलासा

बता दें कि इस घटना का खुलासा 16 नवंबर, 2023 को पुलिस के सड़क दुर्घटना का केस दर्ज करने के बाद हुआ था। पुलिस ने यह मानते हुए कि केस दर्ज किया था कि ये बुजुर्ग बीती रात को मेडिकल शॉप जाते वक्त अपने स्कूटर से गिर गए। लेकिन इस बुजुर्ग की मौत का सच बाद में सामने आया। मृतक बुजुर्ग के बेटे सतीश कुमार को उनकी मौत को लेकर कुछ गड़बड़ी होने का शक था। इसी वजह से उन्होंने अपने घर के पास के सीसीटीवी फुटेज की जाँच की। जहाँ उनके पिता मरे मिले थे क्योंकि वो जगह उनके घर के पास ही थी।

जब उन्होंने ये फुटेज देखी तो वो हैरान रह गए। उन्होंने देखा कि एक शख्स उनके पिता के साथ बहस करते हुए उन पर हमला कर रहा था। इस सीसीटीवी फुटेज को आधार बना व्यालिकावल पुलिस ने 17 नवंबर, 2023 को हत्या का मामला दर्ज किया।

इसके बाद पुलिस ने इस इलाके के आगे के सीसीटीवी खंगाले और आरोपित की पहचान 35 साल के सरफराज खान के तौर पर की। वो एक वेल्डर और मैकेनिक है। वो पहले मृतक बुजुर्ग के इलाके में ही रहा करता था।

पुलिस के मुताबिक, मौजूदा वक्त में वो आरटी नगर इलाके में रहने लगा था। वो अक्सर अपने दोस्तों से मिलने और उनके साथ पार्टी करने के लिए पैलेस गुट्टाहल्ली आता रहता था। बुधवार 15 नवंबर की रात भी वह पैलेस गुट्टाहल्ली की तरफ जा रहा था।

इसी दौरान कृष्णप्पा करीब 8:30 बजे अपने स्कूटर से मेडिकल स्टोर के लिए निकले थे। पुलिस के मुताबिक, खान ने अपनी बाइक कृष्णप्पा के स्कूटर से टकरा दी। इससे उनका संतुलन लगभग बिगड़ गया और वो गिरने ही वाले थे।

इसे लेकर कृष्णप्पा ने गुस्से में खान से सही से बाइक चलाने को कहा। इससे भड़के खान ने कृष्णप्पा पर मुक्कों की बरसात करने के साथ ही उन पर पत्थरों से हमला कर दिया। पुलिस ने आगे बताया कि सरफराज खान के एक दोस्त रतन ने बुजुर्ग कृष्णप्पा पर हो रहे हमले को रोकने की कोशिश की थी, लेकिन वो इसमें कामयाब नहीं हुआ।

इस हमले की वजह से कृष्णप्पा सड़क पर गिर गए। इसके बाद आरोपित सरफराज और उसका दोस्त रतन दोनों वहाँ से चले गए। एक राहगीर ने पुलिस को सूचित किया और कृष्णप्पा को पास के अस्पताल में ले जाया गया। हालात नाजुक होने पर महावीर जैन अस्पताल ले जाया गया। जहाँ इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई।

यदि मृतक के बेटे सतीश कुमार ने सीसीटीवी फुटेज की दोबारा से जाँच नहीं की होती, तो खान शायद सजा से बच गया होता। एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ”हम जल्द से जल्द खान के खिलाफ हत्या का मामला दाखिल करेंगे।”

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आम सैनिकों जैसी ड्यूटी, सेम वर्दी, भारतीय सेना में शामिल हो चुके हैं 1 लाख अग्निवीर: आरक्षण और नौकरी भी

भारतीय सेना में शामिल अग्निवीरों की संख्या 1 लाख के पार हो गई है, 50 हजार अग्निवीरों की भर्ती की जा रही है।

भारत के ओलंपिक खिलाड़ियों को मिला BCCI का साथ, जय शाह ने किया ₹8.50 करोड़ मदद का ऐलान: पेरिस में पदकों का रिकॉर्ड तोड़ने...

बीसीसीआई के सचिव जय शाह ने बताया कि ओलंपिक अभियान के लिए इंडियन ओलंपिक एसोसिएशन (IOA) को बीसीसीआई 8.5 करोड़ रुपए दे रही है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -