Friday, July 19, 2024
Homeदेश-समाजमदरसे में छात्रा से 2 महीने से रेप कर रहा था मौलवी, मार कर...

मदरसे में छात्रा से 2 महीने से रेप कर रहा था मौलवी, मार कर लाश नहर में फेंकने की धमकी: उधर दिल्ली की मस्जिद में मौलाना ने छात्रा से किया छेड़छाड़

दिल्ली पुलिस ने छेड़छाड़ के आरोपित मौलवी अरमान और रेप केस में आरोपित गाजियाबाद के मौलवी शहादत को गिरफ्तार कर लिया है।

दिल्ली और गाजियाबाद की 2 अलग-अलग घटनाओं में मौलवियों द्वारा 2 नाबालिग लड़कियों से छेड़छाड़ और दुष्कर्म का मामला सामने आया है। दिल्ली पुलिस ने छेड़छाड़ के आरोपित मौलवी अरमान और रेप केस में आरोपित गाजियाबाद के मौलवी शहादत को गिरफ्तार कर लिया है। दिल्ली में छेड़छाड़ मस्जिद में जबकि गाजियाबाद में मदरसे की इमारत के अंदर रेप का आरोप है। दोनों मौलवियों पर पॉक्सो एक्ट के तहत केस दर्ज हुआ है।

पहला मामला दिल्ली के जफराबाद इलाके का है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, 10 साल की पीड़िता क्लास 3 की छात्रा है। वह सरकारी स्कूल में पढ़ाई खत्म कर के रोज घर के पास वाली मस्जिद के मौलवी से तालीम हासिल करने जाया करती थी। गुरुवार (10 नवम्बर, 2022) को मौलवी ने बाकी बच्चों को नीचे छोड़ दिया और बच्ची को ले कर मस्जिद के पहले फ्लोर पर चला गया। वहाँ पहुँच कर उसने पीड़िता से छेड़खानी शुरू कर दिया।

बताया जा रहा है कि इस दौरान पीड़िता शोर मचाने लगी तो मौलवी ने उसे छोड़ दिया। बच्ची ने घर पहुँच कर सभी को मौलवी की करतूत बताई तो परिजनों ने पुलिस को बुलाया। बच्ची के अब्बा की शिकायत पर मौलवी मोहम्मद अरमान को गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस मामले की जाँच कर रही है।

गाजियाबाद में फोन चलाने के बहाने रेप

वहीं दूसरा मामला गाजियाबाद के मसूरी थाना क्षेत्र का है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, यहाँ मदरसा चलाने वाले मौलवी शहादत पर एक नाबालिग छात्रा के साथ 2 महीने तक रेप का आरोप है। बताया जा रहा है कि शहादत पीड़िता को छुट्टी के बाद भी अपने साथ मोबाइल चलाना सिखाने के बहाने रोक लिया करता था। इस दौरान वो बच्ची से रेप करता था और किसी को बताने पर जान से मारने की धमकी भी दिया करता था। पीड़िता के मुताबिक, मौलवी शहादत उसकी लाश को नहर में फेंक देने की बात कह कर उसे डराता था।

पुलिस ने बताया कि आरोपित ने पहले छेड़छाड़ की और बाद में छात्रा के चुप रहने से उसने रेप किया। बताया जा रहा है कि शहादत ने बच्ची को फोन भी दिलाने का वादा किया था। पीड़िता की उम्र 13 साल है, जो मौलवी शहादत के ही द्वारा संचालित एक प्राइवेट स्कूल में क्लास 6 में पढ़ती थी। जैसे तैसे बच्ची ने हिम्मत कर के अपने घर मौलवी की करतूत बताई, तब उसके परिजनों ने पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई। पुलिस ने पॉक्सो एक्ट के तहत केस दर्ज कर के शहादत को गिरफ्तार कर लिया है।

शहादत का मदरसा साल 2014 से चल रहा है। उसका एक स्कूल भी क्लास 8 तक है। पुलिस ने शिक्षा विभाग से मदरसे और स्कूल के मान्यता संबंधी जानकारियाँ जुटाईं हैं।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जहाँ सब हैं भोले के भक्त, बोल बम की सेवा जहाँ सबका धर्म… वहाँ अस्पृश्यता की राजनीति मत ठूँसिए नकवी साब!

मुख्तार अब्बास नकवी ने लिखा कि आस्था का सम्मान होना ही चाहिए,पर अस्पृश्यता का संरक्षण नहीं होना चाहिए।

अजमेर दरगाह के सामने ‘सर तन से जुदा’ मामले की जाँच में लापरवाही! कई खामियाँ आईं सामने: कॉन्ग्रेस सरकार ने कराई थी जाँच, खादिम...

सर तन से जुदा नारे लगाने के मामले में अजमेर दरगाह के खादिम गौहर चिश्ती की जाँच में लापरवाही को लेकर कोर्ट ने इंगित किया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -