Thursday, July 25, 2024
Homeदेश-समाजबुलेट बाइक धीमी चलाने को कहा तो दलित पत्रकार को घेर कर पीटा, लाठी-डंडे...

बुलेट बाइक धीमी चलाने को कहा तो दलित पत्रकार को घेर कर पीटा, लाठी-डंडे और हथौड़ी से लैस थे मुस्लिम दुकानदार: जाति पूछ कर हमला

पीड़ित युवक पेशे से पत्रकार बताया जा रहा है, जो गाँव शेखपुरा का रहने वाला है। मनीष ने वीडियो जारी कर के अपने साथ हुए घटनाक्रम की जानकारी दी है।

उत्तर प्रदेश के सहारनपुर जिले में एक मनीष नाम के दलित युवक ने आरोप लगाया है कि कुछ मुस्लिमों ने घेर तक उसकी पिटाई की। पीड़ित के मुताबिक, बाइक तेज चलाने से रोकने पर उसकी पिटाई की गई है। मनीष ने जानकारी दी कि हमलावर दुकानदार थे, जिन्होंने उसकी पिटाई के लिए लाठी-डंडे का इस्तेमाल किया। पुलिस ने पीड़ित की शिकायत पर FIR दर्ज कर के आरोपितों की तलाश शुरू कर दी है। घटना रविवार (4 दिसम्बर, 2022) की है।

पीड़ित युवक पेशे से पत्रकार बताया जा रहा है, जो गाँव शेखपुरा का रहने वाला है। मनीष ने वीडियो जारी कर के अपने साथ हुए घटनाक्रम की जानकारी दी है। मामला सदर बाजार थानाक्षेत्र के फतेहपुर बाजार का है। पीड़ित के मुताबिक, वह अपने दोस्त सूर्या के साथ एक शादी से वापस आ रहा था। जैसे ही वो फतेहपुर बाजार पहुँचा, एक व्यक्ति बुलेट बाइक पर बेतहाशा तेज गति से चलाता हुआ सामने आ गया। पीड़ित ने उसे स्पीड में चलाने से मना करते हुए देख कर गाड़ी चलाने की सलाह दी।

मनीष का आरोप है कि इस बात से बाइक सवार काफी नाराज हो गया। उसने अपने तो खुद अभद्रता की और बाद में आसपास के लोगों को जमा करना शुरू कर दिया। पीड़ित के अनुसार, उसे पीटने के लिए जमा हुए दुकानदार मुस्लिम समुदाय के थे, जिन्होंने पहले उनके दोस्त को मारा। बाद में हमलावरों ने पीड़ित को जातिसूचक शब्द बोलते हुए पीटना शुरू किया। मनीष के मुताबिक, हमलावरों के पास धारदार हथियार और लाठी-डंडे थे। पीड़ित का आरोप है कि उसकी जाति को जान कर उसे और मारा गया।

पीड़ित ने आगे बताया कि लगभग 6 घंटे बाद पुलिस ने उसका मेडिकल करवाया। बाद में केस दर्ज कर के जाँच का आश्वासन दिया गया है। पीड़ित ने पुलिस प्रशासन से आरोपितों पर कार्रवाई की माँग की है। एक अन्य वीडियो में मनीष को पुलिस स्टेशन के अंदर उसके परिचितों के साथ देखा जा सकता है। मनीष की शर्ट को ऊपर उठाया गया है जिसमें पिटाई के कई निशान दिखाई दे रहे हैं। मौके पर मौजूद लोग इस घटना पर नाराजगी जताते भी सुनाई दे रहे हैं।

मनीष पर हुए हमले का वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। वीडियो में कुछ हमलावरों के हाथ में डंडे और कुछ के हाथों में हथौड़ीनुमा चीज दिखाई दे रही है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

अखलाक की मौत हर मीडिया के लिए बड़ी खबर… लेकिन मुहर्रम पर बवाल, फिर मस्जिद के भीतर तेजराम की हत्या पर चुप्पी: जानें कैसे...

बरेली में एक गाँव गौसगंज में तेजराम नाम के एक युवक की मुस्लिम भीड़ ने मॉब लिंचिंग कर दी। इलाज के दौरान तेजराम की मौत हो गई।

‘वन्दे मातरम’ न कहने वालों को सेना के जवान और डॉक्टर ने Whatsapp ग्रुप में कहा – पाकिस्तान जाओ: सिद्दीकी ने करवा दी थी...

शिकायतकर्ता शबाज़ सिद्दीकी का कहना है कि सेना के जवान और डॉक्टर ने मुस्लिमों की भावनाओ को ठेस पहुँचाई है, उनके भीतर दुर्भावना थी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -