Tuesday, July 23, 2024
Homeदेश-समाजइंटरनेट बंद, स्कूल-बैंकों में छुट्टी, धारा-144 लागू, सीमाएँ सील... नूहं में अधूरी बृजमण्डल यात्रा...

इंटरनेट बंद, स्कूल-बैंकों में छुट्टी, धारा-144 लागू, सीमाएँ सील… नूहं में अधूरी बृजमण्डल यात्रा को पूरा करने की घोषणा के बाद सख्ती, पैरा-मिलिट्री तैनात

हरियाणा पुलिस ने बाकी राज्यों से भी सहयोग माँगा है। 26 अगस्त को सर्व हिन्दू समाज ने नई दिल्ली में एक बैठक के बाद बृजमंडल यात्रा पूरी करने की घोषणा की थी।

सर्व हिन्दू समाज द्वारा 28 अगस्त 2023 को बृजमंडल यात्रा पूरी किए जाने के ऐलान के बाद हरियाणा में पुलिस प्रशासन एक्टिव हो गया है। यह यात्रा नूहं स्थित नल्हड मंदिर की तरफ जानी है। ऐसे में प्रशासन ने धारा 144 लागू कर दी है। साथ ही सीमाओं को सील किया जा रहा है। मोबाइल इंटरनेट और SMS सेवा को भी 28 अगस्त तक के लिए सस्पेंड कर दिया गया है।

हरियाणा पुलिस ने बाकी राज्यों से भी सहयोग माँगा है। 26 अगस्त (शनिवार) को सर्व हिन्दू समाज ने नई दिल्ली में एक बैठक के बाद बृजमंडल यात्रा पूरी करने की घोषणा की थी।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक 27 अगस्त से ही नूहं जिले की सीमाओं को सील करने की तैयारी चल रही है। सुरक्षा के नजरिए से न सिर्फ स्थानीय पुलिस बल्कि पैरामिलिट्री के जवान भी तैनात किए जा रहे हैं। हरियाणा के तमाम प्रशासनिक अधिकारी नूहं जिले में ही कैम्प कर रहे हैं।

इस यात्रा को पूरा करने के ऐलान के बाद सभी अधिकारी फिलहाल नूहं में मीटिंग कर रहे हैं। नूहं और आसपास के स्कूलों के साथ बैंकों को भी 28 अगस्त तक के लिए बंद कर दिया गया है। माना जा रहा है कि यात्रा में शामिल होने आ रहे लोगों को सीमाओं पर ही रोक लिया जाएगा।

कानून-व्यवस्था के नजरिए से 32 स्पेशल ड्यूटी मजिस्ट्रेट तैनात किए गए हैं। ख़ुफ़िया विभाग LIU को भी पूरी तरह से एक्टिव रहने के निर्देश दिए गए हैं। नूहं के उपायुक्त धीरेन्द्र खडगढा के मुताबिक सभी प्रशासनिक अधिकारियों को 27 और 28 अगस्त के दिन अपना मुख्यालय न छोड़ने के आदेश जारी किए गए हैं।

वहीं इस आदेश को न मानने वालों पर कार्रवाई की जाएगी। साथ ही उन्होंने कहा कि जो भी बाहरी व्यक्ति इस यात्रा में शामिल होने आएगा उसे सीमा पर ही रोक कर वापस लौटा दिया जाएगा। प्रशासन को इस यात्रा में न सिर्फ हरियाणा के विभिन्न जिलों बल्कि देश के अन्य प्रदेशों से भी लोगों के शामिल होने का अंदेशा है।

गौरतलब है कि हरियाणा शासन ने नूहं बृजमंडल यात्रा की अनुमति देने से मना कर दिया था। मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने श्रद्धालुओं को उनके आसपास के मंदिर में जाने की सलाह दी थी। हालाँकि, विश्व हिन्दू परिषद ने धर्मस्थल की यात्रा के लिए अनुमति लेना जरूरी नहीं बताया था।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

नेचुरल फार्मिंग क्या है, बजट में क्यों इसे 1 करोड़ किसानों से जोड़ने का ऐलान: गोबर-गोमूत्र के इस्तेमाल से बढ़ेगी किसानों की आय

प्राकृतिक खेती एक रसायनमुक्त व्यवस्था है जिसमें प्राकृतिक संसाधनों का इस्तेमाल किया जाता है, जो फसलों, पेड़ों और पशुधन को एकीकृत करती है।

नारी शक्ति को मोदी सरकार ने समर्पित किए ₹3 लाख करोड़: नौकरी कर रहीं महिलाओं और उनके बच्चों के लिए भी रहने की सुविधा,...

बजट में महिलाओं की हिस्सेदारी कार्यबल में बढ़ाने पर काम किया गया है। इसके अलावा कामकाजी महिलाओं के लिए छात्रावास स्थापित करने का भी ऐलान हुआ।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -