Wednesday, July 24, 2024
Homeदेश-समाजहिंदू परिवार ने मुस्लिमों पर लगाया प्रताड़ित करने का आरोप, धर्मांतरण की दी धमकी:...

हिंदू परिवार ने मुस्लिमों पर लगाया प्रताड़ित करने का आरोप, धर्मांतरण की दी धमकी: दरभंगा पुलिस ने बताया जमीनी विवाद

ये मामला दरभंगा के भालपट्टी ओपी थाना इलाके के मुरिया गाँव का है। यहाँ राजधन देवी अपने परिवार के साथ रहती हैं। उनके बेटे विक्की अपनी परेशानी लेकर डीएम राजीव रौशन के पास पहुँचे, तब जाकर मामला मीडिया की नजर में आया।

बिहार के दरभंगा जिले के एक हिंदू परिवार ने इस्लाम अपनाने के लिए मजबूर किया जाने का आरोप लगाया है। परिवार ने मारपीट और आपत्तिजनक चीजें फेंकेने का भी आरोप लगाया है। पीड़ित परिवार का कहना है कि मुस्लिम बाहुल्य गाँव में वे इकलौते हिंदू परिवार हैं जिसके कारण उन्हें परेशान किया जा रहा है। हालाँकि प्रशासन ने इसे जमीनी विवाद बताते हुए धार्मिक विवाद या दबंगई के आरोपों को खारिज किया है।

पीड़ित परिवार ने मोहम्मद गुड्डू और मोहम्मद लड्डू समेत उनके पाँच भाइयों पर प्रताड़ित करने के आरोप लगाए हैं। ये मामला दरभंगा के भालपट्टी ओपी थाना इलाके के मुरिया गाँव का है। यहाँ राजधन देवी अपने परिवार के साथ रहती हैं। उनके बेटे विक्की अपनी परेशानी लेकर डीएम राजीव रौशन के पास पहुँचे, तब जाकर मामला मीडिया की नजर में आया।

पीड़िता महिला ने अपने बेटे के माध्यम से जिलाधिकारी को दिए गए आवेदन में कहा है कि उसका परिवार जिस गाँव में रहता है, वह पूरा इलाका मुस्लिमों का है और गाँव में उसका अकेला हिन्दू परिवार है। ऐसे में दूसरे समुदाय के लोग लगातार उसे अलग अलग तरह से न सिर्फ प्रताड़ित कर रहे हैं बल्कि उसके घर में भी घुसकर हंगामा करता है। विक्की ने यह भी आरोप लगाया है कि मुस्लिम समुदाय के लोगों द्वारा उसके घर के अंदर आपत्तिजनक सामान फेंक दिया जाता है।

विक्की ने दैनिक भास्कर से बातचीत में मोहम्मद गुड्डू और मोहम्मद लड्डू के परिवार पर आरोप लगाए हैं। विक्की ने कहा कि गुड्डू और लड्डू 5 भाई हैं और वो लोग चाहते हैं कि उनका परिवार अपना घर छोड़कर चला जाए। या फिर इस्लाम धर्म कबूल कर लें। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, विक्की ने कहा अब मुझे लगता है कि हमारे संविधान में हिन्दू को रहने का अधिकार नहीं है। इसलिए सभी अधिकारी हमें घुमा रहे है।

पीड़ित परिवार का आरोप है कि वह पिछले तीन साल से अधिकारियों के यहाँ चक्कर लगा रहे हैं लेकिन उनकी बात नहीं सुनी जा रही है। जिलाधिकारी राजीव रौशन ने कहा है कि एक लड़का इस संबंध में हमसे मुलाकात करने आया था। आवेदन प्राप्त होने के बाद जाँच के लिए सदर अनुमंडल अधिकारी को निर्देशित किया गया है कि तुरंत गाँव पहुँच कर पूरे मामले की जांच कर आवश्यक कार्रवाई करे।

नोटः दरभंगा पुलिस ने इस मामले में धार्मिक विवाद से इनकार किया है। यह तथ्य सामने आने के बाद इसे रिपोर्ट में शामिल कर दिया गया है। इस मामले से जुड़ी अपडेटेड खबर पढ़ने के लिए इस लिंक पर क्लिक करें

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘तुमलोग वापस भारत भागो’: कनाडा में अब सांसद को ही धमकी दे रहा खालिस्तानी पन्नू, हिन्दू मंदिर पर हमले का विरोध करने पर भड़का

आर्य ने कहा है कि हमारे कनाडाई चार्टर ऑफ राइट्स में दी गई स्वतंत्रता का गलत इस्तेमाल करते हुए खालिस्तानी कनाडा की धरती में जहर बोते हुए इसे गंदा कर रहे हैं।

मुजफ्फरनगर में नेम-प्लेट लगाने वाले आदेश के समर्थन में काँवड़िए, सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद बोले – ‘हमारा तो धर्म भ्रष्ट हो गया...

एक कावँड़िए ने कहा कि अगर नेम-प्लेट होता तो कम से कम ये तो साफ हो जाता कि जो भोजन वो कर रहे हैं, वो शाका हारी है या माँसाहारी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -